shivam_raj

www.instagram.com/i.m.shivam_raj

थोड़ा सा अलग हूँ !

Grid View
List View
Reposts
  • shivam_raj 14h

    किसी का दुःख जानने के लिए
    जरूरी नहीं हैं उसके समीप जाना ,

    बस समीप होने का एहसास ही काफी हैं।
    किस बात का दुःख है ख़ुद-ब-ख़ुद पता चल जाएगा !

    - Shivu

  • shivam_raj 1w

    झूठ उतना ही बोलो जितना झूठ तुम खुद सुन सको !

    - Shivu

  • shivam_raj 1w

    कुछ चीजों का पता न होना ही ठीक होता है ,
    पता होने पर तकलीफ बढ़ जाती है।

    - Shivu

  • shivam_raj 2w

    उसके बाद कोई दोबारा नहीं आया ,
    ये ख़याल भी दोबारा नहीं आया !

    - Shivu

  • shivam_raj 2w

    एक वक़्त आता है ,
    जब आप उस इक शख़्स से या तो
    बेहद मोहब्ब्त करते हो या बेहद नफरत
    मैंने मोहब्ब्त चुना !

    - Shivu

  • shivam_raj 2w

    कितना फर्क है न तुममे और मुझमे ,
    तुमने सब कुछ बदला घर बदला शहर बदला अपने
    आस पास के लोग बदले और इक मैं हूँ जिसने अब तक
    अपना नंबर नहीं बदला !

    - Shivu

  • shivam_raj 3w

    प्रेम क्या है

    प्रेम जिसके कल्पना मात्र से ही चेहरे पर मुस्कान आ जाए
    चेहरा खिल उठे फिर चाहे बाहर तूफान ही क्यूँ न आया हो दिल में प्रेम का दीप जलता रहता है चेहरे पर सुकून साफ साफ दिखाई पड़ता है फिर चाहे मौत सामने क्यूँ न आ जाएं वो प्रकाश इस अँधेरे पर भारी पड़ता है कुछ ऐसा ही तो होता है "प्रेम" ।

    - Shivu

  • shivam_raj 3w

    दिल लगाने को शहर में लोग बहुत थे ,
    लेकिन मसला ये था फिर भी दिल लगा नहीं !

    - Shivu

  • shivam_raj 3w

    होशियार भी कभी ना कभी मूर्ख बनता है
    लेकिन मूर्ख कभी होशियार नहीं बनता !

    - Shivu

  • shivam_raj 5w

    ये दुनिया अगर मिल भी जाए तो क्या ,
    उसके बगैर फ़ीकी लगेगी बिना शक्कर की चाय की तरह !

    - Shivu