#miraquilpoets

1 posts
  • rangsyahi 14w

    कमबख्त घड़ी

    समय का साथ किसने छोड़ा
    वो जो समय के साथ चल नही पाया
    की वो जो समय से आगे निकल गया?

    जिंदगी चालू होते ही बाल सफेद हो जातें है
    जवानी के रंग कागज़ पे ही नजर आते हैं
    खट्टी बातें शहद जैसे लगने लगती हैं
    और मीठी बातों पर आसू घिरते हैं।।

    समय का साथ छोड़ने वाले हम कौन है
    ये कमबख्त घड़ी कभी हमारा था ही नहीं ।।
    ©rangsyahi