materialisticsoul

In search of hindi erotica writer

Grid View
List View
  • materialisticsoul 5w

    भेज रहा हूँ वापस तुम्हारा कुछ सामान
    बालों की क्लिप अपने पास रख रहा हूँ।
    ©materialisticsoul

  • materialisticsoul 5w

    ©materialisticsoul
    मेरी रूह का लिबास है
    तेरी मोहब्बत।

  • materialisticsoul 6w

    इत्र रास अब आते नहीं
    जब से ओढ़ी है खुशबू तुम्हारी।
    ©materialisticsoul

  • materialisticsoul 6w

    बैसाखी शब्दों की अब ज़रूरी नही
    खामोशी अपने पैरों पर है।
    ©materialisticsoul

  • materialisticsoul 6w

    कितना तिलिस्मी था वो जिस्म
    जो महकता ज़हन में आज भी है।
    ©materialisticsoul

  • materialisticsoul 6w

    इश्क की स्याही पर कुछ यूं फिसला उसका बदन
    गज़लें मोहब्बत की फिर लिखता रहा सारी रात।
    ©materialisticsoul