gannudairy_

Insta- gaurav_Kaushik_05 Telegram - Gauravk005

Grid View
List View
Reposts
  • gannudairy_ 1h

    तुम थे जो मुफ्त में मिल गए
    कभी पूछना उनसे जिनसे सीधे मुहँ नहीं बोलते तुम्हारे कारण..!!!

    @anusugandh @mamtapoet @_do_lafj_ @alkatripathi79 @jigna_a

    Read More



    मेरा मयार नहीं मिलता मैं आवारा नहीं फिरता,
    सोच समझकर खोना मुझे.....
    मैं दोबारा नहीं मिलता!!!!





    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 1d

    संविधान आजादी वाला,
    बच्चो ! इस दिन आया
    इसने दुनिया में भारत को,
    नव गणतंत्र बनाया!

    #rachanaprati144

    @loveneetm @anusugandh @mamtapoet @_do_lafj_ @alkatripathi79

    Read More



    क्या तुम्हें पता है 26 जनवरी, भारत में पहली बार कब मना था।
    क्या तुम्हें ज्ञात है इसका इतिहास, कितना गौरवशाली था।
    क्या जानते हो अपने पूर्वजों को, जिन्होंने आजादी के लिए जंग लड़े।
    क्या तुम्हें पता है अपना संविधान, जिसमें तुम्हारे अधिकार लिखे हैं।
    आओ बताता हूं मैं सब को, क्यों गणतंत्र दिवस हम मनाते हैं।
    क्यों 26 जनवरी को हर वर्ष, हम तिरंगा लहराते हैं।
    बहुत पुराना है इसका इतिहास, जब 1930 में नेहरू कांग्रेस के अध्यक्ष बने।
    फिर उन्होंने 26 जनवरी को आजादी, के उत्सव का ऐलान किया।
    ब्रिटिश सरकार की तानाशाही ने, इसको न स्वीकार किया।
    अधूरा रह गया वह ख्वाब, जिसका नेहरू जी को बहुत अफसोस हुआ।
    फिर कुछ वर्ष बीत गये, जब 1947 में हमें आजादी मिली।
    फिर जरूरत पड़ी अपने संविधान की, जिसे बनाने में 2 वर्ष 11 महीने 18 दिन लगे।
    26 नवंबर का वह शुभ दिन था, जब संविधान बन कर तैयार हुआ।
    और लोगों में इसे पाने के लिए, उत्सव का माहौल भी था।
    26 जनवरी 1950 को हमने, पहला गणतंत्र दिवस मनाने का ऐलान किया।
    और नेहरू जी के अधूरे स्वप्न को, सब ने मिलकर साकार किया।
    आजादी तो पहले ही मिल चुकी थी, पर हमारे पास न कोई अधिकार थे।
    संविधान का उपहार हमें मिला था, इसी वजह से ये दिन खास हुआ।
    इसी लिये हम हर वर्ष, अपना गणतंत्र दिवस मनाते हैं।
    तिरंगे को लहराकर हम सब, अपनी खुशी दर्शाते हैं।
    और देश प्रेम की भावना से हम भारतवासी भर जाते हैं।
    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 1d

    मत कर गुरूर इतना ऐ वर्दी
    एक दिन तुझे बदन पर सजा के हम भी सजेंगे!!।

    #indianadministrativeservice
    #indianpoliceservice

    @anusugandh @mamtapoet @_do_lafj_ @alkatripathi79 @jigna_a

    Read More



    मेरी पसन्द हमेशा लाजवाब होती है...
    यकीन ना तो मेरे DREAM को ही देख लो!!!





    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 2d

    क्या नजारा होगा जब ओढ तिरंगा आऊंगा ����♥️


    @anusugandh @mamtapoet @_do_lafj_ @alkatripathi79 @jigna_a

    Read More



    हिसाब लेती जिंदगी ने पूछा फौजी से
    चल बता तूने क्या कमाया है?
    फौजी हँस पड़ा और बोला "जो और जिन्दगी ना कमा सकी
    बस वही कफन तिरंगा कमाया है"





    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 3d

    पराक्रम दिवस
    सुभाष चंद्र बोस ��������

    @anusugandh @mamtapoet @_do_lafj_ @alkatripathi79 @jigna_a

    Read More



    वो था सुभाष जो आजाद हिंद फौज लाया था,
    जिसके मुख से जय हिंद सुनकर
    दुश्मन भी घबराया था!
    आजादी के बदले उसने लहू था माँगा,
    ऐसे उसने दुश्मन पर कहर था ढाया,
    डाल बदन पर मोटी खाकी,
    हिंद की आजादी था लाया!!!


    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 4d

    स्वर्ग में विचरण करते हुए
    अचानक एक दुसरे के सामने आ गए

    विचलित से कृष्ण ,प्रसन्नचित सी राधा…

    कृष्ण सकपकाए, राधा मुस्काई
    इससे पहले कृष्ण कुछ कहते राधा बोल उठी

    कैसे हो द्वारकाधीश ?

    जो राधा उन्हें कान्हा कान्हा कह के बुलाती थी
    उसके मुख से द्वारकाधीश का संबोधन
    कृष्ण को भीतर तक घायल कर गया
    फिर भी किसी तरह अपने आप को संभाल लिया

    और बोले राधा से ………
    मै तो तुम्हारे लिए आज भी कान्हा हूँ
    तुम तो द्वारकाधीश मत कहो!

    आओ बैठते है ….
    कुछ मै अपनी कहता हूँ कुछ तुम अपनी कहो

    सच कहूँ राधा जब जब भी तुम्हारी याद आती थी
    इन आँखों से आँसुओं की बुँदे निकल आती थी

    बोली राधा ,मेरे साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ
    ना तुम्हारी याद आई ना कोई आंसू बहा
    क्यूंकि हम तुम्हे कभी भूले ही कहाँ थे
    जो तुम याद आते

    इन आँखों में सदा तुम रहते थे
    कहीं आँसुओं के साथ निकल ना जाओ
    इसलिए रोते भी नहीं थे

    प्रेम के अलग होने पर तुमने क्या खोया
    इसका इक आइना दिखाऊं आपको ?

    कुछ कडवे सच ,प्रश्न सुन पाओ तो सुनाऊ?

    Read More

    प्रेम

    Read Caption First

    कभी सोचा इस तरक्की में तुम कितने पिछड़ गए
    यमुना के मीठे पानी से जिंदगी शुरू की
    और समुन्द्र के खारे पानी तक पहुच गए ?

    एक ऊँगली पर चलने वाले सुदर्शन चक्रपर
    भरोसा कर लिया और
    दसों उँगलियों पर चलने वाळी
    बांसुरी को भूल गए ?

    कान्हा जब तुम प्रेम से जुड़े थे तो ….
    जो ऊँगली गोवर्धन पर्वत उठाकर लोगों को विनाश से बचाती थी
    प्रेम से अलग होने पर वही ऊँगली
    क्या क्या रंग दिखाने लगी
    सुदर्शन चक्र उठाकर विनाश के काम आने लगी

    कान्हा और द्वारकाधीश में
    क्या फर्क होता है बताऊँ
    कान्हा होते तो तुम सुदामा के घर जाते
    सुदामा तुम्हारे घर नहीं आता

    युद्ध में और प्रेम में यही तो फर्क होता है
    युद्ध में आप मिटाकर जीतते हैं
    और प्रेम में आप मिटकर जीतते हैं
    कान्हा प्रेम में डूबा हुआ आदमी
    दुखी तो रह सकता है
    पर किसी को दुःख नहीं देता

    आप तो कई कलाओं के स्वामी हो
    स्वप्न दूर द्रष्टा हो
    गीता जैसे ग्रन्थ के दाता हो

    पर आपने क्या निर्णय किया
    अपनी पूरी सेना कौरवों को सौंप दी?
    और अपने आपको पांडवों के साथ कर लिया
    सेना तो आपकी प्रजा थी
    राजा तो पालाक होता है
    उसका रक्षक होता है

    आप जैसा महा ज्ञानी
    उस रथ को चला रहा था जिस पर बैठा अर्जुन
    आपकी प्रजा को ही मार रहा था
    आपनी प्रजा को मरते देख
    आपमें करूणा नहीं जगी

    क्यूंकि आप प्रेम से शून्य हो चुके थे

    आज भी धरती पर जाकर देखो
    अपनी द्वारकाधीश वाळी छवि को
    ढूंढते रह जाओगे हर घर हर मंदिर में
    मेरे साथ ही खड़े नजर आओगे

    आज भी मै मानती हूँ
    लोग गीता के ज्ञान की बात करते हैं
    उनके महत्व की बात करते है

    मगर धरती के लोग
    युद्ध वाले द्वारकाधीश पर नहीं
    प्रेम वाले कान्हा पर भरोसा करते हैं
    गीता में मेरा दूर दूर तक नाम भी नहीं है
    पर आज भी लोग उसके समापन पर

    ” राधे राधे” करते है
    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 5d

    #rachanaprati143

    @happy81

    This is for those who say we are smoking because shiv used to do it... I hope you like it
    @anusugandh @mamtapoet @_do_lafj_ @alkatripathi79

    Read More



    हमें भी विजिया चाहिए क्योंकि शिव ने थी भांग पी!!
    पिया तो हलाहल भी था तुमने विष की क्यूँ ना मांग की!!

    शिव और भांग का संबंध तुम्हें किसने उल्लेख किया?!
    पुराणों में तो नहीं मिला तुम्हें किसने यह ज्ञान दिया!!

    मोह से परे हैं जो उसे चिलम नहीं चाहिए
    महायोगी कहलाते शिव हैं जरा ज्ञान लेके आइए!!


    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 5d



    आपका past accept करके मैं आपको अपना future माना,
    अपना phone और password देने से पहले मैं ना कभी सोचा नहीं,
    फिर भी जब मैं रब से पूछा कहाँ कमी रह गई थी मेरे प्यार में,
    रब ने कहा मिला तो मैं देता पर उसने कभी तुझे माँगा नहीं!!!!




    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 1w

    क्यों ना मैं भी कह दूँ कह दूँ हुआ भी मुझे प्यार हुआ.. ��♥️

    #Shayri #lovepoems #sadpoems #motivation #lifepoetry #patriots #patroitpoem #nationpoetry #sufism

    @anusugandh @mamtapoet @_do_lafj_ @alkatripathi79 @jigna_a

    Read More



    जब भी हँसी आँखों का पानी बन के बहने लगे,
    समझ लो वो प्यार है.....
    जब किसी को देख के सब गिले शिकवे भूलने लगे,
    समझ लो वो प्यार है.....
    वो प्यार है जब दिन से ज्यादा रात लम्बी लगे,
    जब phone unlock होते ही उसका message खुलने लगे,
    समझ लो वो प्यार है....
    जब एक लड़का सिर्फ एक लड़की के लिए लिखने लगे,
    समझ लो वो प्यार है...!!!


    ©gannudairy_

  • gannudairy_ 1w

    कड़वा है पर सत्य है.... For those who see every lady as a material object not a lovely creature of the God

    #Shayri #lovepoems #sadpoems #motivation #lifepoetry #patriots #patroitpoem #nationpoetry #sufism

    @anusugandh @mamtapoet @_do_lafj_ @alkatripathi79 @jigna_a

    Read More



    हर औरत की छाती में क्या झांकता है....

    तुझसे ज्यादा शर्म तो उस बच्चे में है...
    जो अपनी माँ का दूध पीते हुए भी
    आँख बंद रखता है..!!!




    ©gannudairy_