• artiest_ajay 81w

    कि उतना ही उड़ जितनी तेरी औकात है,
    हमसे उड़ान की बाज़ी तेरे बस की नहीं...

    गर हमने भरी उड़ान आसमान छूने की,
    ज़िंदगी की कसम, रहेगी तेरी हस्ती नहीं...!


    ©artiest_ajay