• kpardeep 31w

    पापा

    आंख खुली तो अपने आप को आपकी गोद में पाया मैंने, चलते चलते गिरा जमीन पे कई बार तो उठाया आपने, मैं यूहीं बड़ा नहीं हो गया 'पापा' जिन्दगी का हर फलसफा 'प्रदीप' को पढ़ाया आपने..


    ©kpardeep