Grid View
List View
Reposts
  • keentiwari 1d

    अपना कुछ ऐसा न कोई वैसा है
    कहीं कुछ भी नहीं,अब पहले जैसा है।
    ©keentiwari

  • keentiwari 1d

    Just me , is not enough
    ©keentiwari

  • keentiwari 1w

    कयामत मांग बैठे हैं कि हम सब हार बैठे हैं।
    ©keentiwari

  • keentiwari 2w

    #shame on your blunders ��

    Read More

    I don't react on other's blunders, innocently
    Yet , others mind my innocence blunderly
    ©keentiwari

  • keentiwari 3w

    I love hatered as it feels real
    ©keentiwari

  • keentiwari 3w

    हम थमे! जब-जब तुम रूके
    हम रूके जब! तुम क्यों बढ़ चले!
    ©keentiwari

  • keentiwari 3w

    किसीने कुछ कहा नहीं
    और सब कह भी दिया।
    ©keentiwari

  • keentiwari 4w

    आज फिर वही शाम इस कदर आयी है
    कुछ खास और आम बातें याद आई हैं।
    ©keentiwari

  • keentiwari 4w

    सच बोलना किसी हंगामे से कम नहीं
    झूठ बोलने की प्रथा जो चल पड़ी है।
    ©keentiwari

  • keentiwari 5w

    सब ठीक है
    बस यही तो ठीक बात नहीं है।
    ©keentiwari