#malharism

17 posts
  • malhar_ 13w

    मोहब्बत के इंतज़ार में आखों का बूढ़ा हो जाना भी जायज़ है।
    #malharism
    #miraquill

    Read More

    जाते हुए लोग कभी रास नही आये मुझे। जाते हुए लोगो को रोका भी तो नही जा सकता ना। मै समझता हूँ जाते हुए लोगो को मुड़कर नही देखना चाहिए। मुड़कर देखने से लोग दूर होते दिखाई देते हैं। और जबतक हम उन दूरियों के मायने समझते हैं तब तक वो नज़रों से ओझल हो जाते हैं। और रह जाती है तो मन में बस एक कसक।

    मै समझता हूँ जिन्हें आप रोकना चाहते हैं उन्हे जाने ही नही देना चाहिए। हाथों को इतनी कस के भींचा जाना चाहिए कि जाते हुए कदम खुद-ब-खुद ठहर जाये। ठहरे हुए लोग अपने निशां छोड़ जाते हैं। कुछेक किस्से ऐसे भी होते हैं जहाँ पर जाने वाले लोग फिर कभी लौटे ही नही। इंतज़ार में आखें इतनी बूढ़ी हो जाती है कि वापस आने वाले लोग धुंधले से नज़र आते हैं। पर मेरा मनना है कि जब जाना तय है तो आने की कोई खास वजह नही बचती। बचती है तो सिर्फ हृदय में महसूस होती सिहरन।

    ©malhar_

  • malhar_ 18w

    रोहन कल से गायब है। कुछ पता नही कहां गया। आखिरी बार यही बेड पे बैठा चाय पीता नज़र आया था, ऐसा उसके घर वाले बता रहे है। बगल वाले विनोद अंकल को शक है कि उसे कोई गायब कर दिया होगा। माँ की परेशानी को बंद आँखों से भी देखा जा सकता है पर उसकी बेचैनी को मापा नही जा सकता। एक बाप जो अपने जवान बेटे के लापता होने से बौखलाया हुआ है, कुछ बोल नही रहा। कहते है आजकल के बच्चों के बारे में जनना हो तो उनके दोस्तों से पूँछा जाना चाहिए। अगले पाँच मिनट में उन सभी दोस्तो से पूँछा गया जिन पर रोहन का अटूट विश्वास था। ये आश्चर्य की ही बात थी कि किसी को भी रोहन का पता नही था।
    पिछले दो दिनो में चार बार दोस्तों, रिश्तेदारों से पूँछा गया, जब निराशा हाथ लगी तो माँ ने भी अपने होश खोने शुरू कर दिये। ये असहनीय पीड़ा थी, जिसे सहन करने के लिए कोई यंत्र नही बन पाया तब शायद ईश्वर ने बाप बनाया। उस माँ की किसी भी बद्दुआ का असर किसी पर नही पड़ा, रोहन अब भी गायब था। रिश्तेदारों से पता चला रोहन बारहवीं में 93 परसेंट मार्क्स लाया था, घर आने के बाद पिता की दुकान में हाथ बटाता था । इससे पता चलता है कि रोहन एक कर्मठशील लड़का था। अभी तक किसी ने भी उसके गायब होने की जिम्मेदारी नही ली थी । थक हार कर आखिरकार पुलिस में रपट लिखवाई गई, छानबीन शुरू हुई। शुरूआत रोहन के घर से हुई। उस घर में रोहन का बचपन मिला, उसकी शरारतें मिली, रोहन के खिलौने मिले, रोहन के 93 परसेंट मिले पर रोहन कहीं ना मिला।
    बाहरी पूँछताछ से पता चला रोहन दो दिन पहले ही जा चुका था। कहाँ? चार कांधों पर कहीं तो ले जाया गया है उसे जहाँ से वापस आना मुमकिन नही। माँ-बाप के इस मर्ज का कोई इलाज नही था। पुलिस जा चुकी थी। माँ- बाप के कहने पर रोहन के लापता होने के पोस्टर लगवा दिए गये थे।
    कुछ महीनों बाद पता चला रोहन के माँ-बाप गायब हैं।
    _________________________________________________________
    दादा जी मुझे तारा नही बनना।
    क्यूँ?
    तारे टूट जाते हैं।

    #fromnotepad
    #malharism
    #mirakee

    Read More

    गुम हुए लोगों की तलाश आज भी जारी है,
    और ये अनंत काल तक चलने वाली खोज है।

    ©malhar_

  • malhar_ 19w

    मै समझता हूँ बचपना करने की कोई उम्र, कोई हद नही होती। मुझे लगता है कि मै चाहे कितना भी बड़ा क्यूँ ना हो जाऊँ पर मुझे रेलवे स्टेशन, मुड़ते हुए रेल के डिब्बे, उन डिब्बों की खिड़की वाली सीट पर बैठा मै, पटरी बदलती रेलगाड़ी की आवाज, हमेशा से मुझे असीम खुशी देते रहेंगे। हो सकता है मै अपनी जिंदगी के आखिरी पड़ाव पर रहूँ पर फिर भी मुझे ये खुशी देते रहेंगे।
    काॅलेज से घर की दूरी इतनी कम है जितनी हमारे समाज की सोच बस इतनी, फट्ट से घर आ जाता है। पर घर पहुँचना उतनी खुशी नही देता जितनी खुशी उस सफर में है। भागती हुई सड़के बहुत पसंद है मुझे। दौड़ते हुए पेड़ों की खास बात ये है कि वो कहीं जाते नही। एक बार सफर करते हुए दो लोग मिले, उनमें से एक ने पूँछा कि खुशी के क्या मायने है। दूसरा व्यक्ति जो एक हाथ में सिगरेट लिए था और दूसरे हाथ में अपना बेशकीमती मोबाइल पकड़े था, बाहर देखते हुए उसने घर, पैसा, नौकरी और ना जाने क्या क्या कारण बताये पर एक भी ऐसा करण नज़र नही आया जिससे मुझे खुशी मिले। तब समझ आया सबकी खुशी के अलग मायने हैं। पर उम्र के साथ हम अपने दायरे जब सीमित कर लेते है तो हमारी खुशियाँ भी सीमित हो जाती है। सीमित दायरों का कारण हमारा समाज है जिस पर कुछ भी कहा जाना व्यर्थ सा है।
    जब हम छोटे होते थे तो बारिश में भीगना हमें पल में ना जाने कितने जनमों की खुशियाँ दे जाता था, और अब ये सब बचकाना सा लगता है। हम उन खुशियो की तरफ भाग रहे हैं जो शायद एक दिन खत्म हो जायेंगी पर हमारा नाजुक हृदय ये महसूस करता है कि बारिश में भीगना, दूर क्षितिज को देखना, रेलगाड़ी के डिब्बों का मुड़ना , पटरियाँ बदलती रेलगाड़ी की आवाज सुनना और भागती सड़के हमेशा से खुशी देती आईं हैं।
    _______________________________________________________
    #fromnotepad
    #malharism
    #mirakee

    Read More

    मै समझता हूँ कि गम को जिंदगी का हिस्सा मान लिया जाये
    तो खुश रहने के बहाने खोजने नही पड़ेंगे।

    ©malhar_

  • malhar_ 21w

    उसे आईलाइनर पसंद था, मुझे काजल!
    वो फ़्रेन्च टोस्ट और कॉफ़ी पे मरती थी,
    और मै अदरक की चाय पे!
    उसे नाइट क्लब पसंद थे मुझे रात की शान्त सड़के, शान्त लोग मरे हुए लगते थे उसे, मुझे शान्त रहकर उसे सुनना पसंद था। लेखक बोरिन्ग लगते थे उसे।
    पर मुझे मिनटो देखा करती जब मैं लिखता। वो न्यूयार्क के टाइम्स स्कवायर,इस्तांबुल के ग्रैन्ड बाजार में शॉपिंग के सपने देखती थी, मै असम के चाय के बागानों मैं खोना चाहता था!मसूरी के लाल डिब्बे मैं बैठकर सूरज डूबना देखना चाहता था!उसकी बातों में महँगे शहर थे,और मेरा तो पूरा शहर ही वो! ना मैने उसे बदलना चाहा और न उसने मुझे।

    एक अरसा हुआ दोनो को रिश्ते से आगे बढ़े। कुछ दिन पहले उनके साथ रहने वाली दोस्त से पता चला वो अब शान्त रहने लगी है, लिखने लगी है, मसूरी भी घूम आयी है लाल डिब्बे पर अंधेरा होने तक बैठी रही है! आधी रात को उसका मन अचानक से अब चाय पीने को करता है! और मैं....

    मैं भी अक्सर कॉफ़ी पी लेता हूं किसी महंगी जगह बैठकर!!
    _________________________________________________________
    इस पोस्ट को दोबारा लिखने का सिर्फ ये मक्सद है की पहले वाली खो गई थी।

    #fromnotepad
    #malharism
    #miraquill

    Read More

    प्रेम में डूबे हुए लोग दूरियाँ नही नापते....
    कुछ दूरियों के मायने अलग होते है,
    कुछ मायने प्रेम के होते है।

    ©malhar_

  • malhar_ 64w

    कहते हैं मोहब्बत और फिक्र जुबां पर नही इंसान की आँखों में दिखाई देती है। सरगम की आँखों में मेरे लिए वही बेपनाह मोहब्बत मै देख सकता था। पर क्या ये सच नही कि वही अपनापन वही मोहब्बत मेरी आँखों में भी है! ये सच है यकीनन, बिल्कुल वैसे ही जैसे सूरज का पूरब से निकला सच है। वैसे इन्हें तो हम यूनिवर्सल ट्रुथ भी कहते हैं बस बिल्कुल ऐसा ही सच।
    मै सरगम के पास जाकर बैठ गया, उसके माथे पर हाथ फेरते हुए पूँछा,
    'आज कोई दवा मिस कर दी थी क्या', हांलकि मुझे पता था उसे दवा की जरूरत थी ही कहाँ!
    "वक्त पर दवा लेने से मौत टल जायेगी क्या?" कहते हुए सरगम मुझे देखने लगी और आँखों के किनारों से एक ओस की बूँद मेरे मन को झंझोर गई। मेरे पास कहाँ कुछ था कहने को। मेरे गले में जैसे कुछ अटक सा गया हो।

    सच ही तो कह रही थी सरगम...क्या सच में मौत टल जायेगी? ये सवाल मैने ना जाने कितनी बार अपने मन में दोहराया पर कोई जवाब नही मिला।
    सरगम ने अपने कांपते हुए होंठों से मेरे हाथों को चूम लिया। मै दायें बायें सरबजीत सर को देखने लगा, वो इधर ही देख रहे थे। मेरी नज़र उन पर पड़ी तो वो झेंप गये और अपना थका हुआ मन लेकर चले गये।
    'ये कम्बख्त दर्द भी ना मेरी जान लेकर रहेगा...'
    ऐसा नही कहते सरू, बी स्ट्राँग ना...
    पर मुझे पता था जिस 'दर्द' का जिक्र सरगम कर रही थी उस दर्द को मै अच्छे से जानता हूँ, पहचानता हूँ, बहुत करीब से देखा है उसे। दर्द हमारी अधूरी शादी का। अधूरी इसलिए क्यूँकि हमने अपनी कल्पनाओं में एक दूसरे से ना जाने कितनी बार कर ली थी....ख्वाबों वाली शादी। और अब इस ख्वाब के सच होने का इंतजार मुझे ताउम्र करना पड़ेगा।
    उस अंधेरे कमरे की ऐसी कोई दीवार पर टंगी तस्वीर नही जो उदास ना हो। सरगम की कथ्थई आँखें दर्द से चीख रही थीं और मै उसकी आँखों में हौले-हौले डूबता जा रहा था जैसे सूरज डूबता है समंदर की गोद में।
    ___________________________________________________
    तू धार है नदिया की, मैं तेरा किनारा हूँ
    तू मेरा सहारा है, मैं तेरा सहारा हूँ....��

    #part2 (इक दिन पूरी होगी)
    #fromnotepad
    #ek_mutthi_aasmaan (use hashtag for part1)
    #malharism #miraquill

    Read More

    हर मर्ज का इलाज दवाएं थोड़े होती है...
    इंसान की जरुरत आखिर इंसान ही समझता है...
    वो जरूरतें जो कभी पूरी नही होतीं।

    ©malhar_

  • malhar_ 65w

    रात चाहे अमावस्या की हो या पूर्णिमा की रात तो आखिर रात ही होती है ना, काली घनी रात जिससे मेरा कोई पहले का नाता लगता है। उस रात भी मै सूनसान सड़क पे गोल चौराहे से इतने तेज कदमों से चल रहा था कि समझ ही नही आ रहा था कि मेरे कदम भाग रहे हैं या मेरी धड़कनें। रफ्तार इतनी तेज हो चुकी थी कि मै लगभग दौड़ रहा था। रात के लगभग 2:30 बजे मै यूनिवर्सिटी से गुजर रहा था और आंकलन करने की कोशिश कर रहा था कि कितने मिनट अभी और लगने वाले थे मुझे सरगम के घर पहुँचने में। लगभग 5 मिनट और। सरगम यानी काॅलेज के दिनों की दोस्त या शायद दोस्ती से परे एक ऐसा रिश्ता जिसे बताया नही जा सकता बस महसूस कर लेना ही काफी है। आज उसे दिल की ऐसी बीमारी ने जकड़ लिया था कि दिल्ली मुंबई के हर बड़े डॉ ने जवाब दे दिया था। वो मंजर कितना भयावह होगा ना जब आपको पता चले कि आप कब मरने वाले हैं। हर दिन को अपनी आंखों के सामने कम होते हुए देखना कितना दर्दनाक होगा!

    जब मै पहुँचा तो सरबजीत सर यानी सरगम के बाबू जी एक हारे हुए सिपाही की तरह बाहर ही खड़े थे। पेशे से डॉ थे हर मरीज की तकलीफ समझते है पर जब आज अपनी ही बेटी की तकलीफ इतनी बड़ी महसूस हुई तो उन्हें खुद से कोफ्त होने लगी। जब भी मै उनके घर पहुँचता हूँ तो वो मुझे ऐसी आशा भरी निगाहों से देखते है जैसे एक छोटा बच्चा जब रुआसा होता है तो अपनी माँ को देखता है जैसे वो अभी उसे गले से लगाकर चुप करा लेगी। मै बस कंधे पे हाथ रख देता और वो सिवाय 'बेटा' के कुछ और नही बोल पाते। रात जितनी शांत थी मन उतना ही बेचैन हो रहा था। मै नॉर्मल होते हुए सरगम के कमरे में पहुँचा, वो दर्द से कराह रही थी। मेरा हर कदम उसकी ओर मुझे खींचे लिये जा रहा था। गर्म सांसें सर्द हो गईं थी। मेरे माथे का पसीना मेरे सीने में आकर मेरे कांपते हुए दिल को ठंडक देनी की कोशिश कर रहा था।
    आ....आप आ गये रो....रोनित, सरगम ने मुझे देखते हुए टूटे-फूटे शब्दों में कहा और उसके मुरझाये हुए होंठों पे हलकी सी जान आ गई।
    ___________________________________________________
    कुछ पाकर खोना है, कुछ खोकर पाना है,
    जीवन का मतलब तो, आना और जाना है.....��

    #part1 (आशा है ये कहानी अधूरी नही होगी)
    #fromnotepad
    #ek_mutthi_aasmaan #malharism

    Read More

    कहते है कि जब हम अनछुए पहलुओं को छूने की कोशिश करते हैं तो मन छन्न सा कांप उठता है जैसे कोई वादक सितार के तार छेड़ता हो।

    ©malhar_

  • malhar_ 72w

    Aaj ka bhandaara meri taraf se ....arey nacho rey nacho meri taraf se....��

    Someone : pr tum to party bole the....!!

    Kasam se gareeb ko kitna bhi sone ke mahal me bitha do pakdega vo hath me katora hi....abey bhandaara hai ye bhandaara....��

    Isse accha kuch nhi kuch nhi...
    Isse behtar kuch nhi kuch nhi..
    Isse sasta kuch nhi kuch nhi...����

    Phli baat ki mai Corona Kaal me bhi bhandara kr raha upr se inke alg hi shaukh hai...��

    *Sabji poori usi ko milegi jo mask lga ke aayega....

    Someone No. 2 : pr mask lga kr kaise khayenge...?

    Abey......Matha garam kr denge ye log...
    Tum phle ye btao tmko andr aane kisne diya....��
    ¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡/¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡¡

    Khair, suno saare mirakeans idhr dekho...
    Areeeeey pintu idhr kya mtlb...what is this behavior ..?
    Milega laddu bhi milega intzaar ka fal laddu bhi hota hai pintu...

    Okhay(okay), look at here guys...
    Kaali pahadi ke peechhe poora maidan khali pada hai...udhr hi stall sab lga hai....

    Entry gate pe hi hand sanitizer rakh hai ....sab hand sanitize kr ke hi andr aayenge...

    Vaise to mai ghr se sbko bartan thali laane ko bolta pr iss pandemic me saara intjaam kiya hai hamari team ne.
    Aur jaate wqt gate pr hi hamare assistant log aapko cake ka dibba denge. Khali hath nhi bhejna chahiye na.
    Chalo fir milte hai bhandaare pe huuurrrreeeeyyyyyy ......��������
    ___________________________________________________

    Sab line se chalenge line se...
    Arey jain ruk jaa bhai ruk jaa sabko milega....kaahe kooda jaa raha hi....wait for a while na yr....corona vaise hi chal raha hai ussi me tu dhakka mukki shuru kr deta hai....
    Ye sab chalega nhi...maintain 2 गज की दूरी atleast.

    Arey chintu kaha beta...tu dhuns le phle ghar ke liye baad me pack kr lena..kahi bhaaga nhi jaa raha. Kasam se narak machaye hain. ��

    (Hum mummy se phle hi kah rhe the bhandara na krao ye apni aukaat pe aa jate hai...jaahil, jungli ban jaate hai.)

    Tum kya tukur tukur humko dekh rahe ho ....free me paise thode diye hai..dj wale ho koi tadkta bhadkta nagma lgao...������

    Meanwhile dj wala: ek pyr ka nagma hai maujo ki....

    Aye aye bhai thama thama....काये चाल्ला काये!! B'day party hai maatam me thodi aaye ho. ��

    Aftr a while dj wala:
    teri aankhya ka yo kajal dhinchik dhinchik yo yo boom .....��������arey darwaje ko kundi maaro koi na bach ke jaane paaye....dhichik boom boom dhichik dhichik boom boom.... Kham(come) on guys let's do dhinchik dhinchik...����

    *arey sharma uncle aap idhr...ye mirakeans ke liye bhandaara hai aap kaha chalo chalo get out get out....
    Accha suno aap ki bitiya kaha hai....��������
    ----------------------------------------------------------------------------------
    Aye aye bhai....udhr kya ho raha hai kaahe maara peeti ho rahi.....
    A mirakean: rasgulle ke liye ...

    Rasgulle ke liye ..!!�� Kasam se hadd hi ho rakhi hai mtlb...aaram araam se lo yr ....crime petrol ka episode yahi bana doge kya ab.
    ----------------------------------------------------------------------------------
    Someone to dj wale babu: hey bros play some rocking songs buddy....

    Dj wala's josh beyond infinity :
    No gyal can tell me 'bout my mother 16 shot, we go longer than a ladder.....
    Rah-ta, rah-ta Ka-kah, ka-kah, ka-kah Rah-ka-ka-ka-ka-rahh! Bhoooom ...����������
    Darwaje Ko Kundi Maaro Koyi Na Bach Jaane Paaye Dj Ko Samjha do.....dj wale babu mera gaana baja do gana baja do...3 2 1 dj ko smjha do Party all night ho ho party all night we do dj manish Kanpur 8934****** dhinchik dhinchik dhinchik...

    (nhi tum phle apne khandaan ka intro de do apna kya hai apne pass saara jeevan pada hai.)

    .......we do party all night hoye hoye hoyeee tunuk tunuk dhun dhun tunuk tunuk dhun ta na na...dj mix arey abhi to party shuru hui hai...
    Party krni hai, party krenge, kisi ke bhi PA-PA se nhi darenge............

    * public including me: Abey dj kyu band kr diya bey....kaun hai bey...

    Papa: hum hai bey....
    Me: arey papa aap hehehehe yaha.....
    Papa: ye kya gana baj raha tha abhi, kisi ke bhi PA-PA se nhi darenge....
    Me: hehehehe arey papa vo to gana .....��

    Papa to mirakeans: beta tum log enjoy kro...hum jara inse baat-cheet krke inhe bhejte hai....��

    Me: ����
    Mirakean crowd: oye gaana chalao reeeyyyyyyyyyyyy.....����������������
    ________________����������������_____________
    Hey guys agr aapko party acchi lgi ho to like kre share kre aur tab the bell icon ....mai party me aane ki haalat me nahi hu dobara...������ I hope aap sabhi ne enjoy kiya hoga...��

    But apart from jokes....mere day ko special mtlb bahut hi jyda special banane ke liye har ek ka bohoot bohooot shukriya.��

    Belil chi naagin nigali ...Oye oye.....Munna cha goda ya lagla...Hoye hoye....��������
    ___________________________________________________
    #partykarnihaipartykrenge
    #sablinesejyengekoidhakkamukkiidhrnhikrega
    #chalofiraglesaalmiltehaiidharhi
    #tabtakkeliye ..... #tunuktundhuntanana ��
    #tumlogokiitnimehnatkeliyebahutbahutdhanywadbhailog #memeshimeme ��
    #malharism #ZindgiMalharHai.��
    Iss bhandaare me har kisi ka welcome hai...

    Read More

    Thank you each n every guy on mirakee.

    Enjoy this Rapchik BHANDAARA

    ©malhar_

  • azad_pankti 72w

    @malhar_
    #jindagimalharho
    #malharism

    So at last happy birthday wish bhai ��

    Read More

    No body

    Literally nobody

    Le Malhar* let'zzz post a sarcastic one liner
    ©azad_pankti

  • wannabecreative 72w

    �������� Suniye Suniye Suniye! ��������

    Deviyon aur sajjanon (and everyone in between), Aaj mere paas ek special announcement h... kripya dhakka mukki na kare aur shanti se sune ��

    Aaj mujhe bahut bada eilan karna h!

    Aaj ka din, i.e. 10 September, aaj se manaya jayega as
    �� "The Mirakeial Pagalpanti Diwas" ��
    *Taliya* ����������������������

    Aap sabhi ko Mirakeial Pagalpanti Diwas ki hardik shubhkamnaye! ❤️��

    Kya kaha aapne? Aaj hi ka din kyu? Arre... Kyuki aaj hi k din janam hua tha iss sadi k sabse mahan pagal ka��
    Kya kaha aapne? Wo koun h? Arre... Wo aur koi nhi balki @malhar_ h! ��
    *Taliya taliya* ����������������

    Ab aap mai se jin mahapraniyon ko iss mahaprani k baare mai nhi pata, unke liye,

    Yeh wo ladka h jo bas khushiyan batta h
    Apni problems share nhi karta, par tumhari problem samjhta h
    Yeh ladka sabse alag h,
    Yeh dikhawa nhi, dosti karta h
    Aapke aasuon ko bina dekhte hi hasi mai badal deta h
    Bin kahe hi sari firak dikha deta h
    Yeh ladka sabse alag h,
    Yeh gum nhi, muskan failata h
    (Chal tune jo jo bola tha likha di... rokda paytm kar diyo��)

    Yeh wo pagal h, jo sabko pagal banata h... Matlab pagalpanti ka aisa namuna aur kahi dekhne nhi milega aapko yeh meri guarantee h��
    Kabhi kabhi lagta h ki serious ho hi nhi sakta yeh prani.... Par kabhi kabhi hum sabko shock karke samjhdari ki baat kar deta h (ab meri sangati ka asar toh hona hi tha��) aur kabhi kabhi toh ekdam dil-o-dimag hila dene wale posts karta h...
    Ek khaas baat aur h iski, yeh trend follow nhi karta, heart follow karta h... Jo yaha bahut kam dekhne milta h.... Iska apna alag genre h.... #malharism
    Aur iski sabse badi khaas baat, iske friends �� Matlab iske dost itne achhe...itne acche...itne acche h ki kya hi bataye! �� Matlab ek se badhakar ek guni logo ko friend banaya h isne...yeh bada mast kaam kiya h!

    To malhar ~
    Vaise toh kai kisam k log mile mujhe...par teri breed ka bail pehli Baar dekha h, jisse baat karte karte sadness apne aap side ho jati h
    Kehne ko toh ek dusre ko nhi jante hum, ek dusre ki life k baare mai bhi kuch nhi pata, par baat karte time lagta h ki sacchi mai teri behen hu...
    Aur yeh sach h ki aaj tak hum dono ne ek dusre ka naam tak nhi pucha h, par aisa lagta h tujhe saalo se janti hu
    Mirakee par, mirakee kya shayad life mai tu pehla insan h jisne mujhe sikhaya h ki dosti mai formalities nhi hoti, bas tang khichai hoti h
    Jitni free tere saath hu, shayad hi kisi aur k saath hu main yaha....
    Tune mujhe dosti ka naya matlab sikhaya h...
    (Bas bas, ab ro mat dena itni tarif sunkar��)

    Oops �� happy birthday toh bola hi nhi maine ��

    ✨Happy wala birthday bhai, chhotu, chhoti, malhar, bakri, guruji, Vaibhav (yahi naam h n tera?��), Vaibhavi ��(for me), [aur bhi kai saare naamo se janti hu par wo sabke saamne kehna thik nhi hoga��]✨
    Tera gift →���������� (ja, aish kar ��)
    Bhagwan tujhe wo sab de jiske tu kabil ho aur wo bhi de jiske kabil nhi h...
    Kaash tu humesha hasta rhe, hasata rhe, aur yuhi bakaiti karta rhe❤️
    Ab aur nhi likh sakti main, but dil se wishes h tere liye...bas heart to heart feel kar lena ab main jyada nhi bolugi�� (vaise bhi main kam bolti hu��)

    P.s. Chal chal...ab jyada udd mat��

    #chhoteterabirthdayaaya #aajkipartyteritarafse #tumeratumeratumerabhainhihnhihbehenh #chalabenjoykariyoaajkadinaurbaakiksaaeredinbhi #happyborndaydhartikbhoj #mujhedarrhkitujhediabeticsnahojayeitnipyaripyaribaateinpadhkar #jobhihoyrtuapunkabhaih

    Read More

    .

  • azad_pankti 72w

    To kaise hai aap log . Haa thik hi hoge to chalo chalo aaj n bhut bada kaam krna h apne ko sab mere saath ready ho jao ekdum high josh me .
    Aaj mera lecture sunna h sabko. YaY!!

    Apne life me ap log bhut log se milte hai sabki apni apni importance v hoti h pr kuch log hote h jinke saath aap actually me wo ho jate hai jo aap ho full jhalli , bailo wali harkat krna aur v bs maje lena lyf k mtlb unke saath lagta h ki nhi sadness ko v roast kra ja sakta h.
    Pr
    कितनी अजीब बात है न जिनके साथ आप एकदम झल्लीपन, वेल्लालन वाली हरकत करते full excited mood में रहते उनके लिए सबसे ज्यादा इमोशनल भी हो जाते हौ।
    ,Haa aaj kisi ka b'day hai wo bole to fulll roxxxxxxx hai rapchik ekdum , mtlb do baat kr lo mai kh rhi din bn jata h.
    Wo bailo ka sardar hai , gurudev hai and ofcourse a dhasu writer , apn ki vibes usse bhut match marti h re.

    Kattai khooooool person hai wo . Ek sec nhi nhi dekho dekho wo sab h bs person nhi hai �� haa bailo �� ki shreni me rakh sakte ho use.


    I used to be the same not believing in social media but just like others mirakee changed
    Mah perception too .
    I made so many friends here and they have had become a important part of my life but some people make up ur life and he is that .
    Mujhe to naam v nhi pta uska shi shi na kabhi pucha kykoi wo to mallu bhiaya hai shuru se mera .
    Pr mera din banane k liye uska naam kafi hai .
    (Aafffff mai jada emotional ho rhi so ab is chapad chapad ko aside krte hue let's goo for main kaam )

    So kham(come)'on ga is let'z wish a grand happpppppppppppppyyyyyy wala Birthday to one and only @malhar_
    Are bolo happy b'day mai janti hoo bs padh rhe ho aap sab happy b'day to you nhi bol rhe chalo chalo taali bajao aur bolo
    Happy birthday to you ji ,
    Cake shake hai to khilao ji,
    Aese hi tum buddhe hote rhoge
    Hmko usse kya mtlb batao ji.

    Happy Birthday to you ji whoa������.

    Kyo re aaj to tera b'day hai phir tu budhha ho jaega fir mai teko bhaiya se budhhe bulaungi ..... hayeeeeeeeeeee ��

    ����������������������������������������������������������������������������������������������������������������������������������������������������

    Ek chawanni bhar ki poem likhi tere liye I know thoda formal hoga pr u know wo aaj emotional se mausam ho gya h so jhel le bs I know tere level ka nhi h pr ab kya kr sakta hai bhn hoo jhelna to padega hai

    To shuruaat krte hai




    Taali waaali nhi bajaoge are waah waah kro thoda mahol banao.

    Kattai lazyyyyyyyyyyyyy ho huh...����


    So seriously ab sun bhai . ☺️☺️☺️
    बातें तेरी मुझे सच्ची की लगती हैं,
    तू कोई अपना सा लगता है ।
    तेरी डाट भी मुझे अच्छी लगती है।
    हकीकत कुछ; सब सपना सा लगता है।

    बैठे बैठे मैं यूँ ही मुस्कुरा देती हूँ ,
    साथ तू भी हस्ता हुआ सा लगता है।
    तुझे सोच सारे गम भूल जाती हूँ।
    ना हो के भी , एक साथ सा लगता है ।

    कभी बातें तुझसे हज़ार होती हैं,
    कभी गुमसुम मैं को सुनता सा लगता है ।
    तेरी दुनिया की मैं किरदार छोटी हूँ,
    पर तुझसे मुझे एक रिश्ता सा लगता है ।
    तुझसे एक अहम रिश्ता सा लगता है ।
    अहम रिश्ता से लगता है,,,,,,,,,,,,,,,,,


    ~azad_pankti

    So once again a very happiest craziest Birthday �������� wish to a awezing writer , a best Bróther and bestest person .
    May baba malhari blesse you and bless you with happy healthy and cheerful life .
    May God bless with everything bhai you want . And yes life hai to problem v hogi pr apn h n tere saath problem ab hmare hawale satiyo tu bs maje kr bhai hmseha happy wala rh .

    Ye le blank space bhar le isme sab wish bhar le .
    ________________________________nth time .

    Aur bhut lamba ji k kya krega apn ki gang swarg me v panchayati kregi ..
    Party hardich krne ka bhai.������
    Aur laddooo pr to haq h hamara smjha .
    Bs tu aese ich rhe ekdum full rapchik roxxxxxx ��������������

    Happy wala Birthday wish Bhai ��������������������������������������

    Happy Birthday to you kh diya hai ji,
    Tum to aur v buddhe ho gye o Teri��
    Dil chhota n kro umr ka hai kya,
    Baal jhadenge daat girengi waise hi .
    Happy Birthday to you ji ��������

    मुँह न बिगाड़ो ,आज तुम्हारा बर्थडे है।
    तुम अकेले हों नहीं यहाँ और भी बुड्ढे है।��������☺️
    #jindagimalharho
    #happybirthday
    #malharism
    @malhar.
    #happybirthdayvaibhavbhai
    #partyhardichkrnekabhaifulllroxxxxxekdumpurahiladenekaaursunmekocakemabdapiecechahiyehaanitowarnamaiauntyseshikayatkrdungiaurwomekotujhsejadamantiai
    #onceagainhappybirthdayvaibhavbhai
    #sorrypuchuterahastagkawaychorikiyapruknowapndonochangumanguhain

    Read More

    साल गुज़रे कुछ ऐसे की, दिन बहार के हो,
    खुशियों के गीत हों और राग मल्हार से हों।

    May baba MALHARI bless you .
    ©azad_pankti

  • malhar_ 81w

    शायद सपने पूरे भी हो जायें....
    पर उन सपनों को पूरा करने के लिए बहुत कुछ अधूरा ही छोड़ देना पड़ता है।

    #malharism
    #fromnotepad

    Read More

    छोटे शहर के लड़के सिर्फ सपने नही देखते...
    वो खुद को उन सपनों में एड्जस्ट करने की कोशिश करते हैं।

    ©malhar_

  • malhar_ 81w

    तुम उन लौंडो की डेरिंग का लेवल नही जान सकते जो ग्रेजुएशन के 1st इयर मे भी घर वालों को बिन बताये Jee का अटेम्प्ट देते है। साला हम तुमको बता रहे है संतोस जिंदगी मा एकै साथ सब खुसी मिल जाये तो बहुते बड़ी बात है। साला तुम्हाई किस्मत बहुत जबर है...लौंडिया भी पटा लिये हो और साला IIT में दाखिला भी ले लिये हो। साला ई भगवान भी हमरी जिंदगी मा कौनो खुसी नही लिखे है। तुमका भी अब IIT मिल गया है, साला तुम हमको भूल तो नही जाओगे ना।"
    का बक रहे हो बे तुम साला, हम तुमको भूल जायेंगे!! तुम सोचे भी कैइसे...।आज फिर तुम पी के हमसे बात कर रहे हो ना, साला जब तुमको उसका याद आता है तुम पी लेते हो।'
    त का करे संतोस, हमाये बस मा थोड़े ना है।"
    हम साला तुम्हाये ऊपर ट्रक चढ़ाये देंगे, हम पहिलेही बोले थे ऊ सही लड़की ना है तुम्हाये लिए। आज ऊके चक्कर में ना पड़े होते ता साला साथ मा पढ़ रहे होते हम दोनो।'
    अब साला तुम हमको ज्यादा ज्ञान ना पेलो संतोस।"
    बहुते मारेंगे हम तुमको, साला तुमको हमाई कसम है आज के बाद तुम पी के आये तो।'
    त का करे संतोस तुम्हई बताओ, साला घर में भी कौनो ठीक से बात नही करता।"
    हम नही जानते कुछ तुम ऊ लौंडिया को फोन नही करोगे।'
    हम कुछ कर बइठेंगे साला संतोस।"
    साला तुम फिर फालतू बात किये ना, तुमको कुछ हो गया ता सोचा है घरवालों का क्या, हमरा का होगा।
    तुम साला हमसे बात ना करो हम धर रहे है फोन।'
    ___________________________________________________

    यारी तेरी यारी चल माना इस बारी,
    सारी मेरी फ़िकरें तेरे आगे आके हारी
    खूब है लगी मुझको तेरी बीमारी....����

    #malharism
    #fromnotepad
    #atrangiYaari

    Read More

    बड़ी शिद्दत से तुम मिले हो...
    तुम्हें खोने का मेरा कोई हक नही।

    ©malhar_

  • malhar_ 81w

    अच्छा चलता हूँ...
    तुम्हारा ये कहना मुझे कभी पसंद नही आया। और तुम्हारा कह कर चले जाना मेरी हर तन्हा रातें इसका बदला मेरी आंखों से लेती हैं। पर अब ये आदत सी बन चुकी है।हम जिससे मोहब्बत करते है उसमे हम खुद को ढूढंते है।हर वक्त उसके भीतर झांक कर ये देखना चाहते है कि हम उसमें कितना हैं....या हैं भी या नही। और अगर नही हैं तो क्यों नही हैं? क्या कमी रह गई मेरे प्यार में? जब हम प्यार में होते है तो हमे दूसरों की गलती दिखाई ही नही देती, हमे हर वक्त यही लगता है कि शायद मेरी ही कोई गलती होगी.....शायद मै ही गलत थी।
    शामें तो बहुत आयेंगी मगर इस शाम जैसी फिर कोई शाम नही होगी, जहाँ समंदर की गोद में डूबता सूरज तो है, बारिश की बूंदें इठलाती हुई जमीं चूमती तो हैं मगर मेरे अंदर की बारिश ना जमीं को चूम रही है और ना तुम्हें। वो शाम हमारी आखिरी शाम थी, हमारे कमजोर डोर की आखिरी शाम....हमारी आखिरी मुलाकात की आखिरी शाम। हमारे बहुत से अनगिनत सपनों की आखिरी शाम जिसे हम दोनों को मिलकर पूरे करने थे।
    ना जाने तुमने इसी काॅफी कैफे में क्यूँ बुलाया था, जहाँ हम पहली बार मिले थे। कहने को तो हम सिर्फ 2 मीटर की दूरी पर बैठे थे पर जो दूरी हमारे बीच पनप चुकी थी इसको नापने का कोई यंत्र है ही नही। तुम्हारी लड़खड़ाती जुबां से ज्यादा तुम्हारी आंखें बोल रही हैं। तुम्हारे जज्बात तुम्हारी आँखों से लुढ़कते हुए मै देख सकती हूँ, जिन्हें छिपाने की तुम नाकाम कोशिशें कर रहे हो।सामने दो काॅफी रखी जरूर है पर मै आज भी चाहती यही हूँ कि हम सिर्फ एक ही काॅफी से पियें, हमेशा की तरह। हमारे बीच एक बेचैन भरी खामोशी है, जिसे ना मै समझ पा रही हूँ और ना तुम....

    ___________________________________________________

    हमको मिली हैं आज ये, घड़ियाँ नसीब से
    जी भर के देख लीजिये, हमको क़रीब से
    फिर आपके नसीब में, ये बात हो न हो.....����

    #malharism
    #fromnotepad

    Read More

    कुछ किस्से अधूरे होकर भी पूरे लगते हैं...
    जैसे कुछ किस्से किसी ऐसे अल्प विराम पर आकर ठहर से जाते हैं मानों पूर्ण विराम तक उन्हें जाना ही ना हो।

    ©malhar_

  • malhar_ 82w

    जिन मुसाफिरों की मंजिलें अलग हो जायें...
    फिर वो साथ नही चला करते।

    ©malhar_

  • malhar_ 82w

    Bhai tmhara next level hai yr.....����
    Shubh kaam me...Na na na....Koi deri nhi...��

    #malharism��
    #miraquill

    Read More

    Crush: hey

    Me: yr mummy papa se bolo 50 logo ki list bana le, kaun kaun jyega shadi me....

    ©malhar_

  • malhar_ 101w

    झूठ वहाँ बोलना चाहिए जहाँ,
    सिद्ध ना हो सके कि ये सच है।

    ©malhar_

  • malhar_ 102w

    Desi me feel hai....��

    #malharism
    Gonna mad....����������
    #miraquill

    Read More

    क्या रखा है बीड़ी, सिगरेट और सिगार में,
    कुछ दिन तो गुजारिए देसी ठेका शराब में।

    ©malhar_