#khyal

206 posts
  • night_mist_ 2w

    waqt-be-waqt tera khyal aata hai ,bhul jaata hu ab tu nahi hai mere sath ,lekin kya karu kambhakt yeh dil mera aaj bhi teri fikar karna nahi bhulta , nahi bhulta hu teri woh baatein jinme tu thi sath mere ,nahi bhulta hu mai tera woh masum chehra , hirni si aankhe ,lambe syaah baal tere , nahi bhulta hu tera mera khyal rakhna ,nahi bhulta hu woh keemti waqt jo ab kabhi nahi ayenge meri zindgi me ,tujhe na bhul paaun isliye mera khud ko hi bhulna behtar hai
    #miraquill #waqt #yaadein #lamhe #pal #aansu #khyal

    Read More

    Dil

    Tasveero me jhalakte woh keemti pal aankho ki nami chura lete hai ,tuta hua dil ek zinda insaan ko bhi laash bana dete hai
    ©night_mist_

  • s2sumit 9w

    किसी ने पुछा तुम्हारे अल्फ़ाज़ दिल को छू जाता है
    तुम्हारे दिमाग में ये सब कहा से आता है?
    मैंने मुस्कुराया और कहा
    गुज़ारे है हमनें भी न जाने कितने ऐसे पल
    आ ले चलु तुझे भी अपनी दुनिया में,
    अग़र तैयार है तो चल

    कोई कभी किसी के लिए तो, कोई किसी के वजह से रोता है
    डायरी हमारी खुली रहती है, जब सारा जहाँ ये सोता है

    यूँ ही नहीं निकलते अल्फ़ाज़,
    दिलों को हादसो के बिच से गुज़रना होता है
    कई दफ़ा तो हमें जीते जि,
    अपने हीं ख्यालों में मरना होता है
    जब ये सारा जहाँ किसी ख़ुशी या उलझन में
    व्यस्त रहता है
    उस वक़्त ये शायर अपनी कल्पनाओं की दुनिया में
    मस्त रहता है
    ©s2sumit

  • prashant_20 17w

    एक सवाल

    ये एक ही सवाल मुझे बहुत तड़पाता है
    सारे शहर में है नाकाबंदी फिर भी तेरा खयाल आ ही जाता है
    ©prashant_20

  • ritukumarchand 22w

    ♥♥

    Khyalon mein nhi
    Dil mein zinda rehna hai
    Sirf haath nhi tera
    Zindgi bhar saath dena hai
    ©ritukumarchand

  • 29_writing_addict 24w

    .

  • classicalwriter 26w

    Kuch Aisa Kardo❕

    Mere Na Ho Sake To Kuch Aisa Kar do, Mai Jaisa Tha Mujhe Waisa kar do .
    ©classicalwriter

  • sukh_kailey 29w

    ਤੇਰੇ ਨਾਲ ਭੁੱਲ ਕੇ ਵੀ ਅਸੀਂ ਹੁਣ ਟਾਈਮ ਨੀ ਪਾਉਣਾ
    ਭੁਲੇਖੇ ਤੂੰ ਦਿਲੋਂ ਕੱਡ ਦੇ ਸੱਜਣਾ ਕਦੇ ਅਸਾਂ ਹੁਣ ਤੇਰੇ
    ਨਈਓਂ ਹੋਣਾ ਤੇਰਾ kailey ਤੇਰੇਆਂ ਖਿਆਲਾ ਵਾਲਾ ਉਹ ਨਾ ਰਿਹਾ
    ਸਾਡਾ ਤੇਰੇ ਵਰਗੀਆਂ ਵੱਲ ਬਾਹਲਾ ਮੋਹ ਨਾ ਰਿਹਾ
    ©sukh_kailey

  • aghora 30w

    खयालात

    एक अजीब खलिस सी है तुझे
    इन कागज़ों पर उकेरने की,
    खयाल करता हूं अल्फाजों को
    इक डोर में जो पिरोता हूं।

    कलम को कागज पर फेरने की
    गुस्ताखी ज्यूंही करता हूं,
    तो ये कमबख्त स्याही है कि
    यार वफा नहीं करती।

    ये खयालात हैं कि जी में जहन
    में नहीं टिकते आवारा से,
    पिरोयी डोर को एक एक कर छोड़
    अंजान ओर निकल पड़ते हैं।

    ©aghora

  • iam_dk 30w

    आज़मा

    आज़मा लो मुझे चाहे जितना,
    मैं डरता नहीं हूं ।
    पर मुझे सोच समझकर खोना,
    मैं फिर से मिलता नहीं हूं ।।
    ©iam_dk

  • ynandini_ 40w

    Tu hi tu

    Fursat hi nahi milti duniya k liye..
    So jaoo to khwab tera..
    Jag jau to khayal tera..
    ©ynandini_

  • jigna___ 46w

    वक़्त नहीं लगता निशाँ को,बेनिशाँ होने में,
    ज़रूरी है याद रक्खा जाए कि कदम बढ़े थे।

    पूरा लिखा जा रहा है------- ये कैसा लगा ?

    Jignaa
    ©jigna___

  • quotescribe 50w

    Kasak

    Ae katil e waqt mera
    hisaab karde

    Jo kuch rayt hua hai wo
    saaf karde

    Jazbaat mere the khyal
    sirf tera tha

    Mujhe khayalo se ab
    benaqab karde
    ©786irfan

  • jigna___ 51w

    मन की मुंडेर पे
    जब रात ढ़लती है
    तो खुल जाता हैं
    तेरी यादों का पुलिंदा
    जीर्ण से दिल की
    पोटली में..
    संभाल रखी हैं मैंने
    कुछेक ...
    विक्षिप्त सी बातें
    जिसने अनुभूति दी थी
    विलक्षण स्पंदन की
    और जब उषा खिलती है
    तिलिस्म होता है
    पुलिंदा अदृश्य हो जाता
    पर होता है वहीं
    मन की मुंडेर पे।
    Jignaa
    ©jigna___

  • greenpeace767 51w

    Khyal

    Meri khyalose mujhe bepanha pyar hay.
    Kiuki , aap Jo aha baste ho .
    Khyalome Mai aaksar bate karti hu ,
    Khyal banke aap Jo rahte ho .

    Khyalo me dubke bepanha sakun milti hay .
    Kiuki , khyal banke aap mujhe ghire rakhteho .
    Khyal se khudko aalag Karna muskil hay .
    Khyal me rooh banke aap mujhme samayeho.
    ©greenpeace767

  • oshirofficial 51w

    शादी को
    एक पवित्र
    ही रहने देते।
    दहेज़ मांग कर
    तूने उसे बाजार की
    सस्ती चीज़ बना दिया।

    ©oshirofficial

  • jigna___ 52w

    झेल लियो

    खोने पाने के ड़र से अब हम आगे निकल गए है,

    खो कर ही ज्ञान पाते है, ऐसे ही ना उड़ेल रहे है।

    ***************************************

    कच्चा घड़ा ताप न जाने, कच्चा ही रह जाता,

    अगन सहना ज्यों आ जाता फिर टूट ना पाता।

    ***************************************

    हम बंधन में रहकर लिखने जाए तो लगे है ऐसे,

    पिंजड़े में बंद तोता बोलता सियाराम हो जैसे।

    ***************************************

    प्रेम पहले बावरा बनाए फिर सिखाता ठहरना,

    धागा कच्चा, वादा कच्चा, कच्ची राह गुज़रना।

    **************************************

    अस्तु।।

    बहुत ज्ञान दे दिए, कुछ भी मीटर में नहीं मीटर में दिमाग मिलीमीटर

    हो जाता है मेरा, मुझसे नहीं होता, झेल लियो।


    Jignaa
    ©jigna___

  • jigna___ 52w

    त्रिवेणी की मैं ना तो अम्मा हूँ ना ही नानी, यह गुलज़ार साहब की शोध है, जो मुझे बड़ी पसंद है। #khyal #triveni

    Read More

    त्रिवेणी

    तू नहीं तो अब बेफिक्री है,
    जज़्बातों की होनी बिक्री है,

    अलविदा महंगी चीज़ है।
    Jignaa
    ©jigna___

  • jigna___ 53w

    ना चीनी कम, ना ही ज़्यादा,
    करे तुझे पूरा उसका आधा,
    जितना हो उतना दिखाता,
    ना कोई कसम ना ही वादा,
    हाँ,पर ना कसम ना वादा,
    फिरभी साथ रहता सदा,
    चाहे कोई कुछ कहे,
    वो तेरे साथ का दम भरे,
    तेरी सच्चाई जानने,
    वो तेरा ही विश्वास धरे,
    वो ही हमदर्द, हमराज़,
    हमसाया,
    ना कोई नाम, ना ही रिश्ता,
    शायद सबसे सच्चा रिश्ता,
    ना चीनी कम, ना ही ज़्यादा,
    करे तुझे पूरा उसका आधा।
    Jignaa
    ©jigna___

  • jigna___ 53w

    निशाँ तो मिटने ही थे,
    रेत पर बनाए थे,
    सोचा था तिलिस्म होगा,
    लगा था घर आए थे,
    पहले लगा था,
    थी बवंड़र की साज़िश,
    पर मालूम हुआ,
    थी निशाँ की फरमाईश,
    आज उसकी जुर्रत तो देखो,
    अहमक कहे हमें,
    कि हम उनको बनाए,
    ना मैं कोई खास ना तू भी,
    खो जाने हैं सारे,
    वक़्त के भँवर में कहीं,
    भूल जाएंगे सब,
    बस न भूलेंगे हम ही,
    ये बात,
    जो मिटने पे तुले हो,
    न कभी बनाना ऐसे निशाँ!!
    Jignaa
    ©jigna___

  • vanshika__pareta0102 40w

    पागल से...!!

    वो लौट तो आये थे...पर अपने मतलब से,
    और हम पागल ये समझ बेठै....की हमारी दुआँ में
    दम था...!!

    ©vanshika__pareta0102