poetryshala

www.instagram.com/Poetryshala

Follow Me On Instagram Link Bellow

Grid View
List View
Reposts
  • poetryshala 37w

    ज़िंदगी की तपिश को सहन किजिए जनाब,अक्सर वे पौधे मुरझा जाते हैं, जिनकी परवरिश छाया में होती है।

    ©poetryshala

  • poetryshala 37w

    ज़िन्दगी के हाथ नहीं होते, लेकिन कभी कभी वो ऐसा थप्पड़ मारती हैं जो पूरी उम्र याद रहता है।

    ©poetryshala

  • poetryshala 37w

    ना तंग कर जीने दे ऐ जिन्दगी तेरी कसम हम तेरे आगे हार गये है।

    ©poetryshala

  • poetryshala 37w

    चुपके से हम ने भेजा था एक गुलाब उसे,
    खुशबू ने सारे शहर मैं तमाशा बना दिया..!

    ©poetryshala

  • poetryshala 37w

    झूठी शान के परिंदे ही ज्यादा फड़फड़ाते हैं,
    बाज़ की उड़ान में कभी आवाज़ नहीं होती।
    ©poetryshala

  • poetryshala 37w

    Aaj ka ek vichar kal smachar bhi ban sakta hai bas smachar acha hoga ya bura woh aape vichar pr nirbhar hai...

    ©poetryshala

  • poetryshala 37w

    हजारो महफिले हैं और लाखों मेले हैं,
    लेकिन जहाँ तुम नही वहाँ हम बिलकुल अकेले हैं।

    ©poetryshala

  • poetryshala 37w

    लवो को छू कर यूँ बहकाया न करो,
    यूँ ख्वाबो में आकर इश्क महकाया न करो।

    ©poetryshala

  • poetryshala 37w

    हर फ़िज़ा में तेरा रंग है, तू दूर रह कर भी मेरे संग है।

    ©poetryshala

  • poetryshala 38w

    नाराजगी कभी वहाँ मत रखियेगा जहाँ...
    आपको ही बताना पड़े की आप नाराज हो...

    ©poetryshala