• lafzgiri 65w

    चंद बूंदो को यूं बिखरना
    बादलों का हल्का सा गरजना
    मंज़र था पुराना
    मगर था कुछ खास
    घर के आंगन में वादियों का था अजब सा एहसास...

    ©lafzgiri