kukhyat_shayar_

www.instagram.com/kukhyat_shayar_

Doesn't matter Who are you..but matter is that what are you...Dhiमान

Grid View
List View
Reposts
  • kukhyat_shayar_ 28w

    मैं मृत्यु को भी लगा लुं गले..
    वो लगे तो सही ..
    एक अरसा..मैं रहा तन्हा ..
    मृत्यु को दिलचस्पी आने लगी तो..
    मृत्यु ही सही ।
    ©kukhyat_shayar_

  • kukhyat_shayar_ 28w

    बचपन की किताब

    कोई उन यादों को मन में घोल दो,
    मेरे बचपन की किताब फ़िर से खोल दो...

    वो निक्कर वाले यार,
    वो कुल्फ़ी वाली यारी़
    वो लट्टु लेना हाथ में,
    करनी पिठ की सवारी
    याद आती है तुम्हारी,
    कोई उस लट्टु को बोल दो..
    मेरे बचपन की किताब फ़िर से खोल दो...

    वो टायर साइकिल का,
    घुमाया करते थे गली गली
    मोसम बरसात में,
    भागा करते थे.. हर गली
    याद आती है तुम्हारी,
    उस टायर को बोल दो..
    मेरे बचपन की किताब फ़िर से खोल दो...

    वो कन्चो से भरी जेब,
    ढिली निक्कर जाती निचे
    वो ढील और खैन्च पतंग की,
    कटे हाथ रहते फ़िर भी खिचें
    याद आती है तुम्हारी,
    उस ढिली निक्कर को बोल दो..
    मेरे बचपन की किताब फ़िर से खोल दो...

    वो मिट्टी के खिलौने बनाना,
    बनाते तीन ईंटों का घर
    वो लगता था हर साल मेला,
    लाते लकड़ी का ट्रेक्टर
    याद आती है तुम्हारी,
    उस खिलौने की मिट्टी बोल दो..
    मेरे बचपन की किताब फ़िर से खोल दो...


    कोई उन यादों को मन में घोल दो,
    मेरे बचपन की किताब फ़िर से खोल दो..
    ©kukhyat_shayar_

  • kukhyat_shayar_ 59w

    ..

  • kukhyat_shayar_ 59w

    ख्वाब जानो या हकिकत...
    इश्क़ है तुमसे और तुमसे ही रहेगा
    ©kukhyat_shayar_

  • kukhyat_shayar_ 60w

    ..

  • kukhyat_shayar_ 60w

    क्युँ बाँटते हो इंसान को,
    मत बाँटो मेरे देश महान को...
    .
    क्या फ़र्क है सब इन्सान में,
    दिखता रब़ है सबको अपनी माँ में।
    फ़िर क्युँ ऊँचा करते हो अभिमान को..
    .
    क्युँ बाँटते हो इंसान को,
    मत बाँटो इस देश महान को...
    .
    चल दिए देखो ले बंदूक और तलवार,
    एक भाई करे दुजे भाई पर वार।
    आता होगा रोना यह देख भारत माँ को...
    .
    क्युँ बाँट ते हो इंसान को,
    मत बाँटो इस देश महान को...
    .
    क्या भुल गए कुरबानी हम शहीदों की?
    तारिखें तक याद नहीं हमें बलिदानों की..
    हंसते-हंसते कुर्बान दिया कर अपनी जान को..
    .
    क्युँ बाँट ते हो इंसान को
    ना बाँटो अपने प्यारे हिन्दुस्तान को

    Read More

    क्युँ बाँटते हो इंसान को,
    मत बाँटो मेरे देश महान को...
    (Read in Caption)
    ©kukhyat_shayar_

  • kukhyat_shayar_ 60w

    "हम जवानी ख़ोतें है जवान बनने के लिए"
    "और खौफ़...वो तो महज़ लफ़्ज़ है हमारे लिए"
    #Indianarmy

  • kukhyat_shayar_ 60w

    "मैं हमेशा खुश रहुँ...
    खुदा से फ़रियाद करती होगी"
    "हवा बन मेरे पास रहकर...
    मेरा ख्याल रखती होगी"

  • kukhyat_shayar_ 62w

    जुबाँ तुम बन्द करदो पर..
    ..बोल मेरे दूर तक जाएँगे..

    ©kukhyat_shayar_

  • kukhyat_shayar_ 62w

    Explain your Point three times.
    The front man if does not understand.
    Then leave him on his condition.
    ©kukhyat_shayar_