#muskuraht

7 posts
  • pranavdagwar 36w

    Takleef

    || Zamane se bahut khafa hoon main,
    Pata nahi kya takleef hai iss zamane ko,
    Hamari muskuraht se,
    Kyuki jab muskurate hai,
    koi kambakht zarur hota hai,
    iss hamse lutne ko ||
    ©pranavdagwar

  • nawabzaadi 40w

    Muskuraht❤️

    मेरी मुस्कुराहट ना जाने कितने..!!
    चेहरों के मुस्कुराने की वजह है...!!
    मेरे मायूस होने से ना जाने कितनो...!!
    परिवार ‍‍‍दोस्त के चेहरे पर मायूसी छा जाती है...!!
    चल माना की तेरे जाने के बाद...!!
    मेरी मुस्कुराहट में वो बात नहीं है...!!
    पर तेरे ना होने से मै मुस्कुराना छोर दू..!!
    अब तेरी इतनी भी औकात नहीं है...!!

    ©nawabzaadi❤️

  • juhigrover 114w

    वक़्त का चिराग़ बुझते बुझते,
    ज़िन्दगी का सफ़र थमते थमते,
    एक रोशनी की किरण पास आई।

    ऊपर से मुस्कुराहट थी,
    अन्दर कुछ दर्द सा था,
    लगती वो बिल्कुल परी सी थी,
    वो वक़्त का तीव्र तूफ़ान था,
    उसकी ओर देखते देखते,
    बिना किसी पल रुकते रुकते
    रोशनी की किरण में ही अलोप हो गई।

    जीने की वो वजह थी मग़र,
    वक़्त का ही कुछ प्रभाव था,
    बिल्कुल पास रहती थी मग़र,
    उसका हर पल,
    ज़िन्दगी से दूर होता था,
    सांझ का प्रहर ढलते ढलते,
    उसके मेरी आँखों से ओझल होते होते,
    निशा जैसे वक़्त से पहले आने को थी।

    एक बुझते दिए की लौ हो जैसे,
    पुकार रही हो ज़िन्दगी को जैसे,
    और ज़िन्दगी उससे कोसों दूर जा रही थी,
    और ज़िन्दगी में ही कुछ कदम चलते चलते,
    पथ पर थोड़ा थकते थकते,
    ज़िन्दगी की साँस थमने को थी।

    वक़्त का चिराग़ बुझते बुझते,
    ज़िन्दगी का सफ़र थमते थमते,
    एक राेशनी की किरण बुझने को थी।
    ©juhigrover

  • iammohitsagar 125w

    Muskurahat,

    Muskurahat unke chehere par kisi or kai liye hi sahi !

    Par pasand hai muje


    ©iammohitsagar

  • anjanasmishra 137w

    मुस्कुराहट

    कोई आहट ना सरसराहट है
    जिंदगी सिर्फ़ मुस्कुराहट है ...

  • niks02898 158w

    Teri muskuraht

    Teri muskuraht meri jindgiki sass hai,agr ye nhi to me nhi.
    ©jadhavnikita125

  • idiotgirl 176w

    एहसास ए ग़म

    जब रो नहीं पाते, तो मुस्कुरा दिया करते हैं हम ...
    कुछ इस तरह एहसास ए ग़म को मिटा दिया करते हैं हम
    ©idiotgirl