• hindisahitya 45w

    जो भी है  मन में बोल दो,


    चुप रहोगे तो अफसोस करते रहोगे।
    ©hindisahitya