• shadabmalik 17w

    मैं तुम्हारी कुछ मिसाल तो दे दूँ…….
    मगर जानां… !

    जुल्म ये है कि …
    बे-मिसाल हो तुम”