Grid View
List View
  • hindipoetry 3d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    शर्मिंदा हूँ मैं....उन फूलों से.."जान"

    जो मेरे हाथों में ही #सूख गये..तेरा इंतज़ार करते करते...!!

    ❤️
    ©hindipoetry

  • hindipoetry 3d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    हमसे मोहब्बत का दिखावा न किया कर.

    हमें मालूम है तेरे वफा की डिग्री फर्जी है.

    ©hindipoetry

  • hindipoetry 3d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    _*मशहूर कर रहा है मुझे दर्द मेरा...*_

    _*तुम तक पहुंचे तो इत्तला करना...*_

    ©hindipoetry

  • hindipoetry 3d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    वो साहिल से देखते रहे मेरे डूबने का मंज़र....

    हम भी ज़िद्दी थे,डूब गए मगर पुकारा नहीं उसे....

    ©hindipoetry

  • hindipoetry 4d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    जब भी वो उदास हो उसे मेरी कहानी सुना देना,
    मेरे हालात पर हँसना उसकी पुरानी आदत है

    ©hindipoetry

  • hindipoetry 4d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    सुना है बहुत बारिश हुई है तुम्हारे शहर में
    ज्यादा भीगना मत
    अगर धूल गई सारी गलतफहमियां
    तो बहुत याद आयेंगे हम

    ©hindipoetry

  • hindipoetry 4d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    मत आने दो किसी को करीब इतना,

    कि उससे दूर जाने से इंसान खुद से रूठ जाये|

    ©hindipoetry

  • hindipoetry 4d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    बहाना क्यों बनाते हो नाराज होने का

    कह क्यों नही देते के अब दिल मे जगह नही तुम्हारे लिए

    ©hindipoetry

  • hindipoetry 4d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    मेरी को लोग इतनी सिद्दत से पढते हैं,

    जैसे इन सबने भी किसी अजनबी से मोहब्बत की हो।

    ©hindipoetry

  • hindipoetry 4d

    ─━⊱✿✿⊰━─

    जलील होकर ना रुका कीजिए,

    इज्जत दांव पर हो तो मोहब्बत दफा कीजिए।

    ©hindipoetry