• light_flame 148w

    लोग कहते हैं "वो मोहब्बत ही
    क्या जिसमेंं दीवानगी न हो!"
    पर सच तोह ये है की सच्ची मोहब्बत
    सिर्फ दीवानगी से नही बल्कि वफ़ादारी
    से पता लगती है...क्यूंकि दीवानगी तो
    लोग ऐयाशी में भी दिखा जाते हैं...
    पर वफ़ा की एहमियत सिर्फ वो ही लोग
    जानते हैं जो अपनी ज़िन्दगी में इंसानों
    के दिल और आत्मा से मोहब्बत करते हैं
    और अपनों को धोका देने की बात सोच
    भी नहीं सकते।
    सच्चे मोहब्बत में एक दूसरे के लिए
    वफ़ा और इज़्ज़त होती है
    न कि महज़ दीवानगी...

    ©light_flame