ut_sh_

18। Why do we fall? To stand up again. Stronger.

Grid View
List View
Reposts
  • ut_sh_ 100w

    Past

    Sometimes I delve in the past so deep that the intactness of the present vanishes.
    I forget...
    I dive, into the oblivion...
    I dive, into the soulful past...
    I dive, into a sea of sadness that ever lasts...

    © Utkarsh Shukla

  • ut_sh_ 102w

    सीख

    अगर मेरी कश्ती में तूने छेद ना किया होता
    तो शायद उस समय में डूबता ना
    डूबता ना तो तैरना सीखता ना

    आज मैंने तैरना सीख लिया है
    और अब
    ना मुझे तेरी जरूरत है और ना ही कश्ती की
    क्योंकि खुद तैर कर समंदर पार करना मैंने सीख लिया है

    © Utkarsh Shukla

  • ut_sh_ 103w

    मासी

    मासी आपके लिए कुछ लिखने बैठा तो सोचा कहां से शुरू करूं और कहां पर खत्म करूं,
    मेरी मां बोलकर आपका उपकार करूं या दोस्त बोलकर सत्कार करूं। अभी तक आपने जो कुछ किया मेरे लिए उसका आभार करूं और शुक्रगुजार रहूं ,
    या बस मन ही मन गले लगा कर आपको याद करूं और आप की ममता का एहसास करूं।
    क्या करूं क्या ना करूं या फिर इससे अच्छा यह सब कुछ करके बस भगवान की तरह आपका हमेशा सम्मान करूं।

    बचपन से लाड़- प्यार कर आपने मुझे जाना है ,
    और तो और कहीं ना कहीं आप ने अपना पहला बेटा मुझे ही तो माना है।
    मैं जब जब रोता तब आपने ही तो मुझे हंसाया है,
    और आज आपको रोता हुआ देख लगता है यह दुनिया की कैसी माया है।
    अभी तोहफा देने की तो मेरी हैसियत नहीं हुई है,
    लेकिन कहीं ना कहीं इन शब्दों में आपके लिए मेरी अहमियत छुपी हुई है।
    बड़ा होकर आपके लिए मुझे बहुत कुछ करना है ,
    क्या करना है कैसे करना है यह सिर्फ मैं ही जानता हूं।
    आपको मासी नहीं अपनी मां ही मानता हूं ,
    मासी नहीं अपनी मां ही मानता हूं...

    © Utkarsh Shukla

  • ut_sh_ 113w

    Ek

    Ek Baar bhi socha Na usne,
    Ek jhatke mein palat gayi,

    Khaayi thi kasam bar bar usne, na chorungi Mai
    Firbhi girgit jaise ek din Mai rang badal gayi...

  • ut_sh_ 120w

    धूल

    जिक्र-ए-मोहब्बत में सारी शर्तें कुबूल हैं
    मोहब्बत में सारी बगावतें भी भूल हैं
    अगर मेरे प्यार के पैगाम का तुझे इल्म भी ना हो
    तो शायद सारा आसमान भी बस धूल है

    ©Utkarsh Shukla

  • ut_sh_ 120w

    दुख

    मेरे दुख का सबब शायद तू ही है
    क्योंकि तेरी सोहबत में मोहब्बत मानता हूं
    तेरे आंसुओं को पानी नहीं
    शरबत मानता हूं

    ©Utkarsh Shukla

  • ut_sh_ 123w

    From American Beauty...

    Read More

    Life Is Little

    It's hard to stay mad when there's so much beauty in the world.

    Sometimes I feel like I'm seeing all of it at once and it's too much 

    My heart feels like a balloon that's about to burst 

    And then I remember to relax and stop trying to hold on to it 

    And then it flows through me like rain and I can't feel anything but gratitude for every single moment of my little stupid life...

  • ut_sh_ 125w

    Disappointment

    Disappointment is nothing but the gap between
    Expectation and Reality

    Don't expect, you'll never be disappointed!

    ©ut_sh_

  • ut_sh_ 126w

    People

    I wonder whether people change out of tiredness , or they were just selfish all the way along

    ©ut_sh_

  • ut_sh_ 126w

    Patience

    Never mistake patience
    for loss of energy