#khushbu

40 posts
  • sramverma 3w

    Date 27/12/2021 Time 12:00 AM #SRV #khushbu

    थका हारा सूरज जवान
    रात के पहलू में पनाह
    लेता है;
    ज़िन्दगी के सफर के
    तम्बू में सफर खुंटा
    गाड़ता है;
    जुदाई रास्ता रोके
    खड़ी हो जाती है
    उदास साहिलों पर;
    रेत की सूरत बिछी
    होती है सफ़र के
    आग़ाज़ होने पर;
    पर वक़्त से पहले
    जहाज़ों के बादबाँ
    नहीं खोले जाते है;
    क्यूंकि वो आराम
    फरमाने का सुकून
    हासिल करने का वक़्त
    होता है !

    शब्दांकन © एस आर वर्मा

    Image's taken from Google/Facebook/pinterest credit goes to It's rightful owner

    Read More

    थका हारा सूरज जवान
    रात के पहलू में पनाह
    लेता है;
    ज़िन्दगी के सफर के
    तम्बू में सफर खुंटा
    गाड़ता है;
    जुदाई रास्ता रोके
    खड़ी हो जाती है
    उदास साहिलों पर;
    रेत की सूरत बिछी
    होती है सफ़र के
    आग़ाज़ होने पर;
    पर वक़्त से पहले
    जहाज़ों के बादबाँ
    नहीं खोले जाते है;
    क्यूंकि वो आराम
    फरमाने का सुकून
    हासिल करने का वक़्त
    होता है !
    ©sramverma

  • sramverma 3w

    Date 25/12/2021 Time 11:39 AM #SRV #khushbu

    ख़ुशबू भरे दिन और
    रंगों भरी रातें रह जाती हैं
    भीगे भीगे से लम्हों की
    वो बरसातें रह जाती हैं
    थम सी जाती है सरगोशियाँ
    मगर वो बातें कान में
    लहराती हुई सी रह जाती हैं
    रात गुज़र जाती है लेकिन
    ख़्वाब डटे रहते हैं वहीं
    जागती आँखों में ख्वाहिशों
    की सौग़ातें रह जाती हैं
    जवानी बीत जाती है मगर
    उसकी रुमानियत रह जाती है
    ख़ुशबू भरे दिन और
    रंगों भरी रातें रह जाती हैं !

    शब्दांकन © एस आर वर्मा

    Image's taken from Google/Facebook/pinterest credit goes to It's rightful owner

    Read More

    ख़ुशबू भरे दिन और
    रंगों भरी रातें रह जाती हैं
    भीगे भीगे से लम्हों की
    वो बरसातें रह जाती हैं
    थम सी जाती है सरगोशियाँ
    मगर वो बातें कान में
    लहराती हुई सी रह जाती हैं
    रात गुज़र जाती है लेकिन
    ख़्वाब डटे रहते हैं वहीं
    जागती आँखों में ख्वाहिशों
    की सौग़ातें रह जाती हैं
    जवानी बीत जाती है मगर
    उसकी रुमानियत रह जाती है
    ख़ुशबू भरे दिन और
    रंगों भरी रातें रह जाती हैं !
    ©sramverma

  • sramverma 9w

    Date 12/11/2021 Time 1:13 PM #SRV #khushbu

    कल रात मेरी दोनों
    हथेलियाँ उस की
    ख़ुशबू में भीगीं थी;
    निश्छल आँखों के दोनों
    पर्दों पर एक उसी की
    तस्वीर चस्पा थी;
    मेरी जुल्फों में भी उसी
    का स्पर्श रमा था;
    जिन में उलझे उस के
    कुछ तो इंकार थे;
    और कुछ इरादे थे
    लेकिन मेरा दिल
    था जो उसकी रूह
    में ही अटका था;
    और उसकी सारी
    खूबियाँ मेरी ओर
    निरुत्तर सी देखी
    जा रही थी !

    शब्दांकन © एस आर वर्मा

    Image's taken from Google/Facebook/pinterest credit goes to It's rightful owner..

    Read More

    कल रात मेरी दोनों
    हथेलियाँ उस की
    ख़ुशबू में भीगीं थी;
    निश्छल आँखों के दोनों
    पर्दों पर एक उसी की
    तस्वीर चस्पा थी;
    मेरी जुल्फों में भी उसी
    का स्पर्श रमा था;
    जिन में उलझे उस के
    कुछ तो इंकार थे;
    और कुछ इरादे थे
    लेकिन मेरा दिल
    था जो उसकी रूह
    में ही अटका था;
    और उसकी सारी
    खूबियाँ मेरी ओर
    निरुत्तर सी देखी
    जा रही थी !
    ©sramverma

  • rhemant 15w

    Khushbu

    संगे मरमर सा बदन लिए,
    चांदनी रात में चमकती हो....!
    और...! खुशबू है क्या नाम तुम्हारा...?
    जो फूलों सा महकती हो....!!
    ©rhemant

  • _khwabeeda_ 27w



    ।। अपने इत्र की बोतल थमा गया हाथों में जैसे
    मेरी सांसों में रहने के लिए बेताब है वो ।

    मैने भी मंज़ूर किया के बस इत्र नहीं
    तुम्हारे पास होने का एक प्यारा एहसास है वो ।।

    सांसों में घुलते ही नज़र आने लगे तुम
    ये वहम है या खुली आंखों का ख़्वाब है वो ।

    मेरी बेखुदी है या नशा है इस बोतल में
    कभी लगती अफीम तो कभी लगती शराब है वो ।।

    महकने लगता है क़तरा क़तरा तेरी यादों से
    जैसे दिल में रखा तेरी यादों का एक गुलाब है वो ।

    नज़रें बंद कर देखूं तो हर तरफ़ तुम हो
    जहां नज़रें खुल जाएं , तेरी सिर्फ एक किताब है वो ।।

    जिस खुशबू के नशे में झूमते थे सारा दिन
    तेरे जाने के बाद महज़ एक अज़ाब है वो ।।
    ©_miku_

  • sramverma 29w

    Date 29/06/2021 Time 10:39 AM #SRV #khushbu

    ख़ुशबू जब जब
    बिखरे तो फूल
    मुस्कुराते हैं;
    पैमानों से छलक
    कर निगाहों में
    झिलमिलाते हैं;
    गुज़रते लम्हात
    यादों की कतरनें
    जोड़ कर ना जाने
    कब कोलाज़ बना
    लेते हैं पता ही नहीं
    चलता है !

    शब्दांकन © एस आर वर्मा

    Image's taken from Google/Facebook/pinterest credit goes to It's rightful owner..

    Read More

    ख़ुशबू जब जब
    बिखरे तो फूल
    मुस्कुराते हैं;
    पैमानों से छलक
    कर निगाहों में
    झिलमिलाते हैं;
    गुज़रते लम्हात
    यादों की कतरनें
    जोड़ कर ना जाने
    कब कोलाज़ बना
    लेते हैं पता ही नहीं
    चलता है !
    ©sramverma

  • yours_fortune 41w

    ____ ❤️❤️ KHUSHBU ❤️❤️ _______

    Khushbu name means fragrance. Your lucky number is 1. Khushbu she has great presentable skills and have attractive outward personality. She is bold, independent, outspoken and have uniqueness. Perception of development and versatile in action, no greed nor jealous about or from someone. She has big goals, and believes in taking small steps at a time. She is famous among her friends, and she gets the perfect life partner who not only loves her the most but support her unconditionally. She is someone who is blessed with everything a girl could wish for.

    K :- Knowledge sharing ideas inspires me a lot
    H :- Happiness is not an argument it's an attitude
    U :- Ur nature is ur future
    S :- She believed she could so she did
    H :- Hope but never expect, look forward but never wait
    B :- Bold, beautiful but still knows how to treat a human
    U :- Uniform and uniqueness that differentiate her

    Advice :- Khushbu, you have great capabilities and you can achieve what so ever you had dream of. But, overthinking is the biggest cause of your unhappiness. Keep yourself occupied, keep your mind off things that don't help you. Think positive, stay positive, be positive and have positive.
    ©yours_fortune

  • sunil_swami 82w

    अपने गाँवो की मिट्टी में अलग ही ख़ुशबू होती हैं
    जो तन और मन को पूरी तरह तृप्त कर देती हैं।

    #gaon #mitti #khushbu #villages

    Read More

    अपने गाँवो की मिट्टी में अलग ही ख़ुशबू होती हैं
    जो तन और मन को पूरी तरह तृप्त कर देती हैं

  • samriddhimourya 92w

    शहरों की चौड़ी सड़कों से होते हुए ,
    गाँव की गलियों से गुजरकर

    पेड़ों की डालियों से होते हुए ,
    पौधों की पत्तियों को छूकर

    सुंदर बगीचों से होते हुए ,
    फूलों की खुशबू लेकर

    पक्षियों के उड़ान के हौसलों से होते हुए,
    तितलियों के पंखों का रंग चुराकर

    हवा का एक झोका आया था
    साथ मे अपने एक प्यारी सी मुस्कान लाया था

    ©samriddhimourya

  • mahamantri_writes 96w

    जुल्फ़े

    इतवार की इस सुबह में बो
    छत पे जुल्फे सुलझाने आयी।।
    और उनकी जुल्फे तो सुलझ गयी
    मगर हम उनमें उलझ गए।।
    ©mahamantri_writes

  • manashh 102w

    Saase

    Jab tere kareeb aata hun toh pura mekhaa deti hai apne saaso ke sugandh se.
    Tere dhadakte wo tez dhadkan mujhe meri saase rokne par mazboor kar deti hai. Taki mera dill uski dhadkan sun sake tere un dhadaktein dill mein.
    ©manashh

  • writernilofar 103w

    खुशबू

    खुशबू का पीछा करते
    वीराने तक आ गए

    किनारे ही खड़े थे मुहब्बत के
    देखते-देखते दरिया में समा गए।

    गहराई में कितनी थी बेवफाई
    ये बात ज़माने को बता गए
    ©writernilofar

  • drayeshakhan 132w

    احساس

    احساس کی خوشبو سے خود کو رنگ دوں ذرا
    عشق اِ خدا میں اب جھولی بھر لوں ذرا ،
    کتنے وار ہارے ہیں اس نفس کے خاطر
    صراطُ المستقیم کا پھر وعدہ کر لوں ذرا

    Ahsaas ki khushbu se Khud ko rang dun zara
    Ishq e khuda Mai ab Jholi bhar lun zara ,
    Kitne waar hare hn Is nafs k khatir
    Sirat_ul_mustaqeem ka Waada phr krlu zara
    © drayeshakhan✍️

  • _rakhi 132w

    एहसास की ख़ुशबू से, तुम्हे पहचान जायेंगे
    तुम सुबह की storng coffee तरह महकती हो।
    ©_rakhi

  • bhuone 135w

    Mehki khushbu hawaon mai chhaai hai
    Ye barish kuch uske baalon ke
    Geele chheente bhi laai hai
    Badalon ke hatne pe numaish hui hai chaand ki lekin tasveer teri saamne aai hai

    ©bhuone

  • unvisitedyou 140w

    तेरी ख़ुशबू

    तेरी ख़ुशबू है उस बारीश की तरह,
    जो छुकर ज़मीं, मिट्टी को महका देती है।

    तेरी ख़ुशबू है उन किरणों की तरह,
    जो छुकर कली को, गुलाब बना देती है।

    तेरी ख़ुशबू है उन लहरों की तरह,
    जो किनारे बैंठे दिल में, प्यार जगा देती है।

    तेरी ख़ुशबू है उन गजरों की तरह,
    जो सज कर बालों में उन्हें, ज़ुल्फ़ें देती है।

    ओर, तेरी ख़ुशबू ‘ही’ है उस हवा की तरह,
    जो छुकर मुझे, आधी रातों में जगा देती है।

    तेरी ख़ुशबू ही ख़ुशबू है हर जगह,
    बस तेरे छुने का एहसास बाक़ी है,
    तेरी ज़ुल्फ़ों को उँगलीयों से सुलझाने का एहसास बाक़ी है।
    ©unvisitedyou

  • khanmt50 141w

    मुम्किन

    ऐसा नहीं हरगिज़ के फूल चमन में ही खिलें,
    आजातीं है पहाड़ों से खुशबुएं भी कभी कभी...
    ©khanmt50

  • urviii 141w

    तुम खुश्बू बनके आना मेरे जीवन में
    ताउम्र हम महकते रहेंगे
    ©urvashi43

  • lifeistooochota 144w

    Barso baad Khusbhu Suna,
    Teri Yaad Aagye..

    Tera Jism ki tarah tha,
    Bada badbuu sa

    ©lifeistooochota

  • hetal_gohel 146w

    खुशबु महकती हैं बदन से, तेरे नाम का जो ईत्त्तर लगाया,
    रोम रोम चहकती है, तेरे नाम का जो मरहम लगाया ।
    ©hetal_gohel