• samikshaam 87w

    घमंड़

    इतना भी घमंड मत करो कि किसी को आपके शब्द खरीदने पड़े।
    ©samikshaam