• eternal_touch 13w

    'कल' के वादों में जाने कितने आज निकल गये,
    उनकी बेपरवाही देखकर भी लबों पे हसी है क्योंकि बेरुखी और दर्द तो दिल में राज़ बनकर ही रह गए|
    ©eternal_touch