• hylzarie 27w

    गलतीयां बहुत करती हुँ
    गलतियो पर समझाओगे ना
    अगर मैं रूठ जाऊँ मुझे मनाओगे क्या??

    गुस्से मे कह दूँ दूर जाने को
    फिर भी मेरे करीब आओगे ना
    थोड़ा सा डाँट कर गले से लगाओगे क्या??

    नही आता अपनी बातों को समझाना
    तुम समझ तो पाओगे ना
    नही कर पाती मैं भरोसा
    भरोसा करना सिखा पाओगे क्या??

    गिर जाऊँ मैं अगर तो
    हाथ थाम के मेरा पूरी जिंदगी चल पाओगे ना
    तुम मेरा साथ आखरी सांस तक निभाओगे क्या??

    हाँ थोड़ा डर जाती हुँ
    हाथ पकड़ मेरा मैं हुँ साथ ऐसा कह तो दोगे ना
    नही बोल पाती हर चीज़ मैं
    तुम बिन कहे मेरी ख़ामोशी पढ़ लोगे क्या??

    मेरी इम्पर्फेक्शं को पसंद तो करोगे ना
    मैं जैसी हूँ एक्सेप्ट करोगे क्या??
    ©Aashi