Grid View
List View
Reposts
  • myjourney10012001 7h

    शुक्रिया ,

    Read More

    हां ,
    मैंने सब हदें पार की तुम्हारे खातिर
    और तुमने भी तो कितना जतन किया ,
    मेरे प्यार को तुमने एहसान कह दिया ।।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 8h

    के मन भी अब सबके हाथों की कठपुतली सा हो चला हैं ।।

    Read More

    के मार लेती हूं मन ,
    इस बार भी
    हर बार की तरह ।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 1d

    जाने दें ,
    ये भी जाने दे
    दर्द को थोड़ा सा मुस्कुराने दे ।

    Read More

    खूब इच्छा हैं मेरी ,
    तुम्हें लिखने की
    पर कैसे लिखूं कुछ सूझता नहीं ।
    शब्द से कम पड़ने लगते हैं ,
    कर थर - थर कांपते लगते हैं ।
    तुम्हें लिखते वक्त
    फकत दिल बेहाल हो जाता हैं ,
    बिन आंसू बहाए ,
    ये दिल ही दिल में रोता हैं ।
    लफ्ज़ जुबां पे ही रुक जाते हैं
    होठ थर - थर कप - कपाते हैं ,
    तुझसे खूब मन ही मन बतियाते हैं ,
    तुम नहीं सुनते इसलिए निराश हो जाते हैं ।
    मुझसे तुम्हारी शिकायत बताते हैं ,
    खूब नाराज़गी जताते हैं ।
    कहते हैं तुम्हें सज़ा दूं ,
    पर बस का नहीं हैं मेरे जान जाते हैं
    निराश दिल के ख्वाब हार जाते हैं ।।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 1w

    बेहतर हैं आ जाना ।।

    Read More

    भले मत आना या आ जाना क्योंकि ,
    तुम्हारे आने की खुशी भी मार देगी ।
    और न आने का ग़म भी ।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 1w

    फ़िक्र मत करो ,
    बस मुझे तुम्हारी अपनी होना हैं ।
    तुम्हें ,
    अपना नहीं करुंगी ।।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 1w

    कहो ?

    Read More

    तुम
    मन को मेरे ,
    कुछ जाने - पहचाने से लगते हो ।
    जैसे मेरा अक्श ही हो तुम ,
    इसलिए मन तुम्हें
    तलाशता रहता हैं ।
    बाकी मैं ही तो हो तुम ,
    और मुझ में तुम हो ।
    कहो तो ,
    दूर हो जाऊं
    करीब से होकर ।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 1w

    सुनो ,
    भले करीब मत रहो
    पर दूर मत जाओ ।।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 1w

    ये कैसी मुस्कान हैं ?

    Read More

    क्यूं आजकल चहरों में हंसी तो हैं ,
    पर ख़ुशी नहीं ।।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 1w

    तुम ही समझा दो ।

    Read More

    हर आंखें क्यों नम सी नज़र आती हैं ,
    समझ नहीं आता ये उनका खुद का या मेरा दर्द बताती हैं ।।
    ©myjourney10012001

  • myjourney10012001 1w

    के कुछ चुभा पैर में कांच सा ,
    शायद ये वही तो नहीं जो बीज के साथ बोया था ।।
    ©myjourney10012001