• choudhary__leela 143w

    दाग-ए-हसरत दिल, व्यथा बहुत है....
    आंखों में गम,लबो पर चमक बहुत है.....!!

    खुद ही बनाते है हम, मायुस जिंदगी को....
    मुस्कुरा कर जी लें तो, खूबसूरत बहुत है....!!


    ©_Leela