#dadsanddaugters

1 posts
  • thakuraain 55w

    ख़्वाहिशें कुछ ऐसी हैं...
    कि दे जाऊ इस चेहरे पर मुस्कराहट,
    हर एक पल को जीने की चाहत,

    सजा दू सुंदर पलों से यादों के बाग़
    तेरी लय पर बैठें वोह सारे राग|
    सुन री बिटिया, यह तेरा है जहां प्यारा
    पर तू है मेरा जहां सारा..

    ख्वाहिशें कुछ ऐसी हैं...
    जाना जाऊँ तेरे नाम से ओह री गुड़िया,
    कल ही तोह तूने उड़ान भरी थी..
    और आज उड़ भी गई कोसों दूर मेरी चिड़िया..

    तुझे रोका नहीं कभी ना कभी रोकूंगा,
    तेरी याद आई तो बस ज़रा सा रो लूंगा।
    यह। तेरा सफर है तुझे ही पूरा करना है,
    पर मैं चुपके से एक पोटली प्यार की भेज दिया करूंगा।

    जिस दिशा को तू जाए, जीत का परचम लहराए,
    और जो ना हो ऐसा, कुछ नया सीख कर ज़रूर आए
    ख़्वाहिशें कुछ ऐसी हैं...

    ©thakuraain