• amar61090 29w

    कमी

    कमी इंसान में नहीं,
    कमी हमारी अपेछाओ में होती,
    जो हम किसी से भी,
    इतनी उम्मीद लगा लेते हैं,
    जितना वो हमारे बारे में क़भी सोंचते भी नहीं,
    ©amar61090