miral_parveen

listening music writting poem

Grid View
List View
Reposts
  • miral_parveen 1w

    #@chahat-samrat#@abhi-mishra#@alka-tripathi

    Read More

    उसकी हसरत तो मुझे पाने की थी
    पर वो कमबख्त मिराल को खोने से ना डरा
    ©miral_parveen

  • miral_parveen 4w

    उसके नाम से बदनाम मैं पूरे शहर में हुई
    पर अफसोस सिर्फ उसका नाम ही मेरे साथ रहा
    काश वो भी मेरे साथ होता
    ©miral_parveen

  • miral_parveen 8w

    मैंने उसे बेइंतहा मोहब्बत किया
    सायद तभी वो मुझे खोने से ना डरा
    बेवफ़ा ना होने के बाद भी बेवफ़ाई किया
    जिससे उसकी नज़र में मेरा सिलसिला बना रहा
    ©miral_parveen

  • miral_parveen 8w

    वो इश्क़ बाज़ी कर रहे थे और हम इश्क़ कर बैठे थे
    वो दिल बहला रहे थे और हम दिल्लगी कर बैठे थे
    वो ग़म में मुस्कुराना सिखा रहे थे और हम हमदर्द समझ बैठे थे
    वो मेरा हाथ पकड़े थे भीड़ से बचाने के लिए और हम हमसफ़र समझ बैठे थे
    हम जिस इश्क़ को इबादत समझ बैठे थे
    वो इश्क़ एक तरफा निकला जिसे हम दो तरफा समझ बैठे थे
    ©miral_parveen

  • miral_parveen 9w

    वो मेरी मोहब्बत तो बन गए
    पर हमदर्द ना बन सके
    रोता हुआ तन्हाई में यूं छोड़ गए
    मुड़ कर मेरे आंसू न पोंछ सके
    उनके हर सितम को हंस कर मुकर्रर किया था मैंने
    फिर भी मेरी मोहब्बत को न समझ सके‌###
    ©seemachaudhary__

  • miral_parveen 11w

    शर्त

    सुनो जाना
    चलो हम दोनों ही दुआ करते हैं
    देखते हैं किसकी दुआ क़ुबूल होती है
    मैं दुआ में तुम्हें मांग लुंगी और
    तुम अपनी दुआ में खुदा से मुझसे दूरी मांग लेना
    अगर मेरी क़ुबूल हुईं तो तुम मेरे हो जाना
    और अगर तुम्हारी क़ुबूल हुई तो
    तेरी दुनिया से दूर मुझे होगा जाना।।।।
    सुनो जाना
    ©miral_parveen

  • miral_parveen 14w

    हे ब्रज मोहन हे मुरली धर
    करना मेरा उद्धार
    ना चाह मुझे तेरे दिल में बसने की
    ना चाह तेरी राधा बनने की
    बस हूं तेरे दर्शन को प्यासी
    बस यही याचिका है मेरे मोहन
    सुन लेना मेरी पुकार
    हे मनमोहन हे वंशीधर
    करना मेरा उद्धार
    बन जाऊं मैं मीरा तेरी
    छोड़ दूं ये दुनिया सारी
    बस हूं तेरे चरणों की दासी
    हे ब्रज मोहन हे गोविन्द
    करना मेरा उद्धार
    ©miral_parveen

  • miral_parveen 15w

    राखी

    बड़ा अनोखा और अनमोल रिश्ता होता है
    दुनिया के हर रिश्तों में सबसे पावन रिश्ता होता है
    जिसे कोई तोड़ नहीं सकता ये ऐसा बंधन होता है
    मां जैसा ममता वाला प्यार पिता जैसे करता है
    ये मेरा भईया है जो इतना सब करता है
    लड़ना झगड़ना और मनाना खूब होता है
    खुद रूला दें तो कोई बात नहीं होता है
    कोई और रुलाए दे तो उसका खैर नहीं होता है
    बहन के लिए पूरी दुनिया से भिड़ने को तैयार होता है
    बहन की खुशीयों का अकेला सौदागर होता है
    इस लिए हर भाई अपनी बहन के लिए ख़ास होता है
    बड़ा अनोखा और अनमोल रिश्ता होता है
    ©miral_parveen

  • miral_parveen 15w

    सुनो जाना
    मुझे तुम से इश्क़ मेरे चाय की जैसे है
    अगर सुबह-शाम ना मिले तो मेरा सर दुखने लगता है
    ©miral_parveen

  • miral_parveen 16w

    सुनो जाना
    जब साथ चल नहीं सकते
    तो मेरे तरफ क़दम बढ़ाए क्यूं थे
    जब मेरे हमराही बन नहीं सकते
    तो मेरा हाथ थामे क्यूं थे
    जब मेरे हमदर्द बन नहीं सकते
    तो मेरे दर्द बांटे क्यूं थे
    जब मेरे हो नहीं सकते
    तो मुझे गले लगाए क्यूं थे
    चलो माना की तुम्हारी हजारों मज़बूरीयां थी
    तो मुझे हजारों ख़्वाब दिखाए क्यूं थे
    ©miral_parveen