#jism

292 posts
  • shadesofyu 1w

    की थोड़ी देर और ठहर जाते,
    की थोड़ा वक्त और दे देते,
    की दिल टूट सा जा रहा है,
    टुकड़े टुकड़े उस दिल के बिखर रहे हैं,
    महसूस करिये थोड़ा,
    उस दिल की हलत,
    जिस्के आंसू निकल के भी नहीं निकल रहे हैं,
    उस जिस्म का,
    जो आपकी तलाश में अभी तक हैं,
    की थोड़ी देर और ठहर जाते,
    एक लम्हा अपने दिल पे,
    एक तस्वीर अपनी रूह में,
    की थोड़ी देर और ठहर जाते
    ©shadesofyu

  • rajeevdhiman 2w

    ऐसा हो गया हे आजकल इश्क ज़माने में।
    जिस्म लूटना पड़ता हे यकीन दिलाने में।।
    ©rajeevdhiman

  • khaire_patil 10w

    आजकल प्यार मामुली सा है
    जो हर किसी को, हर किसी से हो जाता है
    जो भाजी मंडई, बाजार, मॉल, रास्ते पे, किसी कोने मे
    हर जगह मिल जाता है
    अब ये प्यार उस जमाने का नहीं रहा
    जो आँखों से शुरू होके
    एक मुस्कुरहाट पे रुकता था
    एक खत, दो बातों पे
    खत्म हुआ करता था
    अब ये प्यार पैसों का, जिस्मों का भूखा है
    जो हर किसी को हर किसी से हो जाता है
    भाजी मंडई, बाजार, मॉल, रास्ते पे, किसी कोने मे
    हर जगह बिक जाता है
    अब ये प्यार भावनावों का मेल है
    दो जिस्मों का खेल है
    और
    एक दीन की जेल है
    ©khaire_patil

  • kingofdarkness 19w

    हवस्...

    *हवस्*....
    उतार् कर कपड़े मेरे से इश्क़ जताते हो,
    जिस्म की प्यास को तुम इश्क़ बताते हो ,
    बात बात मे तुम्हारी हवस् निकाल् ते हो ,..

    कभी कभी लगता है तुमसे प्यार
    करना हि मेरा गलती है ,
    जब मे मना करु तुम्हारी
    फरमाईस् को पुरा करने से
    तो मुझपर् गुस्सा दिखाते हो
    ओर खुद को टॉप बोलके अपना हवस् निकाल् ते हो ...

    उतार कर कपड़े मेरे से इश्क़ जताते हो
    जिस्म की प्यास को इश्क़ बताते हो ....

    प्यार मे तो लोग इज़्ज़त देते हैँ एक दूसरे को ,
    तुम तो गलियां देके मेरे सिर झुकाते हो ,
    तमन्ना जिस्म की ओर बात रूह की करते हो ,
    असल मे उसे हवस् कहते हैँ
    जिसे तुम लोग इश्क़ कहते हो ...

    @Zeetu Bagarty (aarish)
    Insta id- aarish_a_7
    #जिस्म-मानी प्यार
    #हवस्

  • kingofdarkness 26w

    #jism
    #jism wala pyar

    Read More

    जिस्म..

    भुलाकर जिस्म की भूख कोई,
    बाते दिलों की करेगा क्या?
    खूबसूरत नही हूँ शक्ल से ज़रा,
    बताओ किसी को चलेगा क्या?
    कभी वो सिमट जायें बाहों में मेरी,
    कभी मैं सिर रख दूँ काँधे पर
    उसके हवस के शहर में कहीं ना कहीं,
    मुझे कोई मुझ-सा मिलेगा क्या ?

    ©kingofdarkness

  • vy_thoughts 31w

    रिश्ते बनाने का
    मेरे यार में करतब है,

    फिर रिश्ता सिर्फ
    मेरे यार के लिए मतलब है,

    वो कहता नहीं
    पर
    मेरा यार मेरा या किसी और का
    तब है,

    जब
    पैसा ,प्यार , जिस्म , इज्जत , समय
    ,भरोसा

    लुटाने के लिए

    अगर ये सब है...!
    BY-VY "RAMA"











    ©vy_thoughts

  • brijesh_banarsi 33w

    Haiku(स्याही)

    लफ्ज़ थके हैं
    प्रेम ख़ामोश सा है
    शोर स्याही का
    ©stfl143

  • brijesh_banarsi 33w

    Haiku (प्रेम)

    प्रेम ना जानें
    प्रीत न देखे कोई
    जिस्म निहारे
    ©stfl143

  • ek__ehsaas 34w

    जिस्म

    प्यास बुझा कर जिस्म की एक महीने में मुंह फेर लेते हैं लोग,
    आजकल के प्यार में वर्षों का साथ ढूंढना व्यर्थ बात है।
    ©ek__ehsaas

  • ammy21 34w

    Jism se toh sabhi pyr krte
    Hai koi jo rooh se pyr kre ??
    ©ammy21

  • kb_write 36w

    .

  • soumen_sonu 37w

    लहज़ा

    तेरे घने बाल, तेरी खूबसूरत आंखें, तेरे मुलायम होंट,
    कोई बयां करेगा भी तो तेरा जिस्म बयां करेगा
    कोई न कह पाएगा तुझे,
    मेरे लहजे में।
    ©soumen_sonu

  • poetrani 41w

    शिखा

    एक दिन वो भी आयेगा जब दुनिया से विदा होंगें
    जो है बेजान अरसे से उस ज़िस्म से जुदा होंगें
    चलेंगे काफिले पीछे हम आगे बढ़ चुके होंगे
    तब शायद आओगे मिलने मगर मुलाकात न होगी

    ये जीवन तो चलेगा मीत पर शिखा साथ न होगी
    ©poetrani

  • soulvoice 41w

    जिसको आया था समझ वो समझ गया
    जिसको न समझ आया वो इस रासते में भटक गया
    तुम क्या कहते हो मोहब्बत मोहब्बत
    वो जिस्म तक आया था और बस जिस्म तक सिमट गया
    ©soulvoice

  • jenny_sherni_nk 41w

    हवस जिस्म की...

    सारा जहाँ लगा पड़ा है मेरी खूबसूरती के पीछे
    जिस्म के भूखें सुवर देखे है मैने ना जाने कितनी दफा

    क्या खूबसूरत होना मेरी गलती है या है एक सजा
    जिसे देखो हर कोई बस जिस्म के मोल में तोल गया

    गर होता पता कि सुंदर होना एक पाप है लड़की के लिए
    एक माँ कभी ना ऐसा पैदा करती बेटी को किसी हाल मे

    कहता रहा जमाना तू लड़की है ख़ुद को बदल लें यहाँ
    में क्यों बदलूँ ख़ुद को क्या मेरा सुंदर होना एक गुनाह है

    गर है बदलना किसी को तो जिस्म के भूखे सुवर को बदलो
    क्योंकी जिस्म तो मेरा भी उस सुवर की बहन के जैसा ही है
    ©jenny_sherni_nk

  • preranarathi 47w

    बाकी है।

    दिल तो टूट ही चुका है, बस साँसो का बिखरना बाकी है।
    रूह तो जुदा हो ही चुकी हैं, बस इस जिस्म का फना होना बाकी हैं।
    खुशीयाँ तो बहुत बाँट ली हमने, अब बस गुनाह कमाना बाकी है।
    उस खुदा को बहुत मान लिया, अब बेखुदाई करना बाकी है।
    वफा तो कर ली हमने, अब बेवफ़ाई करना बाकी है।
    बहा लिए आँखो से आंसू भी हमने, अंगारों का बरसना बाकी है।
    मोहब्बत तो कर ही ली हमने, अब नफरत का होना बाकी है।

    - प्रेरणा राठी
    ©preranarathi

  • akshay_aseem 48w

    रूह को भी रहने के लिए घर चाहिए,
    बात जिस्म की नहीं हमें हमसफ़र चाहिए

    आपको परमात्मा का दीदार करना है
    फिर इक काम कीजिए आप मर जाईये

    ©akshay_aseem

  • inoxorable 49w

    नए दौर का इश्क़

    नए दौर का इश्क़ कुछ यूँ है के
    इंसान कपड़ों से भी तेज महबूब बदल देता है
    ©inoxorable

  • arshidhsingh 49w

    सफर जिस्म तक का ��

    #arshidhsingh #arshidh #Miraquill #hindi #urdu #jism
    #quotes #like #follow

    Read More

    अर्शshidh

    वादा तो रूह तक का था,
    पर ना जाने क्यूँ
    वो बस जिस्म छू गया।

  • dard786 51w

    JISM KA KHARIDAR

    Pyaar karte hai log phir rula dete hai
    Ankh band hote hi mitti mein
    Sula dete hai
    Aur pyaar karta nahi koi jahan mein
    Har aam Shaqs ko duniya mein
    Saza dete hai
    Aur yaha har koi jism ka kharidar
    Nazar aata hai
    Phir log fhatwa bhi tawayaf ka
    Laga dete hai
    ©dard786