• tariqu 11w

    हर रात की तरह
    ये रात भी
    समेट लेगी,आंसू सारे

    तुम अपना समझ
    बाहों में इसकी
    रोकर तो देखो

    बड़ी अंधेरी है
    अकेली सी
    ये रात चुप चुप सी

    रौशनी बन तुम
    तन्हा रात के
    होकर तो देखो..


    ©tariqu

    Read More

    ❤️Tarani❤️