#just_a_written

5 posts
  • nishtha_rai 48w

    खुश थे हम ,आप मिले तो खुशियां बांट ली
    आपने आते ही हमारी सारी खामियां भांप ली

    आपकी उम्मीदें हमसे कुछ ज्यादा हो गई
    उन पर खरी उतरते उतरते मैं खुद में आधी रह गई

    अब आप चले जाएं और अपना हिसाब भी ले जाएं
    लौटा दें हमें हमारी खुशियां और अपनी फ़िक्र ले जाएं

    जाते जाते इल्ज़ामात का ठीकरा हम पर फोड़ते जाएं
    दुआ है कि खुश रहें आप और जिंदगी में आगे बढ़ जाएं

    ©nishtha_rai

  • nishtha_rai 66w

    चलो आज फिर से
    उस राह से मिल के आते हैं
    चलो आज फिर से
    इस ना मुकम्मल इश्क़ को तराशते हैं

    राह - ए - ज़िन्दगी में क़ैद
    कहीं छोड़ आए हम जो मुस्कुराहटें
    चलो आज फिर से
    उन्हें समेट के देखते हैं

    चलो आज फिर से
    सुबह उठते ही मुस्कुराते हैं
    चलो आज फिर से
    उन कश्तियों को पानी में उतारते हैं

    चलो आज उस मोड़ से फिर गुज़र आते हैं
    जहां मिलते थे हम छुप छुप के
    चलो आज फिर जरा शरमा के
    हिचकिचा के देखते हैं

    चलो आज इस बे मौसम बरसात में बह के देखते हैं
    नाराज़गी छोड़ एक दूसरे को माना के देखते हैं
    किसी दास्तां - ए - फसाने में खो जाते हैं
    और यादों के परिंदों को आज़ाद कर के देखते हैं

    चलो फिर अपनी ही कहानी में
    एक और हिस्सा लिख के देखते हैं
    आओ ना आज फिर से
    एक दूसरे से पहली बार मिल के देखते हैं..

    ©nishtha_rai

  • nishtha_rai 78w

    निगाहें ठहर गई वहीं पर
    जहां से निकले आज वो एक मुद्दत के बाद

    मुसाफिर तो कई आए गए
    इंतज़ार फिर जाने क्यों उन्हीं का रहा एक मुद्दत के बाद

    ख़ुदा तो नहीं है वो
    फिर जाने क्यों सामना कहीं हुआ नहीं फुरक़त के बाद

    तमाम खुश्बुएं, इत्र भी बेशुमार हैं
    फिर जाने क्यों है वही खुश्बु-ए-एहसास आज एक मुद्दत के बाद

    ©nishtha_rai

  • nishtha_rai 84w

    #just_a_written
    It always starts with little things. Those things that seem so ordinary and yet heartwarming.

    Read More

    Concomitantly

    Both started managing time for each other.
    Both spoke interrupting each other's flow.
    Both become silent waiting for other to speak first.
    Both started claiming rights over each other.
    Both insinuate each other to say.
    Both started enjoying each other's company.
    In spite of being in argument they never stop communicating.
    Both blushed, laughed and lost track of what they were saying.
    And...
    Both became one.
    Concomitantly!

    ©nishtha_rai

  • nishtha_rai 88w

    #just_a_written
    Good morning ��

    Read More

    Stranger

    Hey stranger,
    Who you are!
    Close to my heart
    Yet so far.
    Seeking you drives
    My passion.
    Your thoughts decorate
    My imagination.
    The increasing heartbeats
    I owe to you.
    Feeling of something
    I know through you.
    I have never seen you
    But it seems I know you fully.
    With this flow of emotions
    I find you so lovely.
    You will sneak into my life
    May be one day.
    Till then to the night of my life
    You will be sun ray....

    ©nishtha_rai