#savewomen

29 posts
  • nittamkuri 4w

    नारी

    सौंदर्य , स्नेह औ सौम्य की भंडार ।
    दया , प्रेम , औ ममता की पहचान ।
    सुगम , सुलभ जीवन कर देती।
    हर नारी की नौ-नौ रूप दुर्गा , काली , और अनेक ।
    जीवन के किरदारों से पाश बंधनों में बंधी नारी।
    पीहर छोड़ ससुराल चले।
    आंखों से स्नेह औ प्यार छलकाती ।
    जीवन को खुशीयों से भर देती नारी।
    निराशा को आशा में बदलती नारी ।
    चुनौतियों को ढाल बनाती ।
    जीवन राह को रास्ता देती नारी।
    टीका नारी पर अस्तित्व तुम्हारा।
    नारी के नारीत्व को समझें ।
    नर नारी का फर्क मीटाऐं ।।

  • bhartiiii 40w

    Stop Dowry

    एक बेटी चली गयी दहेज़ की वजह से
    उन माँ बाप की पूरी दौलत चली गयी
    और लोग आज भी पुछ रहे हैं
    कितना मांगा था???
    ©bhartiiii

  • lay_zzz_author 44w

    Probably, India is the only country where "Devi's idol" in a temple is much safer than "Devi" on streets.


    ©lay_zzz_author

  • narendranayak 54w

    लफ़्ज़

    हे कोई बात जो तुम्हे कहना चाहूं!
    लफ़्ज अटकते है हलक़ में कुछ कह भी ना पाऊं!!

    मेरा जीवन है तुमसे तुम पर ही खत्म!
    तुम्हे पाना भी चाहूं तुम्हे पा भी ना सकूं!!

    मेरे दिल के आंगन मे तूं खिलता हुआ फूल है!
    तुमसे ही महकता हूँ तुम्हे छूं भी ना सकूं!!

    नानी से सुनी थी परियों कि कहानी!
    तूं हूबहू है वैसी, पर तेरे संग उड़ ना पाऊं!!

    मेरे सोच के दायरे मे बस तेरा ही जिक्र होता!
    सबको बताता रहता हूं बस तुमसे कह ना पाऊं!!

    लड़ सकता हूं जमाने से तुझे जीतने की खातिर!
    तुम्हे हार कर सब जीतने अच्छा है मर जाऊं!!

    हूं शांत बहोत मैं मगर अंदर मेरे ईक शोर है!
    रौ भी नही सकता मैं खुलकर तेरे सामने हस ना पाऊं!!
    ©narendranayak

  • thedepressed_page 60w

    If we can stop voiceless animals wandering in streets, then why can't we stop
    Such Monsters (Rapists)
    ©thedepressed_page

  • thelighteningscribbler 60w

    CAUSES OF RAPE

    Is it the length of my skirt?
    Is because I was walking alone?
    Is it because of the western culture?
    Is it the fact that I consume alocohol?
    Is it because I flirted with u?
    Is it because u consider me of a lower class?
    Is it because my parents din't give me enough sanskaar?
    NO!!
    It's because u are a RAPIST!
    Stop victim blaming!
    Statistics show that every 16 minutes there is a rape case reported in India
    We need to erase rape culture and prevent victim blaming
    Let's stand with the person who has been wronged✌️
    ©thelighteningscribbler

  • narendranayak 60w

    चुनाव आया है

    आज गांव कि गलियां साफ हो गई, अब नालियो मे पानी नही रूकता है!
    चारो तरफ स्वच्छता अभियान चला है, कई सालो से पड़ा कचरे का ढेर भी आज नही दिख रहा है! !

    पुरे गांव को आज दुल्हन की तरह सजा दिया!
    कई सालो से सो रहे मास्टर जी ने बच्चो को आज सारा ज्ञान सिखा दिया!!

    बुजुर्गो को कम्बल और बच्चो को मिठाई खिलाई जा रही है!
    नशेड़ीयो मे शराब और माताओ मे शोल बाटी जा रही है! !

    फिर गाड़ियों का एक काफ़ीला आता है, चारो ओर हाहाकार मच जाता है!
    यह माताए मेरी यह बहने मेरी यह साथी मेरे यह बुजुर्ग मेरे ऐसे ही झुमले कहकर कोई पुरे गांव को गोद ले जाता है! !

    पता नही ये उजले-उजले वस्त्र पहने गांव का बेटा कौन आया है!
    कोई बड़ा आदमी लगता है, बड़ा आदमी ओर वो भी हाथ जोड़े खड़ा है? लगता है गांव मे चुनाव आया है! !

    जब से कुर्सी मिली गांव का बेटा फिर परदेश चला गया!
    ना जाने कब लौटकर आयेगा, हमे सुनहरे सपने दिखाने वाला कब हकीकत बनकर आयेगा! !

    आज इतने बरसो बाद फिर गांव चमचमा रहा है!
    हमारी मरी हुई उम्मीदो को कोई कंधा देने आ रहा है! !

    फिर से कोई नया शख्स गांव को गोद लेने आ रहा है!
    फिर कोई खड़ा है हाथ जोड़े,लगता है फिर से चुनाव आ रहा है! !
    ©narendranayak

  • pathak01 61w

    Shame on Up Police

    ताल्लुक है मेरा उस संस्कृति से जिसकी बेटी..

    अगर गुडिया भी खरीदे तो दुपट्टा साथ लेती है...!!!
    ©pathak01

  • narendranayak 62w

    औरत

    मेरे बिखरे बाल देखकर क्या-क्या सोच लिया तुने!
    तेरी नज़र मे औरत की कितनी इज्ज़त है यह देख लिया मेने!!

    माना कि शर्म औरत का गहना होता है, तो क्या हुआ मैं पल्लू ना सम्भाल पाई!
    तुमने भी तो मेरी मजबूरी का फायदा उठाया है, खुदको मर्द कहने वाले तुम तुम्हे लज्जा नही आई!!

    किसी भी औरत को देखकर ना जाने क्या-क्या सोच लेते हो!
    औरत एक मां, बेटी, बहन भी होती है ये क्यो नही समझते हो!!

    माना कि कुछ औरत ने मोहब्बत को धंधा बना रखा है!
    पर मर्दों का भी तो उसमे बराबरी का योगदान है!!
    सभी को एक ही नज़र से देखना यह तो अच्छी बात नही है!
    सभी मर्द दुध के धुले हो यह भी तो जरूरी नही है!!

    औरत की इज्ज़त करना सिख लो तुम्हारा भी मान होगा!
    ढूंढते रहते हो ईश्वर को मन्दिर मस्जिद मे जहा औरत का सम्मान होगा वही भगवान् होगा!!

    ©narendranayak

  • narendranayak 65w

    वैश्या

    मुझसे नज़रे चुराने वाले!
    मेरा नाम लेने से भी कतराने वाले!!
    तुम मुझे वैश्या कहकर पुकारते हो!
    दुनिया के सामने मेरी परछाई से भी दूर भागते हो!!

    हर लड़की वैश्या नही होती पर हर वैश्या एक लड़की जरूर होती है!
    कुछ को ये समाज बना देता है तो किसी को पेट कि आग खिंच लाती है!!

    इमान अगर ज़िन्दा है तुम मे तो अपनी औलादो को सिखा देना!
    ज्वालामुखी जो फटे बदन मे तो अपने आप को संभाल कर रखना!
    चाहे बदन फट जाये, पर किसी बेबस कि आबरू मत लुटना!!

    रात भर बदन नौचते हो और वैश्या संग सोते हो!
    सुबह उजले वस्त्र पहन खुद को शरीफ बताते हो!!
    तुम मुझे वैश्या कहकर पुकारते हो?
    और रात मे मेरे यहां ही माथा टेकते हो!!

    यह दोहरी राजनिति हमारे साथ क्यो करते हो!
    रात मे पाप करते हो और दिन मे गंगा नहाते हो!!

    अरे जमाने वालो तुम वैश्या के दर्द को कभी समझ ही नही पाये हो!
    ये रोज ना जाने कितने जानवरो कि भुख मिटा देती है!
    और ना जाने कितनी बेटियो कि आबरू लुटने से बचा लेती है!!
    ©narendranayak

  • narendranayak 71w

    स्त्री

    हे ईश्वर, दुनिया से ठुकरा कर आई हूँ मैं, तेरे न्याय दरबार मे इंसाफ मांगती हूँ!
    मेरे मन मेरा उठे कुछ सवालो का ज्वाब मांगती हूँ!!

    कब तक ये लोग माताऔ की कौख उझाडते रहेंगे!
    कब तक ये लोग बेटियों को मारते रहेंगे!
    आखिर कब तक ये लडकियों को कोसते रहेंगे!
    कब तक ये लोग आबरू लूटते रहेंगे!!

    हमे भी जन्म लेने की इजाजत देदे ईश्वर!
    तेरे बनाये इंसान को थोड़ी सी सद्बुद्धि तू देदे ईश्वर!!
    हमे भी सपने देखने की, खुले आसमान मे उडने की,
    कुछ कर दिखाने की, अपना साथी चुनने की इजाजत तू देदे ईश्वर!
    इन भूखे नंगे भेड़ियो से लड़ने कि हिम्मत देदो ईश्वर!!

    तू तब भी चुप था जब पांचाली की आबरू लूट रही थी!
    तू आज भी है जब हजारों बेटियों की आबरू लुटती है!!

    दुनिया की बनाई अदालते आज तक न्याय किसको दे पाई है!
    वहां से हारकर एक बेटी आज तेरे दर पर आई है!!

    अपने न्याय चक्र से उनको सबक सिखादे ईश्वर!
    तेरे दरबार मे आई हूँ मुझे न्याय दिलादे ईश्वर!!
    ©narendranayak

  • teju_royals 75w

    Let us make a change by educating the people with some humanity and manners #safegirlchild #savewomen
    #girlchild #mirakee

    Read More

    Society

    Criticizes when SHE moves closely with her husband or a male bestie

    Becomes silent when the same SHE is raped Infront of them


    ©teju_royals

  • wordsentangled 99w

    STAND UP!!

    Aise toh hum choti choti baat ka mudda bohot uthate hai,
    Tik tok kyu ban hua iska topic ithate hai,
    Shikayat zaroori baat Ki karne se aitraaz jatate hai,
    Bhagwan maaf na kare aise jurm ki baat karne se katrate hai.

    Stand up not for comedy,
    Stand up for your behen and mommy,
    Stand up against the rapist bcoz of whom women lost their freedom already.

    Grand salute to prostitutes,
    They saved a women from a devil in brain and body,
    Easy to make fun of things and somebody,
    Not easy to standup and stop these crimes happening everywhere with anybody.

    Mere hisab se desh hua azad jab milegi aurto ko raat ke 8 ke baad ghar se nikalne ki azadi,
    Maa baap fikar se nahi chain se so sake even if beti is late night out for study or party,

    Not for likes or publicity i just did it for myself,
    My friends, my sisters and my society....
    ©wordsentangled

  • anamika_chandra 104w

    ANOTHER GIRL RAPED!!

    The most common news headline of Present India!!

    What's much astonishing in it? Men will be men? - The Male chauvinist said

    Another day, Another girl - The Media said

    All men are rapists - The Feminists said

    She might have been at the wrong place at the wrong time - The Society said

    She was in the cradle when they kidnapped her - Her mother said

    The heaven welcomed on more India's daughter


    ©anamika_chandra

  • tejaswanipachauri 104w

    मत आ कोख से बाहर ओ गुड़िया,
    बहुत दरिंदे हैं यहां।
    ये नरक से भी बदतर है,
    तुझ परी के लिए कोई जन्नत नहीं यहां।

    कब तक बचाए कोई तुझे,
    यहां तो नजर गंदी डालेंगे
    तुझ पर, तेरे अपने।
    ये तुझे तड़पा तड़पा कर मारेंगे।

    तू खुद कब तक लड़ेगी?
    अपना बचाव कैसे करेगी?
    अभी तूने बोलना ना सीखा,
    तू इनके खिलाफ कुछ कैसे कहेगी?

    ना उम्र देखेंगे,
    ना रिश्ता देखेंगे,
    सुनसान गली हो या बीच बाज़ार,
    ये तुझे हर जगह छेड़ेंगे।

    जिस मां के सम्मान का दिखावा करते हैं ये,
    उसी को गाली देते हैं।
    जिस बहन को दिया रक्षा का वचन,
    उसी पर गंदी नजर रखते हैं।

    तेरे पैदा होने पर मूह बनाएंगे,
    तेरे पढ़ने लिखने पर नाराज़गी जताएंगे।
    इतनी बंदिशें तुझ पर लगाकर,
    यही लोग एक दिन बलात्कारी बन जाएंगे।

    इतनी बेटियों का बलात्कार कर,
    ये इसे मर्दांगी की शान समझते हैं।
    किसी औरत की इज्ज़त लूट कर,
    ये इसमें अपना मान समझते हैं।

    डरे भी किस से ये,
    ये कानून तो पहले ही अंधा है।
    शायद बलात्कारियों का पैसा ही,
    इन रिश्वतखोरों का धंधा है।

    फिर भी क्यों आना चाहती है बाहर?
    ये दुनिया नरक से भी बदतर है।
    यूं तड़प तड़प कर मरने से तो,
    ना आना ही बेहतर है।

    मत आ कोख से बाहर ओ गुड़िया,
    बहुत दरिंदे हैं यहां।
    ये नरक से भी बदतर है,
    तुझ परी के लिए कोई जन्नत नहीं यहां।

    ©tejaswanipachauri

    #nirbhaya #priyankareddy #rapevictim #savewomen #feminst #WeHaveRightToLive #femalefoeticide #mirakee #hindikavyasangam #hindiwriters

    Image credits: to the respected owner

    Read More

    मत आ कोख से बाहर ओ गुड़िया,
    बहुत दरिंदे हैं यहां।
    ये नरक से भी बदतर है,
    तुझ परी के लिए कोई जन्नत नहीं यहां।

    ©tejaswanipachauri

  • mira_quote 104w

    वक़्त की दरकार है की वक़्त बदले
    तुम कुछ ऐसा करो ये समाज बदले
    ©mira_quote

  • a_sanam 105w

    #savewomen #society @writerstolli @mirakee
    Everyone do repost and make people know.....

    Does her dress decide her character ?????
    A guy will wear a full length trousers and shirt....but he raped and murdered a innocent lady who was dressed in a full length costume.....
    The same man abused a girl wearing a mini skirt.......
    The same man harrassed a kid wearing pants.....

    Then tell me
    Who was the one with no character ???????????��

    We the people of society should be the one who changes the thinking of our next generation !!!
    Don't say a girl that dress nicely and don't go to somewhere in midnight or to journey or to work ...
    Say your boy don't hurt girls and women

    Please don't say to treat us like goddess
    Just say them to treat us like human ....
    Say them like them we have our own ambitions and responsibilities !!!!!

    A message from a frustrated citizen !!!!

    Read More

    I had heard the tales of you and me
    In the morning dreams
    With a little innocent smile
    I put my warm feet onto the floor
    Which feels like a iceberg
    A coffee for the one with full of joy
    A girl who had achieved a lot with lots of struggle
    Beutiful memories and cherishing moments
    Oh wow !!

    Nowwww....
    Crying, Unexpectedly abandoned from the world
    She was a plaice for brutal men
    Burnt in the middle of the fields
    Where she played with her lovely family
    Memories were burnt with hot tears
    Blood sprinkled all over
    Murdered, Raped after she was dead.....
    Does her first cry on the earth is a sin ?
    May be she was the only hope for her family
    May be she was the only hope for her fiance
    May be she was the only hope for her children
    May be she was the only hope for her patient
    May be she was the only hope for her husband
    May be she was the only hope for her poor dad
    May be
    .............she was the ..........
    .................................no words...........
    .................................................PROTECT WOMEN...
    ........SHE IS NOT A SEX TOY TO DESTROY.........
    ........RESPECT HER.............................
    ................................she is not...............
    ................................................born to be shattered.
    ©a_sanam

  • a_pen_scribbler 105w

    ?

    Is she a temple idol?Which is given darshan only during certain intervals and not after that?
    Can't she wear what she likes to?
    Can't she kiss her lover when she feels to? Can't she walk in the darkness when she thinks to?
    Can't she enjoy her life like others?
    Can't she dream like others?
    Isn't she a sister of some brother?
    Isn't she a daughter of some father?
    Isn't she a mother of some son?
    Isn't she a wife of some husband?
    Isn't she a gf of some boy?
    Isn't she a HUMAN??
    Why is always she restricted?
    Why is always she targeted?
    Why is always she only?????
    It's only because of you and the society you live in!!
    It's only because of those devil wits in you and the society you live in!!!!
    Afterall who is she? Is a wrong question!!!!!
    She is our responsibility!!!! Help her, not kill her!
    ©a_pen_scribbler

  • sivakrishna_ 126w

    മരുന്ന്

    പാവപ്പെട്ട പെൺകുട്ടികളെ പീഡിപ്പിച്ചു കൊന്നവർ ഈ ലോകത്ത് തിന്നുമുടിച്ചു നടക്കുമ്പോൾ, എന്തിനാ മിണ്ടാപ്രാണികൾക്കുമേൽ മരുന്ന് പരീക്ഷണം നടത്തുന്നത്.

    അവർക്കുള്ള ശിക്ഷയും സമൂഹത്തോടുള്ള മാപ്പുപറച്ചിലുമാകട്ടെ ഇനിയുള്ള ഓരോ മരുന്ന് പരീക്ഷണവും....

    ശിവകൃഷ്ണ
    ©sivakrishna_

  • i_anjaligupta 129w

    Rape

    Akhbaro mai rape ki khabarein anna
    Unko padh kr ghar walo ka hame sunana
    Ghar mai rakhe chote kapdo mai aag lgana
    Suit salwaar zabardasti hame pehnana
    Or har ladki ke sapno ka samandar sukh jana
    Abh toh jese har din ka kaam sa hogya

    Hye! Yeah insaan jism ki bhuk ke piche kesa pagal hogya

    Wo din dur nhi jab ladkiyon ko fir se maa ki kokh mai he maar diya jayega
    Aakhir kon apni betiyon ki izzat jo neelaam hote sareaam dekh payega
    Or abh toh ek baap ke aansu dekh yeah zamana bhi aankh band kr sogya

    Hye! Yeah insaan jism ki bhuk ke piche kesa pagal hogya

    Pr abh yeah shor toh jese har din ka fasana hogya
    Aye khuda kya tu bhi hum betiyon ko bana kr gehri neend so gya

    Hye! Yeah insaan jism ki bhuk ke piche kesa pagal hogya.

    Anjali Gupta