• ajaypatel 42w

    कुछ सपने और कुछ हकीकते अधूरे छोड़ आया हूं मैं,
    बेहतर ज़िंदगी जीने के लिए एक बेहतर ज़िंदगी छोड़ आया हूं मैं।
    ©ajaypatel