#rachanaprati54

14 posts
  • aka_ra_143 15w

    #Rachanaprati54 से अब #Rachanaprati55
    @shruti_25904

    ����������
    मैं @shruti_25904 को एक बार फिर से धन्यवाद देना चाहूंगी जो उन्होंने मुझे #rachanaprati54 का संचालन करने का अवसर प्रदान किया

    आप सभी की रचनाओं को पढ़कर मुझे बहुत अच्छा लगा क्योंकि मेरे "ताजमहल" के विषय को आपने इतने अच्छे ढंग से प्रस्तुत किया आपकी अच्छी अच्छी रचनाओं को पढ़ने का मुझे मौका मिला एवम सबकी रचनायें एक से बढ़कर एक थी
    आप सभी ने मेरे विषय "ताजमहल" पर उसकी सुंदरता और प्रेम का बखूबी वर्णन किया
    ����������
    आप सभी बधाई के पात्र है क्योंकि आप सभी ने बहुत अच्छा लिखा तो आप सभी को भी बधाई������������

    मुझे सबसे अच्छी रचना @beleza_ ��जी की लगी
    दूसरी अच्छी रचना मुझे @_do_lafj_ ��जी की लगी
    तीसरी अच्छी रचना मुझे @anusugandh ��जी की लगी

    अब मैं रचनाप्रति 54 का विजेता @neehaa जी को बनाती हूँ
    वो अब #Rachanaprati55 का संचालन कर इसे आगे बढ़ाएं
    आपको संचालन की हार्दिक बधाई @neehaa जी��

    Read More

    #Rachanaprati54
    #Rachanaprati55


    अब मैं रचनाप्रति 54 का विजेता @neehaa जी को बनाती हूँ
    वो अब #Rachanaprati55 का संचालन कर इसे आगे बढ़ाएं
    आपको संचालन की हार्दिक बधाई @neehaa जी

    ©aka_ra_143

  • neehaa 15w

    ताजमहल

    एक राजा ने बनवाया,
    अपने प्रेमी के यादों में एक महल,
    कहते है जिसे हम ताजमहल...........

    है, ये दुनिया के लिए मोहब्बत की निशानी,
    जो कभी खत्म न हो ये है, वो कहानी.....
    @neha...

     

  • rahat_samrat 15w

    मैं ताजमहल को प्रेम का प्रतीक उन मजदूरों को मानती हूँ, और मजदूरों का उस इमारत पर श्राप भी, जिसकी वजह से बच्चों को उनके पिता का प्यार न मिल पाया, पत्नियों को उनका श्रृंगार ना मिल पाया ������,
    मैं किसी की भावना को ठेस नहीं पहुचाना चाहती, पर यह सच मैं भूल भी नहीं सकती, क्षमा प्रार्थी हूँ आपकी भावनाओ को अगर ठेस पहुँची हो ��
    किसी की जीवनी छीनकर उसकी मेहनत की हत्या कर अगर उसे प्रेम की संज्ञा दी जाए तो यह किस हद तक सही है?

    #rachanaprati54

    अंतर्द्वंद् में मजदूर और मजबूरी ✍��✍��✍��

    Read More

    ताजमहल....

    मजदूर और मजबूरी...

    मज़दूर- राजा साहब ने बड़ा काम सौपा है, रानी जी ना रही
    उनकी याद में कब्र तैयार करनी है,
    मजबूरी- तो तुम मज़दूर हो अपनी मिट्टी को आकार दो मुझे
    याद क्यों किया,
    मजदूर- क्योंकि मैं मजबूर लग रहा वह कैसे करूँ जो आज
    तक मैंने कभी किया ही नहीं, राजा साहब ने बोला
    है ऐसी कब्र तैयार करो जो आज तक पहले कभी ना
    बनी हो और ना बने,
    मजबूरी- तो यह अच्छा है कि तुम्हें वह कर दिखाने का
    मौका मिला जो आज तक कोई ना कर पाया,
    मजदूर- कोशिश करूँगा, अगर मना किया तो मारा जाऊंगा,
    और अगर जैसा वो चाहते है वैसी कब्र न बनी तब भी
    मौत तय लग रही,
    मजबूरी- मौत तय जब है ही तो कुछ कर जाओ,
    मज़दूर- हाँ तभी मैंने तुम्हें हरदम सीने से लगा रखा है मजबूरी
    में इंसान ख़ुद को जो जान लेता है,
    _____________________
    *********************
    मन की आँखे चार हुई, मेहनत भी अपार हुई, लथपथ साँसे आँखे सूझी दिन घड़ियाँ बीत हजार हुई, ईंट ईंट, कंकड़ पत्थर, चूना, संगमरमर सजा रहे, नैनन में नीर भरे तो भरे पर तन से पसीने बहा रहे, किया तैयार अनोखा जो ना हुआ कभी न हो सकता, पर उतरे खरे की हम चूके यह सोच सोच घबरा रहे,
    _____________________
    *********************
    राजा- (मन ही मन) अद्भुत यह कैसे संभव है यह मजदूर है
    जो हमेशा मजबूर रहा,पर यह दृश्य,असंभव को संभव,
    मजदूरों को बुलाया जाए,
    मजदूर- अगर हम खरे ना उतरे तो गलती के लिए क्षमा प्रार्थी
    है मालिक,
    राजा- यह अद्भुत है, जो आज तक कभी नहीं बना, और मैं
    तुम्हारी प्रसंसा करता हूँ, पर मैं चाहूंगा ऐसा कभी फ़िर
    दोबारा ना बने, मगर यह संभव तभी होगा जब तुम
    ऐसा करना छोड़ दो,
    मैं आदेश देता हूँ कि आज के बाद आप सब कभी भी
    कोई दूसरी इमारत ना बनाए,
    मजदूर- पर मालिक (और कुछ कह भी ना सके वो, और याद
    में बस मजबूरी को सीने से लगा लिया)
    मजबूरी- आज मौन हूँ मैं अपने ही कहे शब्दों पर और अब
    तुम्हारे साथ जीवन पर्यंत मैं रहूँगी जरूर पर मौन
    , (और वहीं दफ़्न हो गई उनकी मेहनत)
    __________________
    प्रेम का प्रतीक अगर ताजमहल है तो मजदूरों की वजह से, प्रेम में उस पत्थर पर मुमताज नहीं मजदूरों के पसीने की चमक है जो की कब्र को उन्होंने अपनी दिनचर्या को खोकर उसे महल का रूप दिया।

    ©rahat_samrat

  • bhaijaan_goldenwriteszakir 15w

    ताजमहल ❤

    मोहब्बत के शहर में इक ताजमहल हमने भी बनाया था
    रख कर उसमे इश्क़ की तस्वीर मोहब्बत से उसे सजाया था
    ❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤
    यादों में आज भी उसकी दीवारे जमीं से फलक को छू रही
    मोहब्बत की गलियों में आज भी चाहत की कहानी लिख रही
    ❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤
    शाहजहां उस ज़माने का " वो आशिक धनवान पुराना था
    हम आज के दीवाने गरीब "ख़्वाबों में ताजमहल बनाए
    ❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤

  • beleza_ 15w

    #rachanaprati54 @aka_ra_143

    ༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥
    संगमरमर की ताजपोशी, प्रेम की दिलकश आयतों की शान
    बसती है उस संगमरमरी इमारत में अमर प्रेम की अज़ान
    जो भी देखे आँखों से दिल मौहब्बत से भर जाये
    ताजमहल वो इमारत है जिसका, थकती नही दुनिया करने से बख़ान
    ༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥

    उन्होंने सच्चा प्रेम किया और जता भी दिया
    बेमिसाल प्रेम के स्वरुप में ताज़महल दुनिया को दिखा भी दिया
    तिलिस्मी प्रेम में सुर के संगम में डूबकर
    चाँद के नीचे ताज़महल के नूर को और हसीं बना दिया
    ༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥

    हुकूमत के लिए किसी शौहरत की नुमाइश की ज़रुरत नही होती
    सच्चे प्रेम के लिए ज़रुरत-ए-आजमाइश नही होती
    जो करे प्रेम और प्रेम की मिसाल बन जाये
    उसे प्रेम के सिवा कोई और फ़रमाइश नही होती
    ༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥

    सच्ची चाहत रूह से जुदा होकर भी आत्मा का बोझ उठा लेती है
    पाक मौहब्बत के लिए क़ायनात भी सर झुका लेती है
    हताश होकर तारे भी गिरकर रो पड़ते हैं फ़लक से
    ज़िन्दगी जब वक़्त से पहले नींद में सुला देती है
    ༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥

    सच्चा प्रेम मुश्किलों की हर राह में संवर जाता है
    चाहे रह जाएं कितने ही दर्द किनारों पर
    सच्चे प्रेम में हर आंसू, मुस्कुराहट में बदल जाता है
    प्रेम वो चिराग़ है जो आंधियों में भी जल जाता है
    ༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥

    प्रेम के लिए पवित्र सिर्फ़ प्रेम का ही अर्पण है
    ताज़महल अमर प्रेम की इमारत का दर्पण है
    है इतना अनमोल की कीमतों में समा नही सकता
    प्रेम तो प्रेम के विचार से निकला, एक प्रेम के लिए समर्पण है
    ༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥༆❥❥

    Read More

    If i love the moon how can i take my eyes off the taj mahal
    The more I see, the more I gaze, the more I get immersed in that marble splendor
    ©beleza_

  • writer001 15w

    ## @aka_ra_143 was it like this ������
    ## @shruti_25904 ## @satyam____ ###rachanaprati54 ##

    Read More

    Taj Mahal

    Its know for beauty, for its love.
    Shah Jahan made it for Mumtaz Mahal
    Because he loved his wife and burried her there after Shah Jahans death he was also burried there .
    So its was his true love lived at same place died at same place.
    And burried at same place.

  • anusugandh 15w

    ताजमहल

    दिल के तारों को जो झकझोर दे,
    ऐसी खूबसूरत तस्वीर है ताजमहल!

    क्या मोहब्बत इतनी भी हंसी हो सकती,
    हर आशिक के ज़हन का सवाल है ताजमहल!

    दुनिया जिसकी खूबसूरती की मिसाल देती,
    ऐसी खूबसूरत ताबीर है ताजमहल !

    जब देखें इस मोहब्बत के मुजस्समा को ,
    लगता मुमताज के लिए जन्नत है ताजमहल !

    सदियों तक जिंदा रहेगी मोहब्बत की निशानी ,
    ऐसी ही बेमिसाल तस्वीर है ताजमहल!!!!
    ©anusugandh

  • _do_lafj_ 15w

    ♡︎������ ����������♡︎


    ❤️अमर किस्सा है,
    इनकी प्रेम कहानी।।
    शाहजहां से शुरू होके,
    मुमताज पे खत्म हो जानी।।❤️


    #rachanaprati54
    @aka_ra_143 @bhaijaan_goldenwriteszakir @greenpeace767 @anusugandh @shruti_25904

    Read More

    ❣️

    मोहब्बत की निशानी है,
    दास्तां बहुत पुरानी है।।
    संगमरमर की मूरत है,
    वाकई बहुत खूबसूरत है।।
    यमुना का किनारा है,
    क्या खूब नजारा है।।
    सारी दुनिया देती मिशाल है,
    "शाहजहां" की मोहब्बत भी क्या कमाल है।।
    सबकी आंखों में बसा ताज का नजारा है,
    जिसे "मुमताज" ने ही नही निहारा है।।
    क्या खूब इनकी भी कहानी है,
    वाकई "ताजमहल" मोहब्बत की निशानी है।।


    ©_do_lafj_

  • shruti_25904 15w

    #rachanaprati54 @aka_ra_143

    Hai ye imarat sangmarmar ki
    Sirf imarat nahi, jahaan hai ye
    Ek jahaan ne hi banwai thi
    Apne saanso ki mumtaaz ke liye

    Kya saundarya hai iski
    Shabdo se vyakt ye hoti nahi
    Prem ke imaarat jo hote hai
    Pal bhar nazro mein apni saundarya likh jaate

    Thi ye laakho mein ek
    Aaj iski hashr thodi bikhri si
    Bhugat rhi ye bezubaan
    Ham insaano ke karmo se

    Gandgi ne isse chhoda nahi
    Din par din iski chamak kho rahi
    Purkho ki smriti ye hai
    Isey sajana hamara dharm hai

    Ummeed zarur hai dil mein
    Ek din ye fir chamkenge
    Choomegi ye Neel aasmaa
    Barabari kregi ye gaganchumbiyo ki

    Jahaan hum sabki hai ye
    Taj mahal sirf iski pehchan
    Hai ye heere se badhkar
    Yaadein गढ़ी hai janm janmaantar ki

    Read More

    Taj Mahal hai iski pehchan
    Heere si ye itraai
    Janmo ki yaadein bikhri yahaa
    Palkein bich jaati hai mumtaaz Shahjahan ke प्रेममय daastaan se..(See caption...)
    ©shruti_25904

  • aka_ra_143 15w

    #rachanaprati54
    @shruti_25904
    ������
    सर्वप्रथम मैं @shruti_25904 जी का दिल से धन्यवाद देना चाहूंगी जो उन्होंने मुझे विजेता घोषित कर #rachanaprati54 को संचालित करने का मौका दिया
    #rachanaprati54 में मेरा विषय "ताज़महल" है मुझे आप सभी पर पूर्ण विश्वास है कि आप सभी लोग rachanaprati54 में बखूबी हिस्सा लेंगे तथा अपने अपने विचार प्रस्तुत करेंगे

    आप सभी लेखकों से अनुरोध है कि आप भी अपने लेखक साथियों को भी इस रचनाप्रति में अवश्य शामिल करें

    आज का विषय◆ताज़महल
    विजेता कल रात्रि 10 बजे तक घोषित किया जाएगा
    ©aka_ra_143
    @bhaijaan_goldenwriteszakir @mamtapoet @tejasmita_tjjt @alkatripathi

    Read More

    ताज़महल

    वो ख़ामोश इमारत है ताज़महल निशानी प्रेम की
    जो बयां करें ऐसी अमर प्रेम कहानी अपनी उम्र की
    राजा ने बनवाई रानी की याद में इमारत ताज़महल की
    रानी जीते जी न देख सकी वो इमारत ताजमहल की
    प्रेम की मिसाल बनी वो खूबसूरत इमारत ताज़महल की

  • shruti_25904 15w

    #rachanaprati53 #rachanaprati54

    Is baar ka vishay tha - raksha bandhan, bhai-behen ka pavitra rishta. Is baar thodi kam rachnayein prapt hui, ummeed hai aap sab aane wali rachnao mein badhchadh kar zarur hissa lenge. Jinhone apna yogdaan diya, aap sabhi ne bahut sundar tareeke se ek bhai-behen ke rishte ki gehrai ko vyakt kiya.
    Is baar ki sarvshreshth rachna thi ~
    @aka_ra_143 ������

    Aap sabki rachnayein bhi bahut khoobsurat thi
    @beleza_ ������
    @bhaijaan_goldenwriteszakir ������
    @writer001 ������

    Mai rachanaprati54 ki baagdor @aka_ra_143 ko सौंपती hu.

    Read More

    Congratulations @aka_ra_143 and @bhaijaan_goldenwriteszakir
    ©shruti_25904

  • bhaijaan_goldenwriteszakir 22w

    #Rachanaprati all

    .
    ©bhaijaan_goldenwriteszakir