Grid View
List View
  • kpardeep 5w

    सुहागन (Suhagan)

    सितारों से हमेशा तुम्हारी मांग भरती रहे,माथे पे तुम्हारे चांद चमकता रहे, यूंही सोलह श्रृंगार तुमपे सजता रहे,करता हूं मैं ईश्वर से प्रार्थना उमर भर तू सुहागन रहे और हमेशा भगवान का आशीर्वाद तुमपे रहे......

    ©kpardeep

  • kpardeep 7w

    राह

    था जब मैं मुश्किल में एक नई राह दिखाई तूने,था जब मैं गलत,सही बात समझाई तूने,बहुत सी ख्वाइशे होंगी तुम्हारी भी ,जो मुझ से छुपाई तूने,करता हूं मैं भी आज तुझसे इक वादा भूल कर भी कभी दिल न दुखाऊं तेरा,कर दूंगा तेरी हर ख्वाइश पूरी वक्त दे दे मुझे थोड़ा, बस यूंही साथ देते रहना। तुम मेरा सोचता हूं कभी कभी कैसे शुक्रिया अदा करूं तेरा....... Happy 10th Marriage anniversary I Love you my wifee.


    ©kpardeep

  • kpardeep 9w

    तूफान

    सोचा था कभी हम भी एक नई दुनिया बसायेगे,एक प्यारा सा घर होगा हमारा , तुम्हें दुल्हन हम बनायेगे,ऐसा तूफान आया जिंदगी में सब कुछ बर्बाद कर गया,रोते रोते सूख गए आंखों से आंसू और मुझे बेजान कर गया।

    ©kpardeep

  • kpardeep 9w

    लम्हे

    उसके साथ गुजारे लम्हे आज भी याद आते है मुझे,
    बैठता हूं अकेला कभी तो रुलाते है मुझे, सोचा ना था कभी,
    प्यार में किस हद तक गुजरना पड़ता है,कभी आबाद तो कभी बर्बाद होना पड़ता है।

    ©kpardeep

  • kpardeep 9w

    आशिक़

    तुझे भूलाना मेरे लिए आसान न होगा,
    जिसने लगाया ना हो किसी से दिल वो ऐसा इंसान ना होगा,
    मुझे पता है प्यार में अक्सर टूटता है दिल,वो आशिक़ ही क्या जो अपने प्यार के लिए रोया ना होगा।


    ©kpardeep

  • kpardeep 10w

    समझदार

    ले मां तेरा पुत वी हुन जिम्मेवार हो गया,
    पहले थोड़ा जीहा सी नादान हुन समझदार हो गया।

    थोड़ी जीही दुनियादारी दी वी मैनू समझ आ गई, रिश्तियां नाल रिश्तेदारी निभाउनी मैनू आ गई, पे गया मैं वी हुन गृहस्थी च, हुन मैं वी टब्बरदार हो गया, ले मां तेरा पुत वी हुन जिम्मेवार हो गया पहले थोड़ा जीहा सी ..............

    देखदी है तमाशा दुनियां,वक्त ने इक सफा मैनू वी पढ़ाता,किवें चलदी है दुनियादारी मैनू समझाता, खरीदी नहीं सी कदे सब्जी पाजी,तोल मोल करना वी मैनू सिखाता मैं वी हुन दो बच्यां दा बाप हो गया, ले मां तेरा पुत वी हुन जिम्मेवार हो गया पहले थोड़ा जीहा......

    लग गया पता मैनू वी हुन इस दो रंगी दुनिया दा इस करके
    सवेरे उठ के रब तों शुक्राना मंग इ दा, पावे चंगे हां यां मंदे हां
    मेहनत तो नहीं संगी दा हुन 'प्रदीप' दे मोंडियां ते वी थोड़ा जीहा भार हो गया, ले मां तेरा पुत वी हुन जिम्मेवार हो गया पहले थोड़ा जीहा सी नादान......

    Samjhdar

    Le maa Tera putt v hoon jimmewar ho gaya,
    Pehle thoda jiha si nadaan hoon samajhdar ho gaya.

    Thodi jihi duniya dari di v mainu samjh aa gayi, Rishtian naal rishtedari nibhauni mainu aa gayi Pe gaya main v hoon grahasthi ch hoon main taberdar ho gaya,le maa Tera putt v hoon samajhdar ho gaya.

    Dekh di hai tamasha duniya ,Waqt ne ik safa mainu padata kive chaldi hai duniyadari mainu samjhata, kharidi nhi c kade sabji pajji,hoon tol mol karna v mainu sikhata main v hoon do bachiyan da baap ho gaya le maa Tera putt v hoon jimmewar ho gaya.....

    Lag gaya pta mainu v is do rangi duniya da is karke savere uth ke rab to shukrana mangi da pave change haan ja mande haan mehnat karan to nhi sangi da hoon 'pardeep' de mondian te v thoda jiha paar ho gaya le maa Tera putt hoon jimmewar ho gaya.....


    ©kpardeep

  • kpardeep 15w

    तिरंगा

    लहराता है देखो कैसे " तिरंगा " हमारा बड़ी शान से,देश की आज़ादी के लिए दी जिन्होंने कुर्बानी वो बहुत महान थे, आओ हम सब मिलकर एक बार फिर से अपना फर्ज निभाए, शहीद हुए जो वतन की खातिर उनको श्रद्धा सुमन चढ़ाएं। जय हिन्द....

    ©kpardeep

  • kpardeep 15w

    Badnaam

    Kash tum mere ho jate humesha k liye, badnam to ho hi gaye the tumse dil laga k,karta hu tera intezaar aaj bhi main har roz, yeh soch k kabhi to tujhe mera khayal aayega mujhse dur jaa k.

    ©kpardeep

    बदनाम

    काश तुम मेरे हो जाते हमेशा के लिए,
    बदनाम तो हो ही गए थे तुमसे दिल लगाके,
    करता हूं तेरा इंतजार आज भी मैं हर रोज़,
    यह सोच के कभी तो तुझे मेरा खयाल आएगा मुझसे दूर जाके ।

  • kpardeep 23w

    पापा

    आंख खुली तो अपने आप को आपकी गोद में पाया मैंने, चलते चलते गिरा जमीन पे कई बार तो उठाया आपने, मैं यूहीं बड़ा नहीं हो गया 'पापा' जिन्दगी का हर फलसफा 'प्रदीप' को पढ़ाया आपने..


    ©kpardeep

  • kpardeep 27w

    Saah (सांस)

    हुन जिन्दगी दा रिहा ना कोई बसा, पता नहीं केहड़ी कड़ी मुक जाना साह,ना जाने रब ने केहडा चक्कर चलाता, चंगे पले बंदे नू पढ़ने पाता.

    किने माड़े हालात हो गए, कई बेसहारा ते कई अनाथ हो गए, हे मेरे मालका दे दे सबना नू सुख दा साह, हुन जिन्दगी दा रिहा ना कोई बसा पता नहीं केहड़ी कड़ी मुक जाना साह.

    रिश्ते सी जो खून दे ओह वी अपनिया नू छड़ के पज्ज गए, जीहना ने खवाया सी ओहना नू रज के, गंगा किनारे पैइया लाशा दा ढेर वेख के हो गया मेरा मन स्वाह पता नहीं केहड़ी कड़ी मुक जाना साह.

    दुनियां विच राज कोरोना दा हो गया, जवान पुत्त मावां दा मौत दी नींदे सो गया, पता नहीं 'प्रदीप' बंदे तो केहड़ा हो गया गुनाह समझ ना लगे मैनू केहडी कड़ी मुक जाना साह, हुन जिन्दगी दा रिहा ना कोई बसा.

    Hoon jindgi da riha na koi vasa,
    Pta nhi kehdi kadi muk jana saah,
    Na jane rabb ne kehda chakker chalata
    Change pale bande nu padne paa ta.

    Kine maade halaat ho gaye,kai besahara te kai aanath to gaye, hey mere malka de de sabna nu sukh da saah,hoon jindgi da riha na koi vasa,pta nhi.......

    Rishte si jo khoon de o v apnea nu chhad k paj gaye jihna ne khawaiya c ohna nu rajj k,Ganga kinare paian lashan da ter vekh k ho gaya mera mann sawah pta nhi kehdi kadi.....

    Duniya vich raj corona da ho gaya jawan putt maawa da mout di neende so gaya,pta nhi 'pardeep' bande to kehda ho gaya gunah samjh na lagge mainu kehdi kadi muk jana saah hoon jindgi da riha na koi vasa.


    ©kpardeep