#newIndia

154 posts
  • dhruvfauji 5w

    स्वर्णिम वर्ष

    मानवता जिसपर थी क्रुद्ध , उस शत्रु पर थे उन्नत आयुध,
    फिर भी सहस्रो से लड़ा सैनिक एक एक,
    जल थल नभ में बन गए थे मोर्चे अनेक,
    सेनानियों ने विजय पाई लड़ क्षण क्षण प्रति एक,
    क्योंकि शस्त्रों के भी शस्त्र थे, वीरता विवेक।
    युवा इस युद्ध में बने छत्रसाल,
    आज भी प्रेरणा हैं अरुण खेत्रपाल,
    सेनाओं का शौर्य था इस समकक्ष,
    तेरह दिवस में शत्रु को कर दिया विवश।
    परंतु वीरगति प्राप्त शत्रु को भी प्रहरी जान, दिया गया उन्हें भी समकक्ष मान,
    लौटा उन्हें सेनाओं ने, किया कार्य नेक,
    क्योंकि शस्त्रों के भी शस्त्र हैं ,वीरता विवेक।
    ©dhruvfauji

  • dhruvfauji 18w

    प्रदत जीवन

    था परिश्रम से उपजित स्वेदजल, उसे उपजित है भूमंडल,
    यह स्वेद जल मेरा नहीं, था भगत सिंह सा शेर कहीं,
    दे गोरों के मुंह पर तमाचा, इन शेरों ने हमें बचा डाला,
    संग सब उन्हें नतमस्तक करने वाला, कि मुझ जीव को जीवन दे डाला, बस इस कारण, मैं वक्त नहीं खोने वाला,
    यदि मैं सुस्ती में पडा रहूं, खाता पीता व खड़ा रहूं,
    है धिक्कार मुझे होने वाला, जो कौम प्रदत गई मुझे निवाला,
    उसे हमने ही कलंकित कर डाला।
    है सीने में धधकती ज्वाला, दे दिशा तीक्ष्ण ललकार बना,
    फिर तृण से भरा हो प्याला, केवल उसको आहार बना,
    मैं कार्य प्रगत रहने वाला, अब मैं वक्त नहीं खोने वाला।
    हुए महाराणा से वीर यहां, उनके पद चिन्हों पर चलने वाला, एक उत्तम समाज बनाने को, सम बुद्ध राह दिखाने को,
    मैं दिन-रात एक करने वाला, अब मैं वक्त नहीं खोने वाला, अब मैं और नहीं सोने वाला।
    ©dhruvfauji

  • dhruvfauji 18w

    पथिक के कदम

    हे पथिक क्यों रुके कदम?, क्यों जीवन लगता तुझे बेदम,
    कण कण तत्वों से निर्मित तू, क्षण क्षण कष्टों में जीवित तू,
    हो जीव श्रृंखला के शिखर पर, असंभव प्रतीत से कार्य कर,
    जब देख लिया तूने भुवन, तो क्यों कठिन लगे जीवन?
    फिर क्यों लगता तुझे व्यर्थ हैं हम, हे पथिक क्यों रुके कदम?
    अभी माना लक्ष्य न पाया है, मुड़ पीछे देख!
    तू क्या कर आया है, यदि पीछे ना दिखता हो, तब भी,
    हुए तुझसे महाबली हैं रे, उनसे बाधाएं टली हैं रे,
    फिर सुस्ती छोड़ दिखा दम, हे पथिक क्यों रुके कदम?
    समय बचा है अति अल्प, कर फिर एक दृढ़ संकल्प,
    माना जीवन में कई क्षेत्र बने, जीवित वही जो सर्वश्रेष्ठ बने,
    माना बाधाएं हैं अटल, तू करता जा कार्य अविचल,
    लगता दलदल सम हैं अरिदल, पर सुन,
    यही तो बनाते हमें प्रबल।
    चल अब, है कीचड़?
    तो बन पदम,
    है वर्षा?
    तो बन पवन,
    बस दिखाए जा अपना एक धर्म, एक समस्या चार कदम,
    फिर देख कैसे बढ़ेंगे हम, हे पथिक नहीं रुके कदम।
    ©dhruvfauji

  • thephilosophicalmind 21w

    Change India Be The Change

    We all know that no system is perfect but even for an imperfect system 73 years of freedom is enough time to change. As a student and citizen it's not abnormal for any you to expect your rights. But shockingly even in these extreme times, no schools are will to co operate. Sadly the story doesn't end there. The education ministry is forcing children to give exams or their year wil be wasted. Their explanation being that it is best we no waste time and hold back the future of India. What's most shocking is that as of now how series of events has taken place.

    Child forced to give exams
    Severe increase in Taxes
    Reopening cites at such a critical time

    We are requesting the Government to turn on a semi lockdown in all major cities and post pone all exams.

  • dhruvfauji 37w

    भारत की संतान

    चाहा है ऐसी, उत्तम चरित्र व होऊं ज्ञानवान,
    मैं हूं भारत की संतान।
    सदा अविरल गंगा बहती रहे, फसलों की पंक्ति बनती रहे,
    जो बनाए हमें सदा बलवान, मैं हूं भारत की संतान।
    पुस्तक की बोली लगती रहे, कृषकों की झोली भरी रहे,
    ऐसा रहे सभी को भान, मैं हूं भारत की संतान।
    जहां कर्म का सूर्य अस्त ना हो, और मानवता भी नष्ट न हो,
    ऐसी भूमि, सदा करूं मैं तेरा मान, मैं हूं भारत की संतान।
    जहां नारी शक्ति की क्षमता से, और संतों की करुणा से, भरी रहे तेरी म्यान,
    सब होना चाहे तू समान, मैं हूं भारत की संतान।
    ©dhruvfauji

  • dhruvfauji 38w

    बार बार जागना

    तर्कश के तीरों को स्वयं गढ़ना होगा, तुम्हें बार-बार जगना होगा।
    चाहे ना हो बिल्कुल ध्यान, उसे सम अर्जुन करना होगा,
    गद्दारों के वार सह, उनका मुंह तोड़ना होगा,
    यदि है शांति ही चाह, तो अरदल से लड़ना ही होगा,
    तुम्हें बार-बार जगना होगा।
    सीढ़ी दर सीढ़ी गिर कर भी, तुम्हें ही धीर धरना होगा
    और हर बार राणा सांगा सा वीर बनना होगा,
    यदि सुनना चाहो अपनी गाथा तो एकलव्य बनना होगा, तुम्हें बार-बार जगना होगा
    जीवन के युद्ध क्षेत्र में है लड़ना, तो क्षमता आवर्धन करना होगा,
    अगति में अवनति यह तो सुना ही होगा,
    जो गया समय था उसको भूल, पर्वत पर चढ़ना होगा,
    फिर भी ध्यान आया आराम का, तो प्रेरणा स्रोतों को पढ़ना होगा, तुम्हें बार-बार जगना होगा।
    यदि फिर भी विश्राम की चाह हो ,तो अंत में पछतावा कर चलना ही होगा,
    यदि फिर भी विश्राम लेना चाहो, तो इसी पद्य को पुनः पढ़ना होगा।
    ©dhruvfauji

  • dhruvfauji 38w

    युवा आह्वान

    हमें दुनिया देखनी है, हंस की भांति उड़ान भरने दो,
    जीवन में प्रसन्नता के रंग भरने दो, भांति नदियों का जल चखने दो,
    क्यों रोकते हो हमें?, हमारे पंख लगने दो।
    जिस शिखर को तुमने नापा, उससे भी पार चले जाएंगे,
    जरा बेड़ियों को ढीला छोड़ो, जो मिली तुम्हें स्वच्छंदता,हमें उसका आधा तो दो, शायद गरुड़ बन जाए हम,हमारे पंख तो लगने दो।
    देश स्वतंत्र हो गया, अब तो हमें वैचारिक स्वतंत्रता दो,
    तंग गली में बनी झोपड़ी नष्ट कर, नई इमारत बनने दो,
    फिर देखना जो है बिखरा विश्व वह भी एक होगा,
    जरा अपना मस्तिष्क लगा कार्य करने तो दो,
    वो ऊंची उड़ान भर जाएंगे, जरा पंख तो लगने दो।
    गुरुत्व से भी पार पाएंगे, हमें शोध तो करने दो,
    पुस्तकों से निकल, प्रायोगिक तो होने दो,
    नई अवधारणा को जन्म तो लेने दो,
    नई उर्जा लेकर आएंगे,एक बार हमें पंख तो लगने दो।
    अपने पद चिन्हों को मिटा, नए पग धरती पर छपने दो,
    इतना डर कहां लेकर जाओगे?, बालक को बालक से मिलने तो दो
    माना अभी थोड़े कमजोर हैं, भविष्य में हम ही हनुमान बनेंगे,
    बस वन में छोड़ हमें राम से मिलने दो,
    हम तुम्हें ही ऊंचा उठाएंगे, हमारे पंख लगने दो।
    ©dhruvfauji

  • yashsaini 61w

    सुना था मैने कि नया भारत बनने जा रहा है आज देख भी लिया कि किस तरह लडकियों के साथ आये दिन रेप हो रहे अगर यही नया भारत है तो इससे अच्छा तो मेरा पुराना भारत ही था , वहां कम से कम स्त्रियों की अाए दिन यूं इज्जत तो नहीं जाती थी ।
    अब तो जागो सरकार मौत से कम सजा किसी को भी न मिले बस तभी उसे इंसाफ मिल सकेगा।
    ©yashsaini

  • writershaani 68w

    दासता के तमस को
    क्रांति की ज्वाला से
    दूर करते रहे वो
    मातृभूमि
    के रखवाले सभी,
    स्वातंत्र्य को पाने की
    के खातिर प्राण न्यौछावर
    कर चले वो
    आजादी के रखवाले सभी।
    आजादी की आबोहवा में
    है नमन देश के
    वीरों को सभी।
    जिनकी वजह से
    शान से लहरा रहा है
    देश का तिरंगा अभी।
    #writershaani @authorpayalsawaria
    74वें स्वतंत्रता दिवस की
    73वी वर्षगांठ की हार्दिक शुभकामनाएं।
    ।।वन्देमातरम।।
    ।।जय हिन्द जय भारत।।
    #happyindependanceday #likhoindia #newindia #panchdoot #picture_caption #hindiwritings#panchdoot_magazine @panchdoot #social #panchdoot_social #click #clicks #smile #hindilekhen#writershaani #writerstoli #writersnetwork #mirakee #poetry #inspiration

    Read More

    ©writershaani

  • pratikanand_ 78w

    नया भारत

    मुझे एक ऐसे कल की दरकार है,
    जहाँ सूरज की किरणों को भी पहुँचने का इंतज़ार है।
    मुझे एक ऐसे कल की तलाश है,
    जहाँ लोगों की ख़ुशियाँ पैसों का एंटिला नहीं, संतोष की पहाड़ है।
    मुझे एक ऐसे कल की इंतज़ार है,
    जहाँ लड़कियाँ रात की रागनी में बेफ़िक्र चांद है।
    मुझे एक ऐसे कल की दरकार है,
    जहाँ कोयलों की गीतों में जाती भेद नही, उससे उभर चुके समाज की प्रेम काव्य है।
    मुझे एक ऐसे कल की दरकार है,
    जहाँ सूरज की किरणों को भी पहुँचने का इंतज़ार है।
    मुझे एक ऐसे कल की तलाश है,
    जहाँ हर नई सुबह अरमानों के सागर में हमारी एक नई छलांग है।
    मुझे एक ऐसे कल की दरकार है, जहाँ बारिश की बूंदे
    प्रकृति संरक्षण का हमे आशीर्वाद है।
    मुझे एक ऐसे कल की दरकार है,
    जहाँ सूरज की किरणों को भी पहुँचने का इंतज़ार है।
    मुझे एक नए भारत की तलाश है।

    #newIndia #life @inspirational_writer @poem_writer_ @mirakee @mirakeeworld @poetrydelivery @writersnetwork #mirakee #mirakeeworld #inspirational #poem #hindi #readwriteunite #writersnetwork #tomorrow

    Read More

    नया भारत

    ©pratikanand_

  • vkpandey 83w

    Life

    Stay away from

    people who make

    you feel like you aren't

    made for their love ❤️❤️


    ©vkpandey

  • vkpandey 84w

    Dosti

    Bas khairyat ko apni
    Sambhaal Kar rakhna
    Mere pyaare dost
    Apna khayal rakhna


    ©vkpandey

  • vkpandey 84w

    Corona

    Jab sath ho Corona tab
    dusri baat par kyu rona
    #corona #corona


    ©vkpandey

  • vkpandey 87w

    Dhai raat

    Dhai raato ki halchal ek savere ka sukun ,
    Teri baaton ki gahrai mera halka sa junun ,
    ek naii kahani , ek naii kahani do uljhi si un ,
    kaon kisko samjhae kya kayade kya kannu.



    ©vkpandey

  • harsh77 89w

    We people are very lucky to have an army like this♥️in this tough period of corona virus they are there for us♥️.
    Felt so proud every time i hear the Indian Army��
    Martyred soldiers live rest in peace
    #indian #indianarmy #army #peace #strong #love #country #martyred #change #newindia #hate #life #rip
    @_solivagant @pretty_poison @sanamy_kayani @belovedwish

    Read More

    Indian army ♥️

    ©_harsh77

  • ___the_story_teller___ 92w

    well, is it their sick hearts 
    or the emptiness inside?

    building statues
    from the blood and tears of innocents,
    making this a place of death,
    they are writing a story of a war.

    While young minds are standing tall behind the wall,
    singing "Saare Jahan Se Acha"
    with tears and hope in their eyes.

    ©___the_story_teller___

  • amiravana 97w

    Even I don't how to express what is in me just expressing it by some lines that just came to my heart and I throw it on paper. #hindilines in #Englishqutoes @mirakee
    Words for #newindia #indian #lines #linesbyme #life #inspiration #poetry #thoughts #diary #love #friendship

    Read More

    New fellings

    चल कुछ नयी शुरुआत की नीव रखते हैं
    चल आज से नए भारत भारत पर काम करते हैं
    ©amiravan

  • bejubaanshayar 97w

    #mrak#shayarnama#26January#NewIndia
    ---------------------------------------------
    ► Follow Me On Instagram :
    ---------------------------------------------

    Read More

    New India

    Har chehre pe muskurahat ho
    Aysa Nijam banaya jaye
    Chot Hindu Ko Lage or
    Dard musalman Ko ho
    Yaar aysa Hindustan banaya jaye
    ©bejubaanshayar

  • darkness_of_sorrow 101w

    Need a #ChangeInEverything

    Why to study history about people's i often address them as As****les who Invaded our beloved Land and ruled us like labor, Beheaded people, Raped many!

    Ban history on Invader's.

    ©darkness_of_sorrow

  • north_star 105w

    Kab khatam hogi ye ladayi?

    Kuch to hona hi hai...
    Janam lete hi maar do,
    Chhoti si umar me shaadi kar do,
    Padhne likhne na do,
    Gharelu hinsa karo,
    Kuch na bacha toh Rape karo aur jalaa do...
    Kya bhavishya hai aise samaaj ka?

    ©north_star