shubham_rai2104

www.instagram.com/shubham_rai2104/

follow me on instagram :- @shubham.rai2104

Grid View
List View
Reposts
  • shubham_rai2104 1w

    Tax

    carried on for the rest of his life with the burden of tax, Even after death, he continued to burn with taxes. Election promises, that the monarchy is indebted to me, Because the government also continued to run on taxes.
    ©shubham_rai2104

  • shubham_rai2104 7w

    वो नन्ही सी कली है, या है कोई सुंदर बला,
    उसकी सुंदरता ही है,शायद कुदरत की कला,
    चाहत है अब इन आँखों में बस डूब जाने की,
    चाहे कीमत ही क्यूँ ना हो,इस दुनिया से उठ जाने की।

    - शुभम राय

  • shubham_rai2104 7w

    होकर आगोश में वो अपने नए रकीब के,
    अब हमको वो जिस्म का भूखा बताते हैं,
    और जो साथ रहकर भी जान ना पाई हमको
    तेरी उस सोच को भी हम बहुत ख़ूब बताते हैं,
    और अब कोई फिर से ना लगा सके ये लांछन,
    इसलिए दोस्त अब हम अपनी जिंदगी तन्हा बिताते हैं।।

    - शुभम राय

  • shubham_rai2104 7w

    सूनी रातों में हमने भी बहुत तकिए भिगोए है,
    उन आंसुओ को खुद ही आंखों में पिरोया है,
    जो आप बेरुखी से अल्फाज़ पढ़ते है जनाब ,
    रख दिल पर पत्थर फिर कलम को चलाया है।।

    - शुभम राय

  • shubham_rai2104 7w

    आत्महत्या

    बस एक गुज़ारिश है खुदा, फिर से वही आंचल दे दे,
    फिर से वही जननी , फिर से वही आँगन दे दे,
    माफ करना मां, हार गया तेरा लाल इन परिस्थितियों से,
    अंतिम सफ़र में हूं , अब आंसू नहीं मां बस अपने चरणों की रज दे दे ।

    माफ करना पापा, आपके सपने बिना पूरे किए जा रहा हूं,
    जो आपने ना सिखाया, बस उस डोली में सज के जा रहा हूं,
    हाथ पकड़ चलना व, ठोकरों से संभलना सिखाया था आपने,
    गंभीर परिस्थिति में विचलित ना होना, क्यूं नहीं सिखाया आपने?

    माफ करना बहन , तेरे बांधे राखी का कर्ज उतार ना पाया,
    लटक गया मैं फंदे पर, डोरी की निशाँ देख कलाई काट न पाया ,

    छोटा कहूं या घर का मालिक, अब समझ नहीं आ रहा ,
    मेरा कमरा,गाड़ी, बैट,साइकल अब तेरा किए जा रहा,
    माफ करना भाई, बड़ा नहीं हुआ तू पर बड़े कर्तव्य दिए जा रहा,
    घर की ज़िम्मेदारी दे, मैं तुझसे तेरा बचपन छीने जा रहा,
    मेरे पीछे खड़े होने पर जो तू इतरा के चलता था, अब वो साथ छीने जा रहा,
    तुझे हर सफलता और खुशी मिले, बस ये दुआ देकर जा रहा,

    अब और नहीं लिख पाऊंगा , कागज़ का पन्ना भीगता जा रहा,
    माफ करना माई,अब तेरा लाल गहरी नींद सोने जा रहा ।



    - शुभम राय
    ©shubham_rai2104

  • shubham_rai2104 8w

    अगर निगाहें उठा मैं ना देखूँ तुझे,
    तो चांद , तेरी ये खुबसूरती तेरे किस काम की ??

    - शुभम राय

  • shubham_rai2104 11w

    सुनो तुम खुश हो ना , तो मेरा हाल पूछने में वक्त जाया क्यूं करते हो,
    मिल गया है ना मुझसे अच्छा रक़ीब तुमको , तो मैं खुश रहूं ऐसी दुआ क्यों करते हो ।।

    - शुभम राय

  • shubham_rai2104 11w

    मां-बाप ❤️

    मैं भी टांग दूं चांद सितारे,मेरे महबूब की खिड़की में
    पर उससे कैसे करूं गुनाह ??
    जिसने फटी धोती में मुझको पाला है।।

    - शुभम राय

  • shubham_rai2104 11w

    सब्र कर दोस्त , उस बेवफा के इश्क़ की भी हिज्र की रात होगी,
    महफ़िल में भी जाऊंगा , जम कर पियूंगा भी,फिर उस दिन उससे मुलाकात होगी ।।

    - शुभम राय

  • shubham_rai2104 12w

    Happy teacher's day

    लिखूं क्या आप पर हे गुरुदेव,
    जिंदगी के हर लेख का श्रेय व लेखन के हर शब्दावली का आधार है आप ।।

    शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं

    - शुभम राय