Grid View
List View
Reposts
  • shrishtimalviya 3w

    जब बैठु में अपने आँगन में कभी,
    मुझे चिड़िया बुलाया करती है ,
    वो गीत सुनाया करती है,
    एक मीठी सी बोली बोले , वो मुझे हसाया करती है ...
    जब बैठु में आँगन में कभी तो,
    वो पेड़ लहराया करते है ,
    वो मस्त- मगन हो जाया करते है
    वो गीत गुनगुनाया करते है...
    जब बैठु में आँगन में कभी तो
    वो फूल मुस्कुराया करते है
    वो मुझे बताया करते है...
    कह कर कितनी अनमोल हो तुम, वो मुझे समझाया करते है.
    जब बैठु में आँगन में कभी तो....

    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 5w

    The fault is not in our star.

    There is nothing wrong with our star...
    The light of the moon was dark in the sky.
    The demon inside me cried out loud.
    I was lost somewhere in the darkness, the light seemed to me like a voice.
    Those trees used to make me feel like I belong.
    Those birds used to hear me singing every day.
    When I came out of that prison, I flew away easily.
    So know how love is with life.
    At first I was attracted to your Stardust character, but your holy spirit was so far away.
    You used to pretend like you fret, baby it wasn't true.
    I remember everything that was just a lie, the rose flower I sent has withered.
    Now only this voice has come out of the heart that live life, your life calls you.
    I don't worry anymore, I just sing all day long, I sing songs of happiness every day.
    One thing is understood that the fault is not in the stars.

    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 7w

    Husn-e-maliih = wheatish beauty
    Hayaa-kosh = shy/shyness

    Read More

    Husn-e-maliih thi aankhon me kajal sajaya karti thi, jab kar du thodi tareef uski wo hayaa-kosh ho jaya karti thi...

    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 7w

    मसला

    Masla mohabbat ka nahi, Masla dard ka hai...
    Wo chodh dete hai is kadar sath, jaise badla koi pichhle janmo ka hai...


    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 7w

    ख़ामोशी का मंजर है सारा पर साथ देने के लिए कोई नहीं है हमारा...
    तकलीफ इतनी है कि अब क्या किसे बताऊं..
    दिल में रख लूं या लबों पर ले आऊं..

    आस मैंने लगाना अब छोड़ दिया है क्योंकि मुझे खुद समझ नहीं आता क्या गलत और क्या सही है...

    परेशानी के बीच में पीसी जा रही जिंदगी है,
    और अब लगता है यही मेरे पापों की चक्की है....

    दिल में दर्द का तूफान है और आंखों में पूरी लहर आंसू की है...

    सोचती हूं कोई एक बार तो आकर पूछ ले मुझसे "सृष्टि" तू ठीक है कि नहीं है??

    लेकिन ऐसा होने की कोई गारंटी नहीं है..
    क्योंकि इस दुनिया में मतलबी लोगों की कमी नहीं है...

    काफी दिनों से ढूंढ रही हूं एक सवाल क्या उसका जवाब भी मेरी गलती है...


    खुद को स्ट्रांग भी कितना करूं जब जीने की आस ही मैंने छोड़ दी है...

    होना था मुकम्मल इतना लेकिन जिंदगी बहुत अधूरी सी है..

    नेगेटिविटी का मंजर थम जाए बस इस होप में अब जिंदगी टिकी हुई है...


    आज अगर दर्द में लिख दूं चार बात इसमें मेरी कोई गलती नहीं है...
    ©shrishtimalviya


    Afsurda meaning Depressed/Dejected (उदास)

    Read More

    Afsurda
    (Read caption)

    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 24w

    Bas 2 baje raat tak hum intezaar karenge, Wo aa gye to thik nai to phir hum neend se pyar karenge...

    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 47w

    नक़ाब

    अब तो ये आइना भी झूठ बोलने लगा हैं।



    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 48w

    Ye kissa koi purana sa,
    Wo ladka koi anjana sa,
    Wo dekha dekha jana sa,
    Wo pyara sa begaana sa...

    Wo surat uski pyari si,
    Wo aankhen kuch pehchani si,
    Wo baatein kuch anjani si,
    Or mein pagli deewani si...

    Wo hassi koi jani pehchani si,
    Wo harkat uski nadaani si,
    Wo raatien bht suhaani si,
    Or Wo ladki bholi bhali si...

    Wo sapna jaise koi apna sa,
    Wo hero meri picture ka,
    Wo ladka ek dum saccha sa,
    Dil jaise koi baccha sa...

    Wo pura din sath bitaya sa,
    Wo afsaana koi sunaya sa,
    Wo mohabbat ka geet koi gaya sa,
    Jaise pyar ka jadoo chaya sa...

    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 51w

    Ihaanat

    Wo mehnat bhi karte hai,
    Wo makkari bhi karte hai,
    Wo sikhne ate hai apke pass,
    Wo maa K paise barbaad nai karte hai...

    Phir nai kehna kbhi kisi ko ye baat,
    Janab,
    Qki wo insaan hai wo dil per bhi le lete hai...

    ©shrishtimalviya

  • shrishtimalviya 51w

    #mirakee #mirakeeworld

    (Mehr-o-maah means sun and moon)

    Read More

    Mehr-o-maah

    एक गुनाह करना हैं।
    उसकी माफी पहले ही मांग लू।
    आपको मेहर-ओ-माह से ज्यादा चमकते देखा हैं,
    क्या इसकी गवाही उन्ही से मांग लू ।।।


    ©shrishtimalviya