Grid View
List View
Reposts
  • miss_sia 1w

    ❣️

    सुनो तुम अब वापस मत आना!
    अब ख़ुश हुँ मैं इस जुदाई से,
    अब सुकून सा है इस तन्हाई में,
    तुम अब मेरे ख्यालों मे मत आना,
    सुनो तुम अब वापस मत आना!
    नींद भी आजकल मुझे बखूबी आती हैं,
    खामिया भूल चुकी हुँ मैं !
    आजकल मुझमे बस खूबी आती हैं,
    तुम अब मेरे ख्वाबों मे मत आना,
    सुनो तुम अब वापस मत आना!
    खुदसे ईश्क़ करने लगी हुँ मैं,
    आजकल खुदपे ही मरने लगी हुँ मैं,
    वो बहाने तुम फिरसे मत बनाना ,
    ख्यालों का महल तुम फिर से मत सजाना ,
    सुनो तुम अब वापस मत आना!
    खुदके के साथ वक़्त,
    आजकल ज्यादा बिताती हुँ मैं!
    खुदके किस्से सुनती हुँ,
    और खुदको ही कहानिया सुनाती हुँ मैं!
    तुम अब मुझसे बहुत दुर चले जाना ,
    सुनो तुम अब वापस मत आना!
    ©miss_sia

  • miss_sia 3w

    ❣️

    तुमसे मिलने से पहले, मानो प्यार मेरे लिए बना ही नहीं था!
    तुमसे मिलने के बाद ,मानो हर चीज अच्छी लगने लगी हैं!
    और तुम्हें पता हैं क्या?
    ये जो मेरे शक्ल हैं annoying सी,
    आजकल मैं इसपे भी इतराने लगी हूँ!
    वैसे तो आता नहीं हैं मुझेे सजना सवरना,
    लेकिन आजकल मैं इन आँखों मे काजल लगाने लगी हुँ!
    ये नाक जिसपे हमेशा गुस्सा रहता था,
    अचानक से मैं अब मुस्कुराने लगी हुँ!
    ये होठ जो तुम्हारी तारीफ़ करते नहीं थकते ,
    इनको भी आजकल मैं सवारने लगी हुँ!
    वैसे तो दिखती मैं कुछ खास नहीं,
    पर अब बार बार खुदको आईने में निहारने लगी हुँ !
    आँखे बंद करती हुँ तो, बस तुम्हारा ही ख्याल आता हैं!
    आँखे खोलू तो, बस एक ही सवाल आता हैं!
    क्या सच में मोहब्बत इतनी खूबसूरत होती हैं?
    क्या सच में मोहब्बत तुम्हारे जैसे होती हैं?
    ©miss_sia

  • miss_sia 5w

    So if you don't know इतनी बड़ी होना कितनी बड़ी होना होता हैं
    Then let me tell you तुम इतनी बड़ी हो की एक घर को संभाल सकती हो
    लेकिन तुम इतनी बड़ी नही हो की अकेले ख़ुद को संभाल सकती हो.....Mtlb samjh rhe ho na?

    Read More

    ❣️

    तुम अपने दोस्तों के साथ
    Night out के लिए, बहुत छोटी हो!
    अरे तो अब कब करोगी शादी?
    तुम तो इतनी बड़ी हो!
    बड़ों के बीच मे तुम मत बोलो!
    तुम अभी छोटी हो !
    उम्र निकलती जा रही है,
    शादी कब करोगी तुम तो इतनी बड़ी हो !
    तुम्हे क्या पता सामाज का,
    चुप रहो!
    तुम अभी बहुत छोटी हो!
    समाज क्या कहेगा, लड़की अभी भी घर पे हैं!
    शादी कब करोगी?
    तुम तो इतनी बड़ी हो!
    घर की बातों से तुम दुर रहो,
    तुम्हारी राये किसने मांगी हैं?
    तुम अभी काफी छोटी हो!
    अरे अपना घर कब बसओगी,
    हाथ में मेहंदी कब लगाओगी
    तुम तो इतनी बड़ी हो!
    ©miss_sia

  • miss_sia 7w

    Moral of the story is.......
    वक़्त किसी के लिए नहीं ठहेरता ��

    Read More

    ❣️

    वो वापस भी आया तो उस वक़्त,
    जब मेरे पास वक़्त बचा ही नहीं!
    ©miss_sia

  • miss_sia 8w

    ❣️

    Tears are the proof
    That Emotions become physical,
    And the shivering lips
    Her eyes become magical,
    When your heart beat getting faster
    And everything seems logical,
    When you found chemistry with her
    Without any chemical,
    When you are unromantic monk
    But suddenly your words turns into poetical,
    When there is no future with her
    But you are trying to make it historical,
    When you want to hold her hand at any cost
    Whether the situation become critical,
    This is the love
    Which you want to be turned into epical,
    ©miss_sia

  • miss_sia 8w

    ❣️

    सूखे पत्तों सी हैं जिन्दगी,
    बस पतझड़ का इंतज़ार हैं ,
    सुनो तुम कल मिलने मत आना ,
    कल एतवार हैं!
    की भाग दौड़ की जिन्दगी से, मैं अब थक चुकी हूँ!
    रोज़ रोज़ के कामों से, मैं अब पक चुकी हूँ!
    परसों फ़िर सोमवार हैं!
    सुनो तुम कल मिलने मत आना,
    कल एतवार हैं!
    लोगों की बातों से, अब मैं अक चुकी हूँ !
    जिम्मेदारी की चादर से, मैं अब पूरी तरह ढक चुकी हूँ!
    मुसीबतों से सजा ये सारा बाज़ार हैं,
    सुनो तुम कल मिलने मत आना,
    कल एतवार हैं!
    खुदसे गुफ़्तगु करे ज़माना होगया,
    खुदका ख्याल रखना मानो पुराना होगया,
    दुसरो को ख़ुश करने मे लगा पुरा संसार हैं!
    सुनो तुम कल मिलने मत आना,
    कल हफ़्ते भर का एक ही एतवार हैं!
    ©miss_sia

  • miss_sia 9w

    Bro it's you who asked me... Now what I supposed to do

    Read More

    ❣️

    He asked me to treat him like I treat everyone else
    And now he is mad
    ©miss_sia

  • miss_sia 9w

    ❣️

    माफ़ तो उसको मैंने कब का कर दिया था,
    बस दिल से निकाल नहीं पाई हूँ!
    वो कब का आगे बढ़ चुका हैं,
    शायद मै अभी भी वहीं हूँ!
    वो अगर मंजिल हैं मेरी,
    तो मैं अभी भी भटकती राही हूँ!
    वो मेरी पसन्द हैं,
    लेकिन मैं ना कभी उसको भायी हूँ!
    अगर उसका चले जाना गलत हैं,
    तो क्या मैं सही हूँ?
    वो अगर बदल चुका है एकदम,
    तो क्या मैं वही हूँ?
    ©miss_sia

  • miss_sia 10w

    ❣️

    वक़्त कैसा भी हो,
    गुजर जायेगा!
    आज तुम तन्हा हो ,
    कल उसका दिन भी आयेगा!
    आज तुम उसे पसन्द नहीं,
    कल तुम्हे भी न वो भायेगा!
    आज वो तुम्हारे बिन ख़ुश हैं,
    कल तुम्हारा दिल भी,
    कोई और बहेलायेगा!
    आज उसकी गोद मे सिर रख तेरा दिल चाहता हैं,
    कल तेरा माथा कोई और सहेलायेगा!
    वक़्त ही तो हैं ,
    बदल जायेगा!
    ©miss_sia

  • miss_sia 16w

    ❣️

    हाँ अब हम बात नहीं करते,
    ये वो सबसे कहता हैं!
    लेकिन Insta की search list मे,
    उसका नाम अभी भी सबसे पहले रहता हैं!
    Story viewers का भी रिश्ता,
    अब खत्म हो चुका है हमारा!
    उसकी insta की छोटी सी dp ही,
    हैं अब एक मात्र सहारा!
    अब उसके online और last seen से ,
    मुझे फ़र्क नहीं पड़ता हैं!
    लेकिन कहीं न कहीं मेरा दिल,
    अभी भी उसी पे मरता है!
    की सदियों बीत गये ,
    उसे वास्तव मे देखें,
    लेकिन उसकी तस्वीर
    अभी भी आँखों के सामने हैं !
    डर हैं कहीं ये धुंधली न पड़ जाए,
    अभी भी कई यादें उसकी मुझे थामने हैं!
    अब उसे text करके ,
    उसका वक़्त जाया नहीं करती मैं!
    उसका msg आये तो reply ठीक हैं,
    उसे ignore करके पराया नहीं करती मैं!
    हाँ सच हैं की अब हम बात नहीं करते,
    लेकिन क्या ये भी सच हैं?
    की हम एक दूसरे को याद भी नहीं करते,
    नहीं न?
    ©miss_sia