• doonite 52w

    क्या कभी रात को सिर्फ मेरे लिए देर रात तलक जागी है क्या,

    मैं सोचूं हर रोज़ रातों को तुझे लेकिन इजहार नहीं किया

    क्या तू भी इजहार करने से घबराती है क्या।

    ©doonite