• soulfultalks 47w

    थोड़ी दूर निकल जाओ तुम भी अब,
    थोड़ी दूर निकल आयी हूँ मैं।
    अलग अलग ही सही बारिश में भीग लेते हैं,
    धूप में खड़े खड़े काफि चीज़ें जल सी गयी हैं।

    ©soulfultalks