riya_bakshi

भारतीय ����❤

Grid View
List View
Reposts
  • riya_bakshi 1w



    गलतफहमी
    वैसे इतना महत्व हम किसी को नहीं देते
    कि कोई हमे कम आंकने की भूल कर बैठे।
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 1w

    हसीं ❌

    हँसी तुम्हारी नाजायज़ समझ नहीं आती है।
    हम जानते हैं अब हमारी सूरत नहीं भाती है।
    पर तुम थोडा कम हँसना हम पर कयोंकि दूसरों
    पर हँसना इंसान की बेशर्मी कहलाती हैं।
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 1w

    उम्मीद

    उम्मीद करना किसी से अब मुझे अस्वीकार है।
    जो घमंड से भरा हो उससे स्नेह करना बेकार है।
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 1w

    बे-लगाम जुबान

    तुम्हारी बे-लगाम जुबान का कसूर है।
    तभी अपने तुम्हारे तुमसे दूर है।
    ये जुबान ना जाने क्या क्या करवाये।
    कभी खुद का सम्मान बढ़ाये ।
    कभी अपनी ही नजरें झुकाये।
    ना लगाई जुबान पे लगाम तो इंसान बड़ा पछताये।
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 3w

    मन ‍♀️

    मन दुखाकर किसी का कभी चैन नहीं मिलता।
    जिसके अनेक चेहरे हो वो चेहरा नहीं खिलता।
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 3w

    पसंद

    खुद की पसंद भी कभी नापसंद होती है।
    क्या उसमे बे-वजह की नाराजगी की गुंजाइश होती हैं।
    झूठे किरदार निभाते निभाते याद नहीं आई हमारी।
    इतनी जल्दी पसंद बदल गई समझ नहीं पाए तुम्हारी।
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 4w

    आना-जाना

    पहले आना फिर चले जाना।
    पहले जानना फिर भूल जाना।

    आ कर चले जाने में हर बार कोई न कोई बहाना है।
    जब हर बार जाना है तो फिर लौट कर क्यो आना है ?
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 6w

    बे-वजह ‍♀️

    बे-वजह खुद को सही साबित करते करते एक बात सीख गया।
    जाने के लिए कैसे- कैसे बहाने बनाए जाते है ये दिख गया।
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 6w

    समझाना

    इंसान किसी को समझाने में असमर्थ हैं।
    जो बात को ना समझें उसे समझाना व्यर्थ है।

    अपनी मनमानी करते कोई किसी की बात समझता नहीं।
    क्यो क्या अपनो के दूर जाने से किसी को कोई फर्क पड़ता नहीं ?
    ©riya_bakshi

  • riya_bakshi 6w

    भाई का birthday

    मेरी चेहरे पर अपार खुशी लाया।
    मेरे भाई अपूर्व का birthday आया।
    भाई मेरा हर बात में अपना तर्क बताता है।
    भाई होने का अच्छा फर्ज निभाता है।
    मेरे बारे मे उसे जो भी बोले आकर सब बताता है।
    कभी कभी अपने इसी स्नेह से मुझे जीताता हैं।
    भाई मेरा खाने के मामले में अनोखा न्यारा है।
    इसलिए मेरा भाई ही मेरे को सबसे प्यारा है।
    Happy birthday apurav भाई
    ©riya_bakshi