sandyhurdler

instagram.com/sandyhurdler

वीर भोग्य वसुंधरा ।।

Grid View
List View
Reposts
  • sandyhurdler 2h

    तुम्हारे बाद

    तुम्हारे बाद हमने किसी से बात नही की,
    तुम्हारे बाद हमने बस सबका जवाब दिया है।

    ©sandyhurdler

  • sandyhurdler 1d

    कोशिश

    मेरी कोशिश हैं खुद को बिगाड़े रखना,
    ज़िद ये है कि, किसी को मैं अच्छा ना लगूं।।


    ©sandyhurdler

  • sandyhurdler 2d

    ✍️

    Read More

    क़लम

    क़लम में ज़ोर जितना है, जुदाई की बदौलत है।

    मिलन के बाद लिखने वाले लिखना छोड़ देते हैं।।


    ©sandyhurdler

  • sandyhurdler 3d

    वक़्त

    बुरा वक़्त सबका आता है,

    बस आपकी वजह से किसी का बुरा वक़्त नहीं आना चाहिए।

    ©sandyhurdler

  • sandyhurdler 4d

    यादें

    अलविदा कहने के ठीक बाद, वो ट्रेन पर चढ़ी
    और मैं मुस्कुराते हुए, उदासियों में उतर गया।


    ©sandyhurdler

  • sandyhurdler 5d

    Even sacrificing one's own happiness for someone's good is love. Isn't it ?

    Read More

    Don't you miss her ??

    I do, every day. But sometimes,
    Some people are better staying in

    Your memories than in your life.

  • sandyhurdler 1w

    I asked my Father should I help someone who needs me ?
    Father said even if someone doesn't need you, you should still help them.
    I asked my father again, to what extent I should help ??
    Dad smiled and said if you are helping someone, never think about the limit, just helped them out.
    Sometimes I think dad was wrong, because people misunderstand you when you help someone by going beyond limits, even if you have pure intentions.

    ©sandyhurdler

  • sandyhurdler 2w

    ख्वाहिश

    उसकी आखिरी ख्वाइश थी मुझसे बात मत करो
    उसके प्रेम में मैं ये न करता तो क्या करता ?


    ©sandyhurdler

  • sandyhurdler 6w

    B Positive

    मुझे नहीं लगता कि इंसान को हमेसा पॉजिटिव रहना
    चाहिए, कुछ लोग की एक नित्यक्रिया होती है,
    बी पॉजिटिव बोलते रहना।
    हमेसा पॉजिटिव नहीं रहा जा सकता, उदास होना,
    गुस्सा होना, नाराज होना, हताश होना, डरना एवं चिंतित
    होना भी ज़रूरी है ये सब हमेसा एक इंसान बने रहने में
    मदद करती है नहीं तो हम कबका मशीन हो चुके होते।।


    ©sandyhurdler

  • sandyhurdler 7w

    कल्पना

    मेरी कल्पनाएँ जादुई नहीं होती, मेरी कल्पनाओं में
    रत्ती भर भी जादू होता तो मैं एक लड़की की डायरी
    में हज़ारों खत लिख के वापिस अपने कमरे में लौट
    आता. मैं चाहता था कि मैं अपनी कल्पनाओं में,
    अभी-अभी जन्में उस बच्चे जैसा हो जाऊं जो धुप के
    सुनहरे पत्तों को रौंदते हुए सूरज को चूम लेना चाहता है

    मेरी कल्पनाओं की अच्छी और सबसे बुरी बात यही है
    कि मैं कल्पनाओं में भी बस लड़की के डायरी में खत
    लिखने जैसे बात ही सोच पाता हूँ।

    ©sandyhurdler