#sukhdev

29 posts
  • dhruvfauji 30w

    मनोहरन सर

    शिक्षक तो सभी हैं, पर मनोहरन सर की बात ही कुछ और है, ऐसा मैं नहीं, आप के शिष्य कहते हैं।
    "मनोहरन" नाम के जैसा काम आपका छाया है, बताओ आपको कोई कैसे भुला पाया है?
    बेस्ट टीचर अवार्ड के आप हैं अधिकारी सच्चे,
    ऐसा मैं नहीं, कहते हैं आपके ही बच्चे (शिष्य)।
    उज्जवल चरित्र का निर्माण करने वाले आप ईश्वर से बढ़कर हैं, सुगम व दुर्गम हर विपदा में आप माता-पिता से चढ़कर हैं,
    पढ़ाते तो सभी है पर सर के पढ़ाने का तरीका कुछ और है, ऐसे हैं हमारे सर,
    मनोहरन सर की तो बात ही कुछ और है।
    शिष्यों के लिए धूप ताप सब सहते हैं,
    ऐसा मैं नहीं, आपके ही शिष्य कहते हैं।
    जब मिले आप तो हुआ ईश्वर सा साक्षात्कार,
    पवित्र हो जीवन, यही है आपका विचार,
    सिर्फ किताबी ज्ञान नहीं आप जीवन जीना सिखाते हैं, नित नए प्रेरक आयाम लेकर शिक्षण को सार्थक बनाते हैं, मनोहरन सर की तो बात ही कुछ और है, ऐसा मैं नहीं, आपके शिष्य कहते हैं।
    पग पग पर मार्गदर्शन करने वाले आपको, सभी शत-शत शीश झुकाते हैं,
    ऐसा मैं ही नहीं आपके शिष्य भी कहते हैं।
    ' स्वस्थ सुखमय जीवन हो आपका, यही है प्रार्थना,
    पूरी हो जीवन की आपकी हर मनोकामना।'

    सप्रेम भेंट
    गुंजन शर्मा
    ©dhruvfauji

  • dhruvfauji 30w

    मैंने ठान लिया

    भूल जाओ वह समय जहां उसी समय का अपमान किया है, क्योंकि मैंने, लक्ष्य को पहचान लिया है,
    विद्या का ही मान किया है, अब तो मैंने ठान लिया है
    चाहे पांवो में छाले हों, न अधिक भोजन के निवाले हों, फिर भी चलते ही जाना है,
    यह तो मैंने जान लिया है,अब तो मैंने ठान लिया है।
    चिकित्सा विज्ञान या सुरक्षा , अर्पण तन मन धन कर दूं, ऐसी रही है मेरी शिक्षा,
    फिर सेवा को जीवन मान लिया है, उत्तम गुणों पर तो, शत्रु को भी सम्मान दिया है,
    गुरु से उत्तम ज्ञान लिया है, फिर दंडवत प्रणाम किया है,अब तो मैंने ठान लिया है।
    विकेट मोड़ पर भी न रुकना, दुष्टों समक्ष कभी ना झुकना, ऐसी उदिता का भान किया है,
    क्षण क्षण पर आती बाधाओं में, हर मोड़ पर पलती दुविधाओं में,श्री राम चरित्र का ध्यान किया है,
    अब तो मैंने ठान लिया है।
    एक बूंद सा जीवन था मेरा, फिर सागर सा मैं बन जाऊं, कर्मण्येवाधिकारस्ते, इस वक्तव्य पर चल जाऊं, ऐसे स्वप्नों को प्राण दिया है,
    अब तो मैंने ठान लिया है।
    ©dhruvfauji

  • dhruvfauji 30w

    दिन है मेहनत के

    चलते रहना है दिनोंदिन, मंजिल सूनी है तेरे बिन,
    बाज की सी चाल चल, युद्ध के लिए मचल,
    जो आज है मौका नहीं आएगा वो कल,
    तो संभल ! तू युवा है हर पल,
    तो चल संदेशों पर विवेक व भगत के,अभी तो दिन हैं मेहनत के।
    लोग रह जाएंगे सब हैरत में, जब समझेगा तू
    यही तो दिन हैं मेहनत के।
    करता चल अविरल प्रयास, जगा लोगों की हर आस,
    जो बुने तूने सपने हैं, गढ़ उनको कहावत पे,
    बना ऐसा विश्व जहां हर गरीब कह पाए,आएंगे दिन सेहत के।
    तो हो जा ध्रुव और चलता चल, यही तो दिन हैं मेहनत के।
    जीवन देख सागरमाथा सा है चढ़ना, है बचाना मानवता को तो उत्तम चरित्र है गढ़ना,
    तो देख है ये सब करना, इसलिए ना बैठ भरोसे रहमत के, यही तो दिन हैं मेहनत के।
    ©dhruvfauji

  • kumar_adi 31w

    करोड़ो की भीड़ थी लेकिन
    कल को उन्हीं ने भापा था....
    नोटों पर तो छप न पाए
    पर इतिहास उन्हीं ने छापा था....

    जो तुम स्याही में पढ़ रहे हो
    उन्होनें लाल लहू से छापा था....
    अरे उनको नास्तिक समझने वालों
    हिंद ही उनका विधाता था....

    जय हिंद!!!!

    Aj Shaheed Diwas par yaad kijiye Veer Bhagat Singh, Rajguru aur Sukhdev ko jinhone apne desh ki azadi ke samne apni jaan ki parwah bhi nhi ki

    #mirakee #shaheed_diwas #bhagat_singh #rajguru #sukhdev #jai_hind

    Read More

    करोड़ो की भीड़ थी लेकिन
    कल को उन्हीं ने भापा था....
    नोटों पर तो छप न पाए
    पर इतिहास उन्हीं ने छापा था....

    जो तुम स्याही में पढ़ रहे हो
    उन्होनें लाल लहू से छापा था....
    अरे उनको नास्तिक समझने वालों
    हिंद ही उनका विधाता था....

    जय हिंद!!!!

    ©kumar_adi

  • khwahishaan 31w

    युद्ध में जख्मी सैनिक
    युद्ध में जख्मी सैनिक साथी से कहता है:
    ‘साथी घर जाकर मत कहना,संकेतो में बतला देना,
    यदि हाल मेरी माता पूछे तो, जलता दीप बुझा देना!
    इतने पर भी न समझे तो दो आंसू तुम छलका देना!!
    यदि हाल मेरी बहना पूछे तो, सूनी कलाई दिखला देना!
    इतने पर भी न समझे तो, राखी तोड़ दिखा देना !!
    यदि हाल मेरी पत्नी पूछे तो, मस्तक तुम झुका लेना!
    इतने पर भी न समझे तो, मांग का सिन्दूर मिटा देना!!
    यदि हाल मेरे पापा पूछे तो, हाथों को सहला देना!
    इतने पर भी न समझे तो, लाठी तोड़ दिखा देना!!
    यदि हाल मेरा बेटा पूछे तो, सर उसका सहला देना!
    इतने पर भी न समझे तो, सीने से उसको लगा लेना!!
    यदि हाल मेरा भाई पूछे तो, खाली राह दिखा देना!
    इतने पर भी न समझे तो, सैनिक धर्म बता देना!!
    ©अज्ञात

    हमें यह कविता सोशल मीडिया से हासिल हुई है। हमें इसके रचनकार का नाम नहीं मालूम है। जिस किसी की भी यह कविता है, वह हमें इसकी सूचना दे सकता है। हमें उनका नाम प्रकाशित करने पर प्रसन्नता होगी।

    #saheeddivas #23march #bhagatsingh #sukhdev #rajguru #india #soldiers #army #armyday #mirakee #mirakeeindia #mirakeeworld #instagramwriters
    #instagram #tweeterwrites #khwahishaan #khwahishaanfoundation

    Read More

    ..

  • bhuwnesh 31w

    आज शहीदी दिवस है। 23 मार्च 1931 को भगतसिंह, राजगुरू, सुखदेव को अंग्रेज़ी शासन द्वारा फाँसी दी गई थी। समस्त भारत आपके अपूर्व बलिदान को याद करता है। नमन।
    ����
    #bhuwnesh #mirakee #mirakeehindi #hindi #hindiquotes #hindipoetry #shaheedidiwas #bhagatsingh #rajguru #sukhdev #india #bharat #freedomfighters @mirakee @hindiwriters @hindiquotes18 @writerstolli @mirakeeworld

    Read More

    ©bhuwnesh

  • thandebaste 31w

    थप्पड़ का जवाब गोली था
    और कंकर का जवाब पत्थर,
    जो ना सुनती ये गोरी सेना
    तो कर देते धमाका, कान के पास आकर।

    कुछ ऐसे थे ये परवाने,
    आज़ादी के दीवाने, मस्ताने।।

    ©thandebaste

  • dhruvfauji 31w

    शहीद दिवस

    भगत सिंह कुछ लोग कहते हैं तुझे देश से बेगाना, कहते हैं तू था मानवता से अनजाना,
    क्यों जरूरी है हर बार लोगों को बताना,
    कि तू और तेरे साथी थे देश के लिए इतना दीवाना, कि
    मंजूर हुआ जवानी में फांसी पर लटक जाना
    ©dhruvfauji

  • devdoo 66w

    हरामजादो

    Redmi & One Plus ख़रीदना बंद नही कर सकते,
    पर चीनीराखी?

    या वह भी जवानो की जानों से महंगी है?

    खैर छोड़ो

    कोई होठों के लिए मरे,कोई नोटों के लिए मरे
    भगत सिंह भी बोलता होगा,ए सुखदेव हम भी किन हरामजादो के लिए मरे!
    ©devdoo

  • santoshkapoor 73w

    #Sardar_Bhagat_Singh������������������
    #Sukhdev������������������
    #Rajguru������������������

    Read More

    Krantikari

    Kabhi Katrina ke gaalon par mar Gaye
    Kabhi chumban Kabhi chehre
    Kabhi chalon pe mar Gaye
    Uper baith kar Bhagat Singh b kehte honge
    Are Sukhdev Rajguru
    Yr Hum bhi kin insano ke liye mar Gaye

  • nikita_ns_nikss 83w

    शहीद दिवस

    फाँसी की जंजीरो में जकडी़ हुई थी आजादी
    भगत राज सुखदेव ने मिलकर दी कुंर्वानी

    देश की खातिर काल से खेली होली
    आज समरपित इन मसतों को मेरे चंद शब्दों की रोली

    दिल से शहीद दिवस पर शहीदों को नमन
    23 march 1931
    ©nikita_ns_nikss

  • yatharth_singh_chauhan 83w

    वतन परस्त

    वो खाक में नहीं वजूद में हैं,
    वो मरते नहीं शहीद होते हैं,
    ज़ुबाँ पे वंदे मातरम् लेकर जिनको,
    फांसी के निशां गरदन पे रसीद होते हैं,
    और कोई और परस्तिश क़ुबूल नहीं करते,
    वो जो वतन परस्ती के मुरीद होते हैं।
    ©yatharth_singh_chauhan

  • mr_ayaan_13 108w

    जरूर पढ़िए....
    भगतसिंह जो महज़ 12 साल का लड़का अपने देश की आज़ादी के लिए क्रांति की अग्नि में कूद गया जो उमर उसके खेलने की थी उस उमर में उसे देश को आज़ाद कराने का हौंसला था
    ""राख़ का हर एक कण, मेरी गर्मी से गतिमान है
    मैं एक ऐसा पागल हु, जो जेल में भी आज़ाद है ""--- "भगतसिंह भारत का वीर " आपको जन्मदिन की ढ़ेर सारी बधाई ����♥️��
    और आजकल के नौजवानों को इस चीज से फुरसत ही नहीं है
    तो देश के बारे में कैसा सोचेगा
    "कभी सलमान के बालों तो कभी कैटरीना के गालों पे मर गए
    कभी चुंबन कभी चेहरे तो कभी चालो पे मर गए
    भगत सिंह भी कहते होंगे अरे सुखदेव राजगुरु हम भी किन
    सालों पे मर गए"
    #bhagatsingh # happybirthday #veerputra #sukhdev #rajguru #writernetwork #mirakeeworld #mirakee #hindiwrites #28september #sakshi02 #bkfrncu #yaminiread #india @purewine_75 @sakshirajput @jiya_khan @loveed @sakshi_02

    Read More

    बड़ा ख़ुशनसीब होता है वो ज़नाब
    जिसे देश के लिए मरने का मौका मिलता है
    ✒️mr_ayaan_13

  • shivam15 115w

    #bhagatsingh #mahatmagandhi #Dr.BabasahebAmbedkar #subhashchandrabose #lokmanyatilak #sukhdev #rajguru #Jawarhalalnehru #sardarvallabhaipatel #maulazaazad #indianarmy #Indiannavy #indianairforce #allfreedomfightersofindia love you all and thanks for the freedom you given to us. Thank-you all freedom fighters for giving us freedom from Britishers and thank-you and salute to my Indian army, navy and airforce for keeping freedom intact from terrorists and other nations. Thanks to the real police who really do their job and keep city and state safe from crimes. Thank you all and your history makes me proud and I will sure make the India of all freedom fighters dream.jai bharat, Jai samvidhan ����

    Read More

    Soch

    आज की सोच देश के नाम

    सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना है ज़ोर कितना बाज़ु-ए-कातिल में है? वक्त आने दे बता देंगे तुझे ऐ आस्माँ! हम अभी से क्या बतायें क्या हमारे दिल में है?

    देश की Media बन गई है चाटुकारिता की मिसाल..
    जब तक ऐसा हाल रहेगा, लोकतंत्र पर श्राप रहेगा..
    मेरे देश की Media जाग जाओ लोकतंत्र को बचाओ..

    इंकलाब जिंदाबाद✊जिंदाबाद✊जिंदाबाद✊

    आज के सत्ता के पुजारी राम के नाम पे खेले रावण की पारी..
    सीता माता आज देश बन्नी है और यही लोग उसका हरण करने चले है..
    चलो साथियों जाग जाओ देश का तिरंगा उठाओ और बनाओ नया रामायण जिसमें बनो राम के साथी हनुमान और विभीषण भाती..
    बनाओ ऐसी वानर सेना जिससे लोकतंत्र वापस हो गहरा..
    वापस इतिहास को दोहराएंगे, सिर्फ सत्य को जिताएंगे..
    फिर होगी सीता माता आजाद, तब असली में होगी रामराज्य की शुरुआत..

    दोस्तों आवाज दो हम सब एक हैं

    हर तरफ हाहाकार मचा है..
    एक तरफ सूखा पड़ा है, दूसरी तरफ बारिश ने तांडव करा है..
    ए मेरे देश के कुदरत ऐसा कहर ना कर, रहम कर अपने लोगों पर..
    किसान करे हमेशा तुझे याद उसकी मदद कर, सुनले लोगों की बात..
    तुझे खत्म करने वाले लोगों को दे तु सजा, मत कर गरीबों पे
    अत्याचार..
    वादा हम सब करते हैं तुझे कि वापस लाएंगे वही बाहर..
    हर तरफ हरियाली होंगी और गूंज उठेगी फिर आवाज..

    मेरे देश की धरती सोना उगले, उगले हीरे मोती ,मेरे देश की धरती

    जय जवान- जय किसान ,के फिर से लगेंगे नारे..
    असली वाली देश भक्ति दिखेंगे लोगों के द्वारे..
    यह मेरे आजाद भारत में, लोग फिर मांग रहे हैं आजादी..
    सत्ता में बैठे लोग एक बात याद रखना, तुम अगर नहीं सुधरोगे तो 1 दिन ऐसा आएगा ,चप्पा चप्पा गूंज उठेगा इंकलाब के नारों से..
    फिर तुम भी इसे रोक नहीं पाओगे और हम भी इसे नहीं रोकेंगे..
    भारत के इतिहास की याद, वापस हम दिलाएंगे..

    जय भारत ,जय संविधा
    ©shivam15

  • kp_singh 135w

    मेरा वतन हो सबसे आगे, हर जन्म बस यही मेरा ख़्वाब रहेगा,
    मैं रहूं या ना रहूं, ज़िंदा ये मेरा इन्किलाब रहेगा!

    To see my country on the top, in every life I'll have this dream,
    I remain or perish but my revolution will forever remain! -kps©2019

    #bhagatsingh #sukhdev #rajguru #martyrs #23rdmarch #kpspoetry #kpsquotes #patriotism

    Read my thoughts on @YourQuoteApp #yourquote #quote #stories #qotd #quoteoftheday #wordporn #quotestagram #wordswag #wordsofwisdom #inspirationalquotes #writeaway #thoughts #poetry #instawriters #writersofinstagram #writersofig #writersofindia #igwriters #igwritersclub

    Read More

    Martyrs (अमर शहीद)

    मेरा वतन हो सबसे आगे, हर जन्म बस यही मेरा ख़्वाब रहेगा,
    मैं रहूं या ना रहूं, ज़िंदा ये मेरा इन्किलाब रहेगा!

    To see my country on the top, in every life I'll have this dream,
    I remain or perish but my revolution will forever remain!
    ©kp_singh

  • _jagdeep_singh_buttar_ 135w

    Shaheedon ki chitaon pe hr baras lagenge mele.. Yhi unke aakhri nishaan honge.. #wmk...#Bhagatsingh#Rajguru#Sukhdev

    Read More

    Aazaad hu... ❤

    Desh karmo namah...hai mera sukh bhi...
    Dev naa kaho...aazaad kehlo
    Khud ka aashiyaa...hai raj kyu gair..
    Guru naa kaho...aazaad kehlo...
    Gulami ke darmiyaa...aazaad hi tha...azaad hi hu.. Rahunga aazaad hi..
    Bhagat naa kaho... Aazaad kehlo.. ❤

    ©jaggi_ji_rehan_do_naa_18

  • princesunnyrajput 135w

    23 मार्च 1931

    उच्चा सुनने वालो को तुमने बम से था दहलाया
    आजादी का नारा लेके देश आजाद करवाया
    23 मार्च 1931 का दिन आज फिरसे है आया
    सुखदेव भगत सिंह राजगुरु को देश ने था गवाया
    आपके बलिदानो को कोई ना भूल पाया
    समय बदला दौर बदला पर आप जैसा कोई नहीं आया
    कोटि कोटि परनाम आपको
    माँ के दूध का क़र्ज़
    अपने प्राणो को देके चुकाया
    ©princesunnyrajput

  • priyanka_premchand_pandey 135w

    23 मार्च 1931

    अपना घर अपना परिवार सारा सुख वो त्याग चले थे,
    सरफ़रोशी की तम्मना लिए पाने वो इंकलाब चले थे।

    छोटी उम्र में बोहत बड़ा काम कर गए वो,
    अपना सारा जीवन मातृभूमि को अर्पित कुर्बान कर गए वो।

    संसद में धमाका कर बहरी सरकार को जगाया था,
    116 दिनों की भूख हड़ताल कर अंग्रेजी शाशन को हिलाया था।

    फाँसी का फरमान सुन वो मस्तानो का टोला मन-ही-मन मुस्काया था,
    मानो उन्होंने ने अपने मकसद को सिद्ध कर दिखाया था।

    देश को आजाद न देख सके पर अपना कर्म निभा गए वो,
    पूरे आवाम के भीतर आजादी पाने की लड़ाई जगा अपना धर्म निभा गए वो।

    आजाद भारत को देखने का अधूरा सपना अपनी आंखों में लिए सो गए,
    वो तो भारत माँ के चहिते थे, अपनी मातृभूमि के लिए शहीद हो गए।

    जाते जाते पूरे हिंदुस्तान में क्रांति का अरमान जगा गए वो,
    जमाने भर से शहीद-ये-आज़म सा नाम कमा गए वो।।।

    ©priyanka_premchand_pandey

  • dipendra_rsingh 135w

    हंसते हंसते देश की खातिर फांसी के फंदे पर भी वो झुल गए
    मूर्ख है ऐसे लोग जो इन वीरों की शहादत ही भूल गए
    #sahiddiwas #bhagatsingh #rajguru #sukhdev #writer #poet

    Read More

    शहीद दिवस

    हंसते हंसते देश की खातिर फांसी के फंदे पर वो झुल गए
    मूर्ख है ऐसे लोग जो इन वीरों की शहादत को ही भूल गए
    शहीद दिवस
    ©dipendra_rsingh

  • i_n_a_l 135w

    23 March

    Sarfroshi ki tamanna....