sonofchaudhary

instagram.com/urbane96

In the world full of Fawad Khans trying to be a Nawazzudin.

Grid View
List View
  • sonofchaudhary 240w

    ●स्वप्न●

    उस रात में भी कुछ बात थी
    ठंडी सिरन हवाओ में
    चीरती एक भाप सी
    देखते ही गुम होने की
    अजीब चंचल मिजाज सी
    एक छोर वो खड़ी
    सूंदर मूरत प्यार की
    मन में जल उठी
    उसे पाने की आस सी
    कूद गए उस दरिया में
    मन में डूबने की लाग थी
    छोर पहुचे ही थे की
    एक लहर सी आन पड़ी
    बहा के हमे ले गयी
    दूर शीतलता के बाहर ही
    स्वप्न के आगोश से
    जब खुली हमारी आँख थी
    आ गए उसी हैरत में
    जहाँ से शुरुआत की।

  • sonofchaudhary 240w

    ●आतंकवाद●

    गुंझाइश् न कर उस खुदा से,
    जो मजहब के नाम पर इसका
    खुद भी शिकार है।

    ©sonofchaudhary

  • sonofchaudhary 240w

    ●वक्त●

    वो वक्त सा...
    जो कभी मिला ही नही।

    ©sonofchaudhary

  • sonofchaudhary 240w

    ●याद●

    किसी ज़माने में मैं भी उसकी अज़ान था
    आज गीता के श्लोक सा कही ग़ुम हूँ उसकी जुबां से।

    ©sonofchaudhary

  • sonofchaudhary 244w

    ●She●

    किसी अदब,अमीर शहर की गुमनाम गली में मिलो तुम
    तरतीब दीवारो को निहारते, यही तो पसंद है तुम्हे
    मैं बावरा निहारु तुम्हे बेतरतीब,
    तुम्ही तो पसंद हो मुझे।

    ©sonofchaudhary