• a_poet_in_the_north 85w

    What happens when someone just leave without no reason no explainations and just considering theirself as a person to be hated ,but what you can do for all that when you didn't even get the chance to fix what is broken and what you get is the acceptance for that situation in which you can't hate nor even love that loved one......
    #writersofindia #writers_den
    #apoetinthenorth

    Read More

    तू ,तू है तुम नहीं |

    तू अब वो नहीं जिसे माना मैने खुदा था कभी,
    डोर दिल कि बांध मुझसे सपने बुन बैठा और कहीं,
    अपने जिस्म कि रातें तो रंगीन कर रहा है,
    पर उस रूह के उजाले का क्यूं कहीं ज़िक्र तक नहीं |

    अफवा उस साज़िश कि जो लिख रहा था तू थी सुनी,
    अन्जाम हाल ऐ दिल का होगा बुरा था मुझे यकीं,
    बस कबूला तूने कि है बेवफा मिजास तेरा,
    इसलिए सज़ा माफ है तेरी बस अब तू , तू है तुम नहीं |
    ©a_poet_in_the_north