• iamfirebird 83w

    इश्क सच्चा हो भी अगर, तड़प ज़रा भी तिरी हरकतों में ना दिखने पाऐं
    यूं ना हो तिरे दिल की तंग गलियों से गुजरने पे,अल्फाज मिरे कुचले जाएं.
    ©iamfirebird