• abhinavmishra11 17w

    अब तुम ख्वाइशों में भी नही
    तुम ज़िन्दगी हुआ करते थे
    ©abhinavmishra11