#elections

129 posts
  • imgarima 25w

    जिस नेता का लक्ष्य ही केवल दूसरों के ऊपर शासन करना है,
    ऐसे मूर्ख नेता को देश की जिम्मेदारी सौंपना भी खुद में सबसे बड़ी मूर्खता है...!!

    गरिमा प्रसाद
    ©imgarima

  • majhdhaar 30w

    The one true loser in these elections is the humanity.

    Aa was in the case of the kumbh mela, these elections too could have been postponed. But the players of this vicious game called 'politics', I.e. our great politicians (regardless of any political party affiliations) only saw personal gains.

    They kept telling everyone to 'stay home, stay safe' while they continued their rampant investments in the beyond doubt, super spreader rallies. That money could have helped numerous struggling due to the pandemic.

    The very people, who gathered in thousands to not just be part of the rallies but also to vote, are going to be left to suffer the aftermath of these events in form of blunderous spike in covid cases.

    Ironically the slogan "social distancing" was lost and forgotten among the war cries of the various politicians instigating "social gatherings".

    If left upto me, I'd be more than adament to charge all these politicians and political parties with attempt to murder, if not first degree murder.

    #elections #covid #politicalgains #murderers

    Read More

    Befizuul

    Just take a moment, calm down and ponder over the following questions objectively;

    1. Who actually emerged victorious from these elections?

    2. Who is the one true loser in these elections?
    ©majhdhaar

  • youcanenvisage 31w

    Don't regret for what you did in 2014!
    There's still time
    Next time vote for cartoon characters


    ©smriti_21

  • piyushalbus 32w

    कौन?

    ऐसे तो रह जाएगा मुल्क़ में सिर्फ़ भयानक सा मौन यारों,
    हमें शांति चाहिए,सन्नाटा नहीं,कहेगा शहंशाह से कौन यारों?

    ©piyushalbus

  • himanshibajpai 34w

    राजनीति

    देश की राजनीति से हमे फर्क पड़ता है।
    सरकार बनाने गिराने मे हमारा तर्क चलता है।

    भविष्य हमारे कर्म के साथ हमारे वोट से भी तय होता है।
    लेकिन हमारे देश में मतदाता का मत नोट से तय होता है।

    परिवारवाद सिर्फ फिल्मो में नहीं राजनीति मे भी खूब चलता है।
    विधायक का बेटा भावी विधायक की तरह पलता है।

    कभी देखा है आपने मंत्री का बेटा सरहदो पर जाता है।
    वहाँ से तो सिर्फ तिरंगे मे लिपटकर कर किसान का लाल आता है।

    यहाँ पहचान की सियासत गर्म है।
    चुनाव में चलता सिर्फ जाति और धर्म है।

    कानून अंधा है यहाँ ।
    जो शपथ ले रहा है नामचीन गुंडा है यहाँ।

    मुकदमे सालो साल चलते है।
    माननीय लोग रिश्वत लेकर माला माल रहते है।

    हमारे लिए परीक्षा हर मोड पर।
    खुद कुर्सी पे चढ़ते है सिर्फ हाथ जोड़ कर ।

    हमारे देश में अच्छाई भी है ये मै जानती हूँ।
    पर सुधार की जरूरत है ये मै मानती हूँ।

    देश की राजनीति से हमे फर्क पड़ता है।
    इनमें सुधार हमारा फ़र्ज बनता है।

    अपनी आवाज़ से आगाज करना है।
    आगे इस युवा पीढ़ी को ही राज करना है।

    ©himanshibajpai

  • himanshibajpai 36w

    नामकरण

    रिश्वत लेकर डकर जाने वालो को
    देशद्रोही कहा जाना चाहिए।

    सिर्फ चुनाव के समय नज़र आने वालो को
    ईद का चाँद कहा जाना चाहिए ।

    इन नेताओ के अंधभक्तो को,
    धृतराष्ट्र कहा जाना चाहिए ।

    कम्बल के बदले, वोट देने वालो को
    अज्ञानी कहा जाना चाहिए।

    सत्ता मे आने के बाद रंग बदलने वालो को
    गिरगिट कहा जाना चाहिए ।

    चाचा विधायक है हमारे कहने वालो को
    अभिमानी कहा जाना चाहिए।

    दो-चार नेताओ को छोड़कर और सभी को
    भ्रष्टाचार का पुजारी कहा जाना चाहिए।

    ©himanshibajpai

  • vakilankita 55w

    The White House

    Why cannot Trump enter the White House now?
    Because, the White House is for-Biden!
    ©vakilankita

  • mimi2235 56w

    Today is the US Election 2020. Gather your family, friends, and co-workers. My fellow Mirakeens, if you live in the battleground states, vote blue up and down the ballot! �� #elections #voteblue #bluetsunami #uselection

    Read More

    "Freedom"

    This is it. To free the "home of the brave" from a fascist-in-chief

    Your vote
    Your choice to unite the nation
    ©mimi2235

  • notapoetjustahuman 88w

    Politicians

    Oh I love politicians,
    Aren’t they like magicians?
    Fill you up with hope, wishes & ambitions,
    All while campaigning for their elections

    Magic they do by creating an illusion,
    Talking big and listening small,
    That’s called diffusion

    Suddenly, the smallest of issues become big,
    The bigger ones are obviously left for you to dig

    So, did Rapunzel really needed a wig?
    You think about that, while the magicians wrap up their gig.

  • sparklingteja 94w

    AAP

    Jhaadu

    ©sparklingteja

  • thehomelycurls 95w

    बेनाम महोल्ले के बड़े नामदार है हम,
    बेमानी करने में बहुत ईमानदार है हम,
    ऐसे करते है हम शब्दों की चोरी,
    की दोखेबाज़ी के ठेकेदार है हम...

    आपके प्यारे नेता है हम........





    ©thehomelycurls

  • pundir_abhishek 99w

    Elections

    Let's see who will screw us more.

  • jeitendra_sharma 105w

    भूक का बाज़ार

    न हिन्दू ख़तरे में न मुस्लिम
    भूख का कोई धर्म भी होता है क्या ||

    बंदर-बाँट है लूट सके जो लूट
    मस्त है यह धंधा पड़ता न कभी मंदा ||

    बैठे है चंद हुक्मरान करके वादे हज़ार
    नेतागिरी की चादर और सपनों की मज़ार ||

    कल पानी बिका आज बिक रही है फ़िज़ा की हवा
    फिर मरेंगे ग़रीब ख़ैर हमे क्या ?

    ठंडी-हवा ठण्ड में और गर्म-पानी गर्मी में
    न-न नेता की नहीं आम जनता की है कहानी ||

    भगवान फिर आया है धरती पे
    देख ज़रा कोई चुनाव है क्या ?

    डंडे से जो डरता है इंसान
    हाथ उसी के डंडा है दिया थाम ||

    फिर उड़ा आया बाज़ार में पैसे हज़ार
    भूके बैठे थे कुछ बच्चे यूँही बेज़ार ||

    ख़ुद का गम अब कम लगता है
    जब से लौटा हूँ उस बस्ती से इसबार ||

    गरीबों की बस्ती पे है बैठे
    कौन है ये सूटबूट पहने चौकीदार ||


    ©जितेंद्र_शर्मा
    जेकेएस

  • writer_babu 110w



    क्यूँ नर्म सा सियासतदानों का स्वभाव है आज,
    अच्छा अच्छा, शहर में चुनाव है आज ।

    ©logliner

  • sparklingteja 125w

    Democracy

    It's not the people who are electing the rulers but the capitalists

    ©sparklingteja

  • japanese_girl_hana 125w

    मोदी वापस आया..

    लोगो की एक लाइन थी
    उस लाइन में क्या शाइन थी!
    आएगा तो मोदी ही
    होना भी तो था ये ही!

    चौकीदार चोर है,
    उसका एक तोड़ है
    मैं भी चौकीदार फैला दुनिया में
    मोदी मशहूर हुआ  दुनिया में।

    पता था मोदी ही आएगा
    बस जानना था कितनी बहुमत लाएगा
    बहुमत की क्या बात करो,
    इनकी तो जय जय करो

    मोदी आया, मोदी आया
    कांग्रेस में सदमा छाया
    गठ बंधन तोड़ लाया
    वाह! वाह! मोदी आया!!

    गठ बंधन ने सोचा ,
    की थी हम ने पूरी नकल।
    जो उसने करा,
    दिखाई नहीं हमने अपनी असली शक्ल!
    रैली भी करी, रोड शो भी
    काम ना आया कुछ भी
    जादू क्या है ये मोदी जी
    क्या लगानी होगी आपकी शकल भी?
    आपके सारे काम हम ने
    बिल्कुल एक से किए है।
    नतीजे आपके पक्ष में,
    हमारे पक्ष में नहीं है,
    ऐसा क्यू है समझा दो भाई
    करले हम उसकी पूरी पढ़ाई
    अगले चुनाव में आपको हराकर
    ले जाएँ हम भी वाह वाही।


    मोदी जी वहीं से बोले
    छोड़ो अपना भला,
    दूसरो के बारे में सोचो
    खुद से ज्यादा अच्छा,
    होगा सपना तुम्हारा पूरा
    ना करनी पड़ेगी नकल
    असली बात ये है
    नकल के लिए चाहिए अकल!!

    ममता दीदी वहा से चीखी,
    ऎसे ही जीतेंगे,
    तुमसे ना सीखे कुछ भी
    ये याद रखेंगे।

    बात ये है ममता जी
    आप में अहंकार।
    आपके कारण पूरा
    गठ बंधन बेकार।

    कांग्रेस का हुआ बुरा हाल
    गठ बंधन भी पूरा बेहाल
    मोदी ने चली ऐसी चाल
    हो गया देश माला माल।!!



    चौकीदार प्योर है,
    कांग्रेस चोर है।

      
    Created by - - Priyanshi Agarwal
                            
    ©priyanshi_ag

  • ginsywilde 128w

    "Ascension"

    I cried
    as I watched the people's minds unfold
    telling the story I'd never want to be told
    I smelled blood on the hands of gods
    as the ascension to Parthenon began
    How did it come to this?
    How did we come to this?

    I cried even more
    as the cherubim blew the horn
    announcing the pardoning
    of criminals, thieves, and liars
    who neither repented nor recanted
    But we still bow down
    and called it "Zeus's Will"

    I cried
    as the numbers flashed before my eyes
    Demons partied in glorious lies
    Victory is theirs at last
    I watched
    as the flames of Hades burst before my eyes
    60 million people heading to their own demise
    Why did we come to this?
    Why did it come to this?

    Hope has fled the horizon
    Frail, beaten up and abandoned
    The dark days are here
    We will now only know the Face of Fear
    ©ginsywilde

    #Ascension #elections #philippines #eleksyon #eleksyon2019 #2019 #fear #love #disappointment #biblical #bible #demons #politics #democracy #asia #politicians #du30 #duterte @writersnetwork @mirakee @mirakeeworld

    Read More

    .

  • greatglorious 129w

    SUFFERING

    Sufferings!
    How I watch my people marginalized
    Sufferings!
    How men turn to cannibals and demi gods
    Eating and hurting their own.

    Oh ! true it is,
    Eniwari cried to me
    That they spit out their poisonous toxin upon us for truth bought.
    They shut the gate of fairness,
    Heralding the way of tumult.
    They trample on the rights of our aged mothers and fathers,
    Seizing and mocking the rights of the youths and their future

    Power tussle,
    Greedy ambitions exalted
    Elections now made a war zone
    Bitterness have they served the lives of many

    Sufferings!
    Lingering on the doors of every homes.
    Sufferings!
    Flowing down the river Nun.
    Sufferings!
    What a scheme!
    ©greatglorious

  • ginsywilde 129w

    Ascension

    I cried
    as I watched the people's minds unfold
    telling the story I'd never want to be told
    I smelled blood on the hands of gods
    as the ascension to Parthenon began
    How did it come to this?
    How did we come to this?

    I cried even more
    as the cherubim blew the horn
    announcing the pardoning
    of criminals, thieves, and liars
    who neither repented nor recanted
    But we still bow down
    and called it "Zeus's Will"

    I cried
    as the numbers flashed before my eyes
    Demons partied in glorious lies
    Victory is theirs at last
    I watched
    as the flames of Hades burst before my eyes
    60 million people heading to their own demise
    Why did we come to this?
    Why did it come to this?

    Hope has fled the horizon
    Frail, beaten up and abandoned
    The dark days are here
    We will now only know the Face of Fear
    ©ginsywilde

  • killer_chakri 130w

    Vote

    Cast your vote, but don't vote for your caste
    ©killerchakri