• deeptimishra 17w

    ❤️��
    Haa ,,bewajh mulakat nahi hoti
    Par sabme voh baat nahi hoti..

    Read More

    बहुत महंगा हैं तुम्हारा इश्क
    इसे तुम तक ही रहने दो न

    मैं जख्मी सा परिंदा हु
    मुझे जमीन पर ही रहने दो न

    मैं सपनों के महल को जानता हु
    मुझे घोसले को अपना कह लेने दो न

    मैं घायल हु अपने जस्बातो से
    मुझे सहमा ही रहने दो न

    बहुत महंगा हैं तुम्हरा इश्क
    इसे तुम तक ही रहने दो न..

    ©deeptimishra