kamini_bhardwaj1

ORIGINAL CONTENT ONly hindi poetess Feminist

Grid View
List View
Reposts
  • kamini_bhardwaj1 3d

    मेरे दिल के दरवाजे पर
    प्रेम निवास लिखा है
    जो दिमाग से चले
    वो इसे ना खटखटाये।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 3d

    कुछ मखमली सी यादें
    बड़ा सुकून देती हैं
    जिंदगी की उलझनों में भी
    दिल को सम्भाल लेती हैं
    कुछ बेनाम से रिश्ते
    उम्र भर साथ चलते हैं
    दुनिया से मिले जख्मों पर
    अपने प्रेम का मरहम रखते है ।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 3d

    तेरे बिना भी जीवन जिया है
    ये गुनाह भी मैंने किया है
    यादों का घूंघट ओढ़कर
    तुझे नजरों में छिपा लिया है।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 3d

    कुछ यादें उम्र भर साथ चलती हैं
    लोग बदल जाएं वो नहीं बदलती हैं
    पागलपन से चलते हैं दिल के रिश्ते
    समझदारी तो दिमाग में पलती है ।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 3d

    मन समंदर और आँखें नदियां सी बहती हैं
    सुनसान सी रातों में दिल की बातें कहती हैं।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 4d

    मन के समंदर में इश्क का रंग घोल दो
    दिल की बातें दिल पर ही छोड़ दो।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 4d

    जल रहा है बरसों से दिल में प्रेम का दीया
    दुनिया की आंधियों से भी बुझने ना दिया
    इसी रोशनी में तो चलती रही उम्र भर
    अँधेरों को मैंने खुद पर हावी ना होने दिया।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 5d

    मैंने जीवन को पूरा जी लिया
    क्योंकि मैंने प्रेम रस पी लिया ।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 5d

    प्रेम मिले तो जी लेना
    नजरें ना चुराना
    ये वक़्त निकल गया
    तो बस आँसू ही बहाना ।

    ©kamini_bhardwaj1

  • kamini_bhardwaj1 5d

    दिल के खण्डहर में तेरी यादों के खजाने हैं
    कुछ और नहीं मेरे पास बस बीते जमाने हैं
    तुम आओ तो बांट लेगें आधा आधा हिस्सा
    कुछ तेरे कुछ मेरे मोहब्बत के फसाने हैं ।

    ©kamini_bhardwaj1